नमस्कार मित्रो आज हम आपको Thekedar Kaise Bane इसके बारे में बताने वाले है अक्सर कई लोगो का सपना होता है की वो ठेकेदार बने और अच्छी कमाई कर सके व इसके लिए कई लोग रात मेहनत भी करते है वही बहुत से लोगो को ठेकेदार कैसे बनते है इसकी जानकारी न होने के कारण वो इस क्षेत्र में अपना कैरियर नहीं बना पाते.

Thekedar Kaise Bane

हाल में इस ज्यादातर लोग इस क्षेत्र में काम करने लगे है जिसके कारण इस क्षेत्र में कोम्पिटेशन भी बहुत ही अधिक बढ़ गया है अगर आपको इस क्षेत्र में काम करना है तो इसके लिए आपको कड़ी मेहनत और सही रणनीति के साथ काम करना होगा तभी आप एक बड़े ठेकेदार बन सकते है आप Thekedar Kaise Bane इस आर्टिकल को ध्यान से पढ़े ताकि आपको हमारी बताई जानकारी अच्छे से समझ में आ सके.

Thekedar Kaise Bane

ठेकेदार को कांट्रेक्टर भी कहा जाता है व यह उस कंपनी आदि को कहा जाता है जो किसी भी इमारत, घर, सड़क आदि को ठेके पर लेते है और उसे पूरा बनाकर देते है इसके बदले उन्हें सरकार या प्रोपर्टी मालिक से निश्चित राशि दी जाती है ठेकेदार किसी भी चीज का निर्माण करने के साथ ही किसी चीज की मरम्मत करने का कार्य भी करते है.

ठेकेदार आम लोगो के, प्राइवेट कंपनी के एवं सरकारी कंपनी आदि भी ठेके लेते है व यह कार्य करने से पहले उसकी लागत राशि बता देते है इसके बाद मालिक द्वारा अनुमति देने पर यह अपना काम शुरू कर देते है इसमें बेहद भी सावधानी बरतनी होती है कई बार सही लागत अनुमान न लगा पाने से ठेकेदार को घर के पैसे भरकर भी काम को पूरा करना पड़ जाता है.

ठेकेदार बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता

अगर आप ठेकेदार बनना चाहते है तो इसके लिए कोई विशेष शैक्षणिक योग्यता की जरुरत नहीं पड़ती पर अगर आपने अधिक पढाई की हुई है तो आपके लिए अधिक बेहतर साबित हो सकता है एवं इससे आपको अपने बिजनेस को बढाने में भी मदद मिलेगी इसके लिए निम्न तरह की शैक्षणिक योग्यता होनी चाहिए.

  • 10वीं पास
  • 12वीं पास
  • ग्रेजुएट
  • सिविल डिप्लोमा होल्डर
  • सिविल इंजीनियर

ठेकेदार कितने प्रकार के होते है

सामान्यत ठेकेदार 4 प्रकार के होते है इन्हें इनके कार्य के अनुसार अलग अलग ग्रेड दिया जाता है जो निम्न प्रकार से है.

  • ए ग्रेड ठेकेदार
  • बी ग्रेड ठेकेदार
  • सी ग्रेड ठेकेदार
  • डी ग्रेड ठेकेदार

इसमें ग्रेड ए के ठेकेदार सबसे ऊँची पोस्ट के ठेकेदार माने जाते है व इसके बाद ग्रेड बी के ठेकेदार आते है इनके निचे ग्रेड सी के ठेकेदार आते है एवं अंत में सबसे निचे ग्रेड डी के ठेकेदार आते है.

आप ठेकेदारी करना चाहते है तो आपको सबसे पहले इसका लाइसेंस बनवाना होता है व जब आपका लाइसेंस बनाया जाता है तब आप डी ग्रेड के ठेकेदार होते है इसके बाद आपके कार्य के आधार पर आपका ग्रेड बढ़ता रहता है और आप बहुत ही अच्छा काम करते है तो आप पहले ग्रेड में भी आ सकते है.

ठेकेदार बनने के लिए क्या जरुरी है

ठेकेदार बनने के लिए सबसे पहले तो आपका पढ़ा लिखा होगा जरूरी है क्युकी आप अच्छे पढ़े लिखे होगे तो आप किसी भी चीज का सही भाव और नाप तोल कर पायेगे जिससे आपका बिजनेस भी बढेगा और आपको नुकसान भी नही होगा एवं आपको ठेकेदारी में कागजाद से जुडा आम भी करना होता है इसके लिए आपका पढ़ा लिखा होना आवश्यक है.

इसके साथ ही ध्यान रखे की आपके ऊपर किसी प्रकार का कानूनी केस बना हुआ नही होना चाहिए क्युकी हाल में लोग ऐसे ठेकेदार को ही काम देते है जिसका बैकग्राउंड एकदम क्लियर हो और उसका कोई कोई क्रिमिनल रिकॉर्ड न हो.

जब आप यह सभी योग्यता पूरी कर लेते है तो इसके बाद आता है इसका मुख्य पड़ाव जिसमे आपको कुछ वर्षो तक अन्य ठेकेदार के साथ काम करके ठेकेदारी सीखनी होगी क्युकी जब तक आप ठेकेदारी नही सीखेगे तब तक आप इस काम को सही तरीके से नहीं कर पायेगे इसके लिए आप चाहे सिविल डिप्लोमा या सिविल इंजीनियरिंग भी कर सकते है जिसमे आपको इससे जुडी पूरी जानकारी सिखने को मिल जाएगी.

ठेकेदार के लिए आवश्यक कौशल

आपको ठेकेदार बनने के लिए कुछ आवश्यक कौशल की जरुरत पड़ती है उसके आधार पर ही आप इस काम को कर सकते है इसके लिए आपके अन्दर निम्न तरह की क्वालिटी होनी चाहिए.

  • आपके अन्दर टेक्निकल क्षमता का होना आवश्यक है.
  • ठेकेदार के पास दिए गये समय तक काम पूरा करने की क्षमता होनी चाहिए.
  • ठेकेदार बनने के लिए आपको वातावरण के अनुसार काम करने की हुनर होनी चाहिए.
  • आपको हेल्थ, सिक्योरिटी और निर्माण आदि से जुडी जानकारी होनी चाहिए.
  • किसी भी समस्या का समाधान निकालने की हुनर होनी चाहिए.
  • लोगो से बात करने का सही तरीका पता होना चाहिए.
  • लेबर से काम करवाने का हुनर होना चाहिए.

आपके अंदर यह सभी गुण होने चाहिए तभी आप इस क्षेत्र में काम कर सकते है और एक ठेकेदार के रूप में अपना बेहतरीन भविष्य बना सकते है.

ठेकेदार का लाइसेंस कैसे प्राप्त करें

सभी इंस्टिट्यूट में ठेकेदार को लाइसेंस देने के लिए अलग अलग नियम कानून होते है व इसके लिए आपको कुछ दस्तावेज भी देने होते है जो निम्न प्रकार से है.

  • टिन नंबर होने चाहिए
  • कम से कम 5 शपथ पत्र होने चाहिए
  • 5000/- रूपए की रजिस्ट्रेशन फीस होनी चाहिए
  • आधार कार्ड और अन्य दस्तावेज

अगर आपके पास यह सभी दस्तावेज है तो इसके बाद आप ठेकेदारी के लाइसेंस के लिए आवेदन कर सकते है और एक ठेकेदार के रूप में अपना काम कर सकते है.

ठेका कैसे प्राप्त करें

ठेका दो तरह से  प्राप्त होता है पहला तो प्राइवेट और दूसरा होता है सरकारी ठेका तो जो प्राइवेट ठेका होता है वो आपको आपकी पहचान से या आपके परिवार या रिस्तेदार या दोस्तों आदि से प्राप्त होता है वही जो सरकारी ठेकेदार होते है उसमे सरकार के द्वारा समय समय पर टैंडर निकाले जाते है आपको उसमें टैंडर भरना होता  है टैंडर भरने की प्रक्रिया ऑनलाइन होती है व बादमे एक निश्चित बोली लगाई जाती है उसमे जिस ठेकेदार की बोली टैंडर समिति को सही लगती है उसे वो ठेका दिया जाता है इस तरह से आपको सरकारी ठेका प्राप्त होता है.

ठेकेदार की कमाई

ठेकेदार खुद का बिजनेस करता है और खुद किसी भी ठेके या टैंडर को लेता है इसलिए इसका कोई वेतन नहीं होता पर ठेकेदार जो काम लेता है उसमे उसकी बहुत ही अच्छी कमाई हो जाती है वही बहुत सी कंपनी भी होती है जो काम के लिए ठेकेदार रखती है उसमे आपको कंपनी के नियामनुसार वेतन दिया जाता है व कंपनी द्वारा ठेकेदार को काफी अच्छा वेतन दिया जाता है जो की शुरुआत में 40 हजार से लेकर 80 हजार तक हो सकता है व समय के साथ उनका वेतन बढ़ता रहता है.

ठेकेदारी में कैरियर के विकल्प

ठेकेदार के काम में कॉम्पिटिशन बहुत ही ज्यादा होता है क्युकी हाल में कई कंपनी और कई लोग इस क्षेत्र में  काम कर रहे है ऐसे में आपको अपना नाम बनाने के लिए शुरुआत में काफी मेहनत करनी होगी और काफी समझदारी से काम करना होगा ताकि आपका अच्छा नाम बन जाये.

इसके अलावा भविष्य में इस क्षेत्र को लेकर बात की जाये तो आपने वाले 100 से अधिक वर्षो तक इस काम में कभी भी मंदी नहीं आएगी क्युकी आज के समय में हर व्यक्ति कुछ न कुछ निर्माण करवाना चाहता है और निर्माण का कार्य बेहद ही तेजी से बढ़ता जा रहा है ऐसे में आने वाले समय में इनका कार्य और अधिक गति से बढ़ने की संभावना है.

Calculation – इस आर्टिकल में हमने आपको Thekedar Kaise Bane इसके बारे में जानकारी दी है हमे उम्मीद है आपको हमारी बताई जानकारी उपयोगी लगी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें और इससे जुड़ा किसी भी तरह का सवाल आदि पूछना चाहे तो आप हमे कमेंट करके भी बता सकते है.

पिछला लेखContent Writer Kaise Bane : कंटेंट राइटर कैसे बनते है
अगला लेखMahamrityunjay Mantra in Hindi : महामृत्युंजय मन्त्र क्या है

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें