प्रोफेसर कैसे बनें? | Professor Kaise Bane?

नमस्कार मित्रो आज हम आपको Professor Kaise Bane इसके बारे में बताने वाले है अक्सर कई लोग एक प्रोफेसर के रूप में अपना करियर बनाने का सपना देखते है लेकिन सही जानकारी पता न होने के कारण वो इस क्षेत्र में अपना करियर नही बना पाते अगर आप एक प्रोफेसर बनना चाहते है तो यह आर्टिकल आपके लिए बेहद ही उपयोगी साबित हो सकता है.

Professor Kaise Bane

अक्सर आपने कई बार कॉलेज या कोचिंग इंस्टिट्यूट में प्रोफ़ेसर को देखा होगा ऐसे में आपके मन में भी इस प्रकार का ख्याल जरुर आता होगा की अगर हम प्रोफ़ेसर बनाना चाहे तो इसके लिए हमे क्या करना होता है तो इसकी पूरी जानकारी हम आपको इस आर्टिकल में बताने वाले है इससे जुडी विस्तृत जानकरी के लिए Professor Kaise Bane यह आर्टिकल ध्यान से पढ़े.

Professor Kaise Bane

अगर आप प्रोफेसर बनने का सपना देख रहे है तो सबसे पहले तो आपको यह बात पता होनी चाहिए की यह एक प्रमोशनल पद होता है यानि की इस पोस्ट पर नौकरी प्राप्त करने के लिए पहले आपको कुछ वर्षो तक अध्यपक के रूप में कार्य करना होता है इसके बाद आपके कार्य और अनुभव के आधार पर आपका प्रमोशन करके आपको इस पोस्ट पर नियुक्ति प्रदान की जा सकती है.

अध्यापक बनने के बाद आपको प्रोफेसर बनने में लगभाग 4 से 5 वर्ष तक का समय लग सकता है इस दौरान अगर आप बच्चो को अच्छी शिक्षा देते है और आपके पढाये गये स्टूडेंट परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करते है तो इससे आपके प्रोफेसर बनने की संभावना काफी ज्यादा बढ़ जाती है अगर चाहे तो प्रोफेसर बनने के लिए यह प्रोसेस फॉलो कर सकते है.

बाहरवीं उतीर्ण करें

प्रोफ़ेसर बनने के लिए सबसे पहले तो आपको किसी मान्यताप्राप्त विधालय से बाहरवीं उतीर्ण करनी होगी एवं बाहरवीं में आपको उसी सब्जेक्ट का चुनाव करना है जिस सब्जेक्ट के आप प्रोफेसर बनना चाहते है एवं बाहरवीं में आपको कम से कम 50% तक अंक प्राप्त करने जरुरी है.

ग्रेजुएशन पूरा करें

जब आपकी बाहरवीं उतीर्ण हो जाती है तो इसके बाद आपको स्नातक के लिए आवेदन करना होता है आप किसी भी सब्जेक्ट से स्नातक उतीर्ण कर सकते है यह कोर्स आपका 3 वर्ष का होता है एवं स्नातक में आपको न्यूनतम 50% अंक प्राप्त करने जरुरी है तभी आप एक प्रोफेसर बन पायेगे.

मास्टर डिग्री पूरी करें

जब आप स्नातक उतीर्ण कर लेते है तो इसके बाद आपको मास्टर डिग्री के लिए आवेदन करना होता है यह 2 वर्ष की डिग्री होती है एवं इसमें आप अपनी पसंद से किस भी एक सब्जेक्ट का चुनाव कर सकते है ध्यान रखे की प्रोफेसर बनने के लिए आपके मास्टर डिग्री में न्यूनतम 50% अंक होने अनिवार्य है.

पीएचडी पूरी करें

प्रोफ़ेसर बनने के लिए पीएचडी आपके लिए काफी ज्यादा फायदेमंद साबित होती है अगर आप पीएचडी कर लेते है तो इसके बाद आपके प्रोफ़ेसर बनने के चांस काफी ज्यादा बढ़ जाते है इसके लिए जब आपकी मास्टर डिग्री पूरी हो जाती है तो इसके बाद आपको पीएचडी के लिए आवेदन करना होता है.

प्रोफ़ेसर के लिए आवेदन करें

जब आप पीएचडी पूरी कर लेते है तो इसके बाद आप सरकारी कॉलेज में प्रोफेसर बनने के लिए आवेदन कर सकते है इसके लिए आपको पीएचडी करने के बाद UGC के द्वारा आयोजित करवाई जाने वाली  NET की परीक्षा में शामिल होना होगा इसके बाद आप इसकी चयन प्रक्रिया को पूरा करके प्रोफेसर के रूप में नौकरी प्राप्त कर सकते है.

वही अगर आप एक प्राइवेट कॉलेज में प्रोफ़ेसर बनाना चाहते है तो इसके लिए आप उन कॉलेज में प्रोफेसर बनने के लिए आवेदन कर सकते है जिन कॉलेज में प्रोफेसर की पोस्ट खाली हो ऐसे में आपको उस कॉलेज में नौकरी मिलने की संभावना काफी ज्यादा बढ़ जाती है.

NET में कितने पेपर होते है

अगर आप पहली बार NET की परीक्षा दे रहे है तो ऐसे में आपके मन में यह ख्याल जरुर आया होगा की आखिर इस परीक्षा में आपको कितने पेपर देने होते है तो हम आपको बता दे की इस परीक्षा में आपको कुल 2 पेपर दिए जाते है जिसमे से पहला पेपर सामान्य अध्ययन का होता है इसमें आपको टीचिंग एवं एप्टीट्यूड पर आधारित सवाल पूछे जाते है इसके साथ ही इसमें आपको रीजनिंग एबिलिटी और जनरल अवेयरनेस के सवाल भी पूछे जाते है.

जब आप इसके पहले पेपर को क्लियर कर लेते है तो इसके बाद आपको इसका दूसरा पेपर देना होता है इसमें आपको विषय आधारित पेपर दिया जाता है यानी की आपके ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन में जो सब्जेक्ट लिया था उसी सब्जेक्ट में आपको यह पेपार दिया जाता है इसलिए इस पेपर में अच्छे अंक प्राप्त करना आपके लिए थोडा आसान साबित हो सकता है.

प्रोफ़ेसर का वेतन

एक प्रोफ़ेसर को सभी कॉलेज में वहां के नियमानुसार अलग अलग वेतन दिया जाता है एक प्राइवेट कॉलेज के प्रोफ़ेसर को 45,000/- रूपए से लेकर 70,000/- रूपए तक का वेतन दिया जा सकता है वही एक सरकारी कॉलेज के प्रोफ़ेसर को 65,000/- रूपए से लेकर 2 लाख रूपए तक का वेतन दिया जा सकता है एवं प्राइवेट कॉलेज की तुलना में सरकारी कॉलेज के प्रोफ़ेसर को काफी ज्यादा वेतन दिया जाता है.

इस आर्टिकल में हमने आपको Professor Kaise Bane इसके बारे में जानकारी देने का प्रयत्न किया है हमे उम्मीद है आपको हमारी बताई गयी जानकारी उपयोगी लगी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर जरुर करें और इससे जुडा किसी भी प्रकार का सवाल पूछने के लिए आप हमे कमेंट कर सकते है.