नमस्कार मित्रो आज हम आपको PWD Full Form के बारे में बताने वाले है अक्सर आपने कई बार PWD के बारे में सुना होगा लेकिन कई लोगो को इसके बारे में पता होता है की आखिर यह होता क्या है और इसका काम क्या होता है तो इस आर्टिकल में हम आपको PWD के बारे में विस्तृत रूप से बताने वाले है ताकि आपको PWD जुडी पूरी जानकारी आसानी से प्राप्त हो सके.

PWD Full Form

हर एक व्यक्ति को PWD की जानकारी होनी बेहद ही आवश्यक है क्युकी भविष्य में इस तरह की जानकारी आपके लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद साबित हो सकती है इसके लिए आपको PWD किसे कहते है, इसमें नौकरी कैसे प्राप्त करे एवं इसके कार्य क्या होते है इसके बारे में पता होना चाहिए इसके बारे में जानने के लिए आप PWD Full Form क्या है आर्टिकल को ध्यान से पढ़े.

PWD Full Form in Hindi

PWD क्या होता हैं इसके बारे में बताने से पहले हम आपको इसका पूरा नाम क्या होता हैं इसे बारे में बता रहे हैं ताकि आपको PWD का हिंदी और अंग्रेजी में पूरा नाम पता चल सके.

PWD Full Form – Public Works Department

इसे हिन्दी में लोक निर्माण विभाग भी कहते हैं ये एक‌ Govt Department होता हैं व‌ इसका मुख्य कार्य सड़क निर्माण, बिल्डिंग निर्माण, ब्रिज आदि का निर्माण जैसे‌ कार्य करना होता है। PWD राज्य स्तर पर कार्य करता हैं.

PWD शहर को शुद्ध पानी उपलब्ध कराता हैं व अगर शहर मे कहीं पानी के पाइप आदि फट जाये तो उसकी मरम्मत आदि कराना व सडक व विधालय, अस्पताल, बिल्डिंग आदि की मरम्मत कराना व  नवनिर्माण आदि का कार्य करना होता हैं.

PWD क्या है

PWD एक Government Organization हैं जो की राज्य सरकार के अंतर्गत काम करता हैं और प्रत्येक शहर में PWD के अलग अलग कार्यालय होते हैं   जो की उस शहर में पानी, बिल्डिंग, निर्माण व मरम्मत अदि का कार्य करते है.

जनता से सम्बंधित कोई भी कंट्रक्शन का काम होता हैं तो वो इनके द्वारा ही किया जाता हैं इसमें पाइपलाइन के कार्य से सरकारी अस्पताल का निमार्ण या विधालय अदि के निर्माण तक के छोटे बड़े कार्य इसके द्वारा किये जाते हैं.

PWD के‌ कार्य

PWD के कई सारे कार्य होते हैं जैसे की सरकार के अंतर्गत आने वाले‌ सडक, भवन, पानी की सुविधा, विधालय अस्पताल आदि की मरम्मत आदि कराना‌ जैसे कार्य होते हैं.

  • पेयजल व्यवस्था करना
  • पुलों का निर्माण
  • सरकारी बिल्डिंग बनाना व मरम्मत करना
  • रोड निर्माण करना और मरम्मत करवाना

इस तरह से PWD के आयारे के कई तरह के कार्य आते है इनका कार्य मुख्य रूप से निर्माण करना एवं क्षतिग्रस्त सरकारी भवन आदि की मरम्मत करना होता है इसके साथ ही अपने क्षेत्र में आवश्यक सुविधाए उपलब्ध करवाना भी इनका मुख्य काम होता है.

पेयजल व्यवस्था करना

अक्सर गावों या शहरों में आये दिन पानी की समस्या होती रहती हैं कई बार तो लोगो के पिने तक का पानी नहीं होता तो ऐसे में लोगो के लिए पानी की व्यवस्था करना इनका ही कार्य होता है.

शहर के सभी क्षेत्रों मे पेयजल उपलब्ध कराना  व अगर शहर मे कही पर पानी की पाइप लाइन फट जाये तो उसकी मरम्मत आदि कराना PWD का ही कार्य होता है.

सरकारी बिल्डिंग

शहर मे कही सरकारी बिल्डिंग का निर्माण करना व सरकारी बिल्डिंग की मरम्मत आदि कराना PWD का कार्य होता हैं ये विधालय व अस्पताल आदि की आरम्भ का कार्य भी कराते हैं.

अगर कोई अस्पताल का या विधालय आदि  का निर्माण हो रहा हो या किसी पुरानी सरकारी बिल्डिंग का निर्माण हो रहा हो तो वो सभी कार्य PWD के अंतर्गत आता हैं.

रोड निर्माण

ये समस्या आपको सभी जगह पर देखने को मिल जायेगी की  गांव व शहरों में बहुत सी टूटी हुई सड़के हैं जिससे कई लोगो  को इससे बहुत सी परेशानी का सामना करना पड़ता है.

शहर मे‌ नये सडक का निर्माण करना व कही पर सडक टुट जाये तो उसकी मरम्मत कराना व सड़क आदि की देखरेख करने का कार्य PWD का ही होता है.

पुलों का निर्माण

अपने क्षेत्र के अन्तर्गत आवश्यकतानुसार पुलों का निर्माण आदि कराना व कही पर पुल दुर्घटनाग्रस्त हो जाने पर उसकी मरम्मत आदि करना इसका मुख्य कार्य होता हैं.

यह सभी कार्य PWD के दायरे में आते हैं व इसके अलावा भी कई सारे अन्य अलग अलग कार्य हैं जो इनको करने होते हैं पर हमने आपको बताये हैं वो इनके मुख्य कार्य होते हैं जिनके बारे में आपको जानकारी होनी बेहद आवश्यक है.

PWD अधिकारी बनने के लिए योग्यता

अगर आपको PWD अधिकारी बनना है तो इसके लिए आपको बहरावी के बाद इंजीनियरिंग फिल्ड का चुनाव करना होगा इसके लिए आप कई अलग अलग प्रकार के इंजीनियरिंग कोर्स में डिग्री प्राप्त कर सकते है जैसे की बीटेक, डिप्लोमा आदि.

जब आप किसी भी मान्यताप्राप्त विश्विधालय से इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त कर लेते है तो उसके बाद आप PWD में जॉब के लिए आवेदन कर सकते है और इस क्षेत्र में अपना कैरियर बना सकते है.

PWD अधिकारी बनने के लिए उम्र सीमा

अगर आपको PWD अधिकारी बनना है तो इसके लिए आपकी उम्र न्यूनतम 21 वर्ष एवं अधिकतम 35 वर्ष तक होनी आवश्यक है एवं आरक्षित वर्गों को उम्र में नियमानुसार छुट देने का भी प्रावधान होता है.

PWD में आवेदन कैसे करें

आपको PWD अधिकारी बनने के लिए सबसे पहले इसमें आवेदन करना जरुरी है व इसकी भर्ती कब निकाती जाती है इसकी जानकारी आप इसकी अधिकारिक वेबसाइट, सोशल मीडिया, इन्टरनेट, समाचार पत्र, रोजगार समाचार आदि के माध्यम से प्राप्त कर सकते है व जब भी इसकी विज्ञप्ति जारी होती है तो आप अपने आवश्यक दस्तावेजो के साथ इसमें आवेदन कर सकते है.

PWD अधिकारी की चयन प्रक्रिया

जब आप PWD अधिकारी बनने के लिए आवेदन करते है तो इसके बाद सबसे पहले आपको इसकी चयन प्रक्रिया से गुजरना होता है इसकी चयन प्रक्रिया से गुजरने के बाद ही आप एक PWD अधिकारी के रूप में अपना कैरियर बना सकते है इसके लिए आपको निम्न चरणों को क्लियर करना होगा.

प्रारंभिक परीक्षा – जब आप इस पोस्ट के लिए आवेदन करते है तो सबसे पहले आपको प्रारंभिक परीक्षा देनी होती है यह आपकी 100 अंको की परीक्षा होती है व इस परीक्षा में सभी आवेदनकर्ता शामिल होते है इस परीक्षा में सफल होने के बाद ही आप अगले चरण में जा सकते है इसलिए इस परीक्षा की तयारी अच्छे से करनी चाहिए.

मुख्य परीक्षा – जब आपकी प्रारंभिक परीक्षा उतीर्ण हो जाती है तो इसके बाद आपको मुख्य परीक्षा के लिए बुलाया जाता है इसमें केवल वो ही कैंडिडेट हिस्सा लेते है जिन्होंने प्रारंभिक परीक्षा को उतीर्ण कर लिया हो व इस परीक्षा में सफल होने के लिए आपको काफी ज्यादा मेहनत करनी होगी तभी आप इस परीक्षा में सफल हो पायेगे.

इंटरव्यू – आप लिखित परीक्षा को क्लियर कर लेगे तो इसके बाद आपको इंटरव्यू के लिए बुलाया जायेगा इसमें आपको एक पेनल के सामने इंटरव्यू देना होता है व इसमें आपकी योग्यता और पर्सनालिटी को ध्यान में रखते हुए आपको अंक प्रदान किये जाते है.

आप जब दिनों चरणो को क्लियर कर लेते है तो इसके बाद एक मेरिट जारी होती है उसमे सभी कैंडिडेट को प्राप्त अंको के आधार पर उन्हें अलग अगल रैंक दी जाती है व इसके बाद उन्हें ट्रेनिंग के लिए भेजा जाता है जब उनकी ट्रेनिंग पूरी हो जाती है तो इसके बाद उन्हें सम्बंधित पोस्ट पर नियुक्ति दी जाती है.

PWD के अंतर्गत आने वाले पद

PWD में कई अलग अलग तरह के पद होते है जिसके बारे में जानकारी होना हर व्यक्ति के लिए बेहद ही अहम् है हम आपको कुछ पदों के नाम बता रहे है जो PWD के अंतर्गत आते है.

  • Engineer in chief
  • Chief Engineer
  • Superintendent Engineer
  • Executive Engineer
  • Assistant Engineer
  • Junior Engineer
  • Director
  • Deputy Director
  • Chief Architect
  • Assistance Architect
  • Assistance Geologist
  • Assistant Research Officer

निम्न प्रकार से PWD में अलग अलग तरह की पोस्ट होती है व इसमें सबसे बड़ी पोस्ट इंजिनियर इन चीफ की होती है उसके बाद दुसरे नंबर पर चीफ इंजिनियर का पद आता है.

PWD अधिकारी का वेतन

अगर PWD अधिकारी के वेतन की बात करे तो इनका वेतन शुरुआत में 50 हजार रूपए से लेकर 80 हजार रूपए तक होता है व धीरे धीरे इनका वेतन बढ़ता रहता है वही विदेश की बात करें तो विदेश में इन्हें 2 लाख रूपए से लेकर 5 लाख रूपए तक का वेतन दिया जा सकता है व इसके साथ ही पीएफ, बीमा, आवास जैसी कई तरह की सुविधाए आदि भी प्रदान की जाती है.

PWD की तयारी कैसे करें

आपको PWD में नौकरी करनी है या आपको PWD officer बनना है तो इसके लिए आपको बेहतरीन तरीके से तैयारी करनी भी जरुरी है जब तक आप इसकी अच्छे से तयारी नही करेगे तब तक आप इस पोस्ट पर नौकरी प्राप्त नही कर पायेगे हम आपको कुछ बेहतरीन तरीके बता रहे है जिन्हें अपनाकर आप इसकी अच्छे से तयारी कर सकते है.

टाइम टेबल बनाकर पढ़े

आपको एक बात ध्यान रखनी चाहिए की जब तक आप टाइम टेबल बनाकर नही पढ़ते तब तक आप अच्छे से एग्जाम की तयारी नही कर पायेगे एवं जैसे ही आप अपना अच्छा सा परफेक्ट टाइम टेबल बना लेते है और उसके आधार पर आप पढाई करना शुरू कर देते है तो इसके बाद  आपको काफी अच्छे रिजल्ट दिखने शुरू हो जाते है और आप परीक्षा की तैयारी काफी अच्छे तरीके से कर सकते है इसलिए हमेशा आपको टाइम टेबल बनाकर ही पढना चाहिए.

नोट्स बनाकर पढ़े

आप कुछ भी पढना चाहते है या याद करना चाहते है तो इसके लिए पहले आप उन सवालों के नोट्स अपने हाथो से बना ले और हर सवाल को अपनी भाषा में आसान तरीके से लिखने का प्रयत्न करे ताकि आप आसानी से अपने सवालों को याद कर सके और आपने नोट्स बनाये है वो आपको समझ में आ सके.

अगर आप खुद के हाथो से नोट्स बनाकर उसके आधार पर पढ़ाई करना शुरू कर देते है तो इसके बाद आपको काफी अच्छा रिजल्ट मिलने शुरू हो जायेगा व आप खुद महसूस करेगे की पहले की तुलना में आपको काफी आसानी से और काफी जल्दी हर सवाल याद होने लग जायेगे.

पुराने प्रश्न पत्र देखे

किसी भी परीक्षा की तयारी करने के लिए उसके पुराने प्रश्न पत्र काफी ज्यादा महत्वपूर्ण होते है इससे आपको यह पता चल जाता है की परीक्षा में किस प्रकार के सवाल पूछे जायेगे व आपको उनके जवाब किस तरह से देने है एवं परीक्षा का पेपर कितने अंको का होगा व परीक्षा का समय कितना होगा इस तरह से आपको कई उपयोगी जानकारी पुराने प्रश्न पत्र से प्राप्त हो जाती है.

इसलिए आपको परीक्षा की तयारी के लिए पुराने प्रश्न पत्र देखने बेहद ही जरुरी है यह पुराने प्रश्न पत्र आप किसी बुक्स डेपो से या ऑनलाइन भी खरीद सकते है और इसके बाद आप इन प्रश्न पत्र को पढ़ सकते है.

हर सब्जेक्ट की अलग बुक्स रखे

आपको पता होगा की ज्यादातर लोग इस कारण से परीक्षा में असफल हो जाते है क्युकी वो एक ही book से पूरी परीक्षा की तयारी करने की सोचते है जबकी परीक्षा में कई तरह के सब्जेक्ट होगे व इसका सेलेबस भी काफी बड़ा होता है जो एक किताब में समाना काफी मुश्किल होता है इस कारण से अगर आप एक बुक से पढाई करेगे तो आप परीक्षा की तयारी इतने अच्छे तरीके से नही कर पायेगे.

अगर आपको परीक्षा की तयारी अच्छे से करनी है तो इसके लिए आप हर सब्जेक्ट की अलग अगल बुक्स खरीदे और उन बुक्स की मदद से आप पढाई करने का प्रयत्न करे इससे आप हर सब्जेक्ट को अच्छे से समझ पायेगे और अच्छे से पढ़ पायेगे.

ऑनलाइन पढाई करे

हाल में ऑनलाइन पढाई का प्रचलन भी काफी ज्यादा बढ़ गया है अगर आपको परीक्षा की बेहतर तरीके से तयारी करनी है तो इसके लिए आपको ऑनलाइन पढाई करनी चाहिए आप चाहे तो YouTube पर बिलकुल फ्री में ऑनलाइन पढाई कर सकते है इसमें आपको कई योग्य और बेहतरीन टीचर द्वारा पढने का मौका मिल जाता है.

इसके अलावा अगर आप किसी प्रकार का पेड़ कोर्स लेना चाहते है तो कई कोचिंग क्लास और इंस्टिट्यूट ऐसे है जो ऑनलाइन कोर्स भी उपलब्ध करवाते है आप उनके कोर्स को खरीद सकते है और इसके बाद आप परीक्षा की तयारी कर सकते है इससे परीक्षा में आपकों काफी अच्छा रिजल्ट देखने के लिए मिलेगा.

कोचिंग क्लास ज्वाइन करें

हाल में शायद ही कोई अभ्यर्थी ऐसा होगा जो कोचिंग क्लास के महत्त्व को नहीं जानता होगा यह हर एक उस व्यक्ति के लिए बहुत ही फायदेमंद साबित होती है जो सरकारी नौकरी पाने का सपना देख रहा है अगर आपको परीक्षा की अच्छे से तयारी करनी है और आपको एक अच्छी और सही गाइडलाइन चाहिए तो आप किसी अच्छी कोचिंग क्लास को ज्वाइन कर सकते है और वहां से आप PWD की तयारी कर सकते है इससे आप काफी अच्छे तरीके से परीक्षा की तयारी कर पायेगे और आपके सफल होने की संभावना भी काफी हद तक बढ़ जाएगी.

मोडल पेपर देखे

मोडल पेपर हर परीक्षा में उपयोगी साबित होते है इससे आपको यह पता चल जाता है की आखिर आपकी परीक्षा की तयारी कैसी चल रही है एवं आपको परीक्षा में कितने अंक प्राप्त हो सकते है इसके लिए पहले आपको मोडल पेपर खरीदने होगे और उन्हें सोल्व करना का प्रयत्न करना होगा इससे आप अपनी तयारी को अच्छे से देख पायेगे और अपने अन्दर इम्प्रूवमेंट ला सकते है जिससे की आपको परीक्षा में अच्छा रिजल्ट देखने के लिए मिले.

सेलेबस को ध्यान में रखे

आपको प्रतियोगी परीक्षा में सफल होने के लिए सबसे ज्यादा ध्यान अपने सेलेबस के ऊपर ही रखना चाहिए क्युकी आपको परीक्षा में जो भी सवाल पूछे जायेगे वो सभी सवाल आपके सेलेबस में से ही आयेगे और आप सेलेबस के हिसाब से तयारी करेगे तो आप परीक्षा की तयारी काफी अच्छे तरीके से कर पायेगे एवं आपके परीक्षा में सफल होने की संभावना भी काफी अधिक बढ़ जाएगी इसलिए आपको हमेशा सेलेबस के आधार पर ही तयारी करनी चाहिए.

हमेशा अपडेट रहे

आप प्रतियोगी परीक्षा की तयारी कर रहे है तो इसके लिए आपको हमेशा खुद को अपडेट रखना बेहद ही जरुरी है अगर आप खुद को अपडेट रखेगे तो परीक्षा में कोई बदलाव होगा या सेलेबस में कोई भी बदलाव होगा तो आपको इसका पहले ही पता चल जायेगा और इसके अनुसार आप परीक्षा की तयारी कर पायेगे इससे आप कम समय में काफी अच्छे से परीक्षा की तयारी कर सकते है एवं परीक्षा में काफी अच्छे अंक प्राप्त कर सकते है.

सवाल को समझे

आपको एक बात हमेशा ध्यान रखनी चाहिए की आप रटकर कोई भी सवाल याद करते है तो इससे आपको सवाल याद करने में काफी ज्यादा मेहनत लगती है और आप जो याद करेगे वो भी काफी जल्दी भूलने लग जायेगे वही अगर आप कोई भी सवाल रटने की जगह समझने का प्रयत्न करेगे तो इससे आपको सवाल याद करने में काफी ज्यादा आसानी होगी एवं आप जो सवाल समझकर याद करेगे वो आपको काफी लम्बे समय तक याद भी रहेगा जिससे परीक्षा में आपको अच्छे अंक प्राप्त हो पायेगे.

PWD FAQ

पीडब्ल्यूडी का क्या कार्य होता है?

पीडब्ल्यूडी के कई अलग अलग तरह के कार्य होते है जैसे की सड़क का निर्माण करवाना एवं मरम्मत करवाना, पुलों का निर्माण करवाना एवं मरम्मत करवाना, सरकारी भवन जैसे स्कूल्स, हॉस्पिटल, सरकारी कार्यालय बनाना एवं उनकी मरमत करवाना इस तरह से यह विभाग कई तरह के निर्माण करवाने का कार्य करता है.

पीडब्ल्यूडी वालों की सैलरी कितनी होती है?

इसमें हर एक अधिकारी एवं कर्मचारी का वेतन अलग अलग होता है सामान्यत इस पोस्ट पर कर्मचारी का वेतन 20 हजार तक होता है और अधिकारियो का वेतन 80 हजार तक होता है इसके साथ ही इन्हें सरकारी द्वारा महंगाई भत्ता, इन्शुरन्स, यात्रा भत्ता आदि प्रदान किये जाते है,

पीडब्ल्यूडी विभाग को हिंदी में क्या कहते हैं?

पीडब्ल्यूडी को हिंदी में लोक निर्माण विभाग कहा जाता है इसकी विस्तृत जानकारी हमने आपको इस आर्टिकल में ऊपर बतायी है.

PWD ऑफिसर कैसे बने?

आपको पीडब्ल्यूडी अधिकारी बनने के लिए सबसे पहले इसमें आवेदन करना होता है इसके बाद आपको इसकी चयन प्रक्रिया से गुजरना होता है व बादमे मेरिट जारी की जाती है उसके आधार पर आपका चयन इस पोस्ट के लिए किया जाता है.

पीडब्ल्यूडी के लिए कौन पात्र है?

इसमें आवेदन करने के लिए कुछ पात्रता भी रखी गयी है अगर आपने स्नातक उतीर्ण कर लिया है तो आप इसके लिए आवेदन कर सकते है व इसके साथ ही अन्य पात्रता की जानकारी इस आर्टिकल में विस्तृत रूप से बताई गयी है आप इस आर्टिकल में इससे जुडी जानकारी देख सकते है.

Calculation – इस आर्टिकल में हमने आपको PWD Full Form in Hindi क्या हैं और PWD के कार्य क्या क्या होते हैं इसके बारे में जानकारी देने का प्रयत्न किया है हमे उम्मीद है की आपको हमारे द्वारा बताई गयी जानकारी जरूर पसंद आयी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसको अपने मित्रो के साथ शेयर जरूर करें व इससे सम्बंधित किसी भी प्रकार का सवाल पूछना चाहते है तो आप हमे कमेंट के माध्यम से भी बता सकते है.

6 टिप्पणी

  1. Dear Sir..
    Mai baruipu, kolkata,west bangal ka rahne wale hu. Sir hamare sahar me sadak bahut hi kharab hai. Jo ki kaam k dhimi pan k bajahse hame baht khatra mahsus ho raha he, jo ki kisi b waqt koi bara hadsa ho sakta he.. hame aap se nivedan hai ke kripaya is rajya k upor thora maharbani kijiye.. isiliye mai kah raha hu k mai ek taxi driver hu or mera kam hi h sadak me. Please sir hame bachaiye, jab hamare car bachenge tab hi ham bachenge.. thank you..

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें