नमस्कार मित्रो आज हम आपको Stenographer Kaise Bane इसके बारे में बताने वाले है अक्सर आप सभी ने कई बार Stenographer के बारे में तो कई बार सुना होगा एवं पढ़ा होगा ऐसे में कई लोगो के मन में आता है की हम भी एक स्टेनोग्राफर के रूप में अपना कैरियर कैसे बना सकते है तो इसकी पूरी जानकारी हम आपको इस आर्टिकल में बताने वाले है.

Stenographer Kaise Bane

भारत में बेरोजगारी की बहुत ही बड़ी समस्या है व ऐसे में लोगो को जो भी नौकरी मिलती है वो उसमे अपना कैरियर बनाने की कोशिश करते है पर अगर आप थोड़ी सी मेहनत करेगे तो आप अपनी पसंद की नौकरी भी मिल सकती है इसके साथ ही जिन लोगो का सपना स्टेनोग्राफर बनने का है वो Stenographer Kaise Bane आर्टिकल को ध्यान से पढ़े ताकि आपको इसके बारे में पूरी जानकारी प्राप्त हो सके.

Stenographer Kaise Bane

आप स्टेनोग्राफर बनना चाहते है तो पहले आपको इसके बारे में पता होना चाहिए की आखिर स्टेनोग्राफर होता क्या है तो इसे आशुलिपि भी कहा जाता है एवं इसमें आपको टाइपिंग से जुड़ा कार्य करना होता है.

आपने देखा होगा की सरकारी कार्यालय, अदालत, कॉलेज आदि में किसी भी तरह की बातचीत होती है तो उसको टाइपराइटर या कंप्यूटर की मदद से बहुत ही तेज गति से टाइप किया जाता है जो इन सब को टाइप करता है वो स्टेनोग्राफर कहलाता है हाल में इस क्षेत्र में कैरियर के कई अलग अलग बेहतरीन विकल्प होते है व इसमें आपको आसानी से जॉब मिल सकती है.

स्टेनोग्राफर बनने के लिए शैक्षिक योग्यता

इस पद पर आवेदन करने के लिए आपका किसी भी मान्यताप्राप्त विधालय से बाहरवी उतीर्ण होना जरुरी है इसके साथ ही आपके पास एक वर्ष का डिप्लोमा सर्टिफिकेट होना अवशयक है एवं यह भर्ती 2 ग्रेड में होती है जिसमे से सी और डी ग्रेड होता है इसमें बाहरवी और ग्रेजुएशन की शैक्षणिक योग्यता रखी जाती है.

अगर आपको सी ग्रेड पर नौकरी पाना चाहते है तो आपका स्नातक उतीर्ण होना चाहिए और अगर आप डी ग्रेड पर नौकरी पाना चाहते है तो आपका बाहरवी उतीर्ण होना अनिवार्य है.

स्टेनोग्राफर बनने के लिए उम्र सीमा

स्टेनोग्राफर में आवेदन करने लिए आपकी न्यूनतम उम्र 18 वर्ष एवं अधिकतम उम्र 30 वर्ष तक होनी चाहिए एवं अगर आप डी ग्रेड में आवेदन करना चाहते है तो इसके लिए आपकी न्यूनतम उम्र 18 वर्ष एवं अधिकतम उम्र 27 वर्ष तक होनी आवश्यक है इसके साथ ही आरक्षित वर्गों को उम्र में नियमानुसार छुट देने का भी प्रावधान होता है.

स्टेनोग्राफर बनने का तरीका

आपको स्टेनोग्राफर बनने के लिए कुछ प्रोसेस को ध्यान में रखना होता है इन बातो को अगर आप ध्यान में रखेगे तो आपको इस पद पर नौकरी प्राप्त करने में आसानी होगी.

प्रथम चरण –  इसमें सबसे पहले आपको टाइपिंग सीखनी होगी और इसके लिए आप चाहे तो किसी भी पॉलिटेक्निक या आईटीआई संस्थान में प्रवेश ले सकते है व यहाँ से आपटाइपिंग करना सीख सकते है.

द्वितीय चरण – जब आप टाइपिंग सीख जाते है तो इसके बाद आपको टाइपिंग स्पीड को बढ़ाना होता है आपकी टाइपिंग स्पीड हिंदी में 80 शब्द प्रति मिनिट और अंग्रेजी में 80 शब्द प्रति मिनिट की स्पीड होनी चाहिए तभी आपका चयन स्टेनोग्राफर के लिए हो सकता है.

स्टेनोग्राफर की चयन प्रक्रिया

जब भी इसकी विज्ञप्ति जारी होती है तो सबसे पहले तो आपको उसमे आवेदन करना होता है इसकी विज्ञप्ति की जानकारी आप सोशल मीडिया, समाचार पत्र, इन्टरनेट आदि के द्वारा प्राप्त कर सकते है व इसमें आवेदन करने के बाद आपको निम्न चयन प्रक्रिया से गुजरना होता है.

लिखित परीक्षा – आवेदन करने के बाद सबसे पहले आपको लिखित परीक्षा देनी होती है इसमें सभी आवेदन करने वाले उम्मीदवार शामिल होते है व इसमें हिंदी, गणित, विज्ञान, रीजनिंग, जनरल नोर्लेज और जनरल इंग्लिश से जुड़े सवाल पूछे जाते है.

टाइपिंग टेस्ट – अब आप लिखित परीक्षा में सफल हो जाते है तो इसके बाद आपको टाइपिंग टेस्ट आदि के लिए बुलाया जाता हैं उसमे आपकी टाइपिंग स्पीड आदि के बारे देखा जाता है और उसके आधार पर आपको अंक दिए जाते है.

अंत में एक मेरिट बनती है उसमे आपके अंको के आधार पर आपका चयन स्टेनोग्राफर पद के लिए किया जाता है इस तरह से आप एक स्टेनोग्राफर की नौकरी प्राप्त कर सकते है.

स्टेनोग्राफर का वेतन

अलग अलग ग्रेड के स्टेनोग्राफर को अलग अलग वेतन दिया जाता है डी ग्रेड के स्टेनोग्राफर को मासिक वेतन 5200 से लेकर 20200 तक का दिया जाता है वही सी ग्रेड के स्टेनोग्राफर को मासिक वेतन 9300 से 38800 रूपए तक का दिया जाता है एवं अलग अलग क्षेत्र में इस पद का वेतन अलग अलग भी हो सकता है.

Stenographer FAQ

स्टेनोग्राफर का काम क्या है?

स्टेनोग्राफर का मुख्य काम टाइपिंग से जुडा है व इन्हें टाइपराइटर अथवा कंप्यूटर के ऊपर कार्य करना होता है इसके लिए आपको कंप्यूटर की बेसिक जानकारी होनी चहिये

स्टेनोग्राफर किस क्षेत्र की जॉब है?

अक्सर कई लोग सोचते होगे की यह किस क्षेत्र की जॉब है तो हम आपको बता दे की यह जॉब कई क्षेत्र में हो सकती है जैसे की बैंक में, सरकारी कार्यालय में, कॉलेज में, मंत्रालय में, अदालत में, पुलिस स्टेशन आदि में

स्टेनोग्राफर के लिए टाइपिंग कहा से सीखे?

इसके लिए आपको कोर्स की जरुरत पड़ती है आप स्टेनोग्राफर का कोर्स कर सकते है उसमे आपको टाइपिंग के बारे में सब कुछ सिखने के लिए मिल जाता है

स्टेनोग्राफर के लिए कितने समय में टाइपिंग सीख सकते है?

इस कोर्स की अवधि करीब एक साल तक की होती है व इसमें आपको फ़ास्ट टाइपिंग सिखने में करीब 3 से 4 माह तक का समय लग सकता है व कई लोगो को इसके लिए अधिक समय भी लगता है

क्या बिना टाइपिंग सीखे के स्टेनोग्राफर बन सकते है?

अक्सर कई लोग सोचते है की अगर हम टाइपिंग नहीं सीखते या हमारी टाइपिंग बहुत स्लो है तो भी हम स्टेनोग्राफर बन सकते है तो हमारा यही जवाब है की नहीं आप बिना टाइपिंग सीखे कभी भी स्टेनोग्राफर नही बन सकते इसके लिए आपको टाइपिंग का अनुभव होना अनिवार्य है

Calculation – इस आर्टिकल में हमने आपको Stenographer Kaise Bane इसके बारे में जानकारी दी है हमे उम्मीद है आपको हमारी बताई जानकारी उपयोगी लगी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर जरुर करें और इससे जुडा किसी भी तरह का सवाल पूछना चाहे तो आप हमे कमेंट करके बता सकते है.

पिछला लेखATM मशीन कैसे लगाए व एटीएम मशीन के लिए आवेदन कैसे करें
अगला लेखJio Phone में Data Balance और ऑफर कैसे देखते है
मै रघुवीर चारण PMO Yojana का संस्थापक हूँ हमें लेख लिखना व किताब पढ़ना बेहद पसंद है है हम शिक्षा, कंप्यूटर, मोबाइल, सरकारी नौकरी, नई योजनाओं व इस प्रकार की अन्य कई जानकारी इस Website पर लिखते है

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें