नमस्कार मित्रो आज हम आपको Planets Name In Hindi से जुडी जानकारी बताने वाले है इसमें हम आपको सभी ग्रहों के नाम हिंदी और अंग्रेजी में बताने वाले है इसके साथ ही हम आपको ग्रहों से जुडी अन्य कई तरह की बेहतरीन जानकारी बताने वाले है जिसके बारे में आपको पता होना बेहद ही जरुरी है अगर आपको ग्रहों के बारे में जानना है तो यह आर्टिकल आपके लिए बहुत ही उपयोगी साबित हो सकता है.

Planets Name In Hindi

अक्सर कई लोगो को ग्रहों के बारे में जानकारी नही होती की कुल कितने गृह होते है और उनके नाम क्या होते है तो ऐसे में यह जानकारी आपके लिए बहुत ही ज्यादा उपयोगी साबित हो सकती है इसमें हम आपको ग्रहों से जुडी कई बेहतरीन जानकारी बताने का प्रयास करेगे जिसके बारे में ज्यादातर लोगो को पता नही होता इसके बारे में जानने के लिए आप Planets Name In Hindi आर्टिकल को ध्यान से पढ़े ताकि आपको हमारी बताई जानकारी आसानी से समझ में आ सके.

Planets Name In Hindi

जैसा की आप सभी जानते है की हाल में कुल 8 ग्रह है लेकिन कुछ समय पहले की बात करे तो सौरमंडल में कुल 9 ग्रह हुआ करते थे उसमे एक प्लूटो Pluto नाम का ग्रह भी शामिल था पर बादमे इस ग्रह को लिस्ट से निकालकर इसको बोन ग्रह की सूचि में डाल दिया गया इस कारण से हाल में कुल 8 ग्रह है जो निम्न प्रकार से है.

S. N.Planet Name in EnglishPlanet Name in Hindi
1.Mercury (मर्करी)बुध
2.Venus (वेनस)शुक्र
3.Earth (अर्थ)पृथ्वी
4.Mars (मार्स)मंगल
5.Jupiter (जुपिटर)बृहस्पति
6.Saturn (सैटर्न)शनि
7.Uranus (युरेनस)अरुण
8.Neptune (नेप्‍च्‍यून)वरुण

इस तरह से सौरमंडल में कुल 8 ग्रह है इनके नाम निम्न प्रकार से है इनके नाम आपके लिए भविष्य में बहुत ही ज्यादा उपयोगी साबित हो सकते है इसलिए आप चाहे तो इनके नाम किसी नोटबुक में भी लिख सकते है ताकि आप इनके नाम आसानी से याद कर सके अगर आप किसी प्रतियोगी परीक्षा की तयारी कर रहे है तो ऐसे में ग्रह एवं सौरमंडल के बारे में जानकारी होनी आपके लिए बहुत ही ज्यादा जरुरी है.

सौरमंडल क्या होता है

आकाशगंगा में सूर्य के चारो तरफ चक्कर लगाने वाले ग्रह, उपग्रह, उल्काओं और क्षुद्रग्रहों को समूह सौरमंडल कहा जाता है एवं सौरमंडल में गुरुत्वाकर्षण बल के कारण सूर्य एवं अन्य सभी ग्रह एक दुसरे के साथ जुड़े हुए होते है अगर हम सौरमंडल के ग्रह की बात करे तो इसमें कुल 8 गृह और उनके 172 ज्ञात उपग्रह, पाँच बौने ग्रह और अरबों छोटे पिंड आदि भी शामिल है, प्लूटो का आकार बहुत ही छोटा होने के कारण इसको बौने ग्रह की श्रेणी में शामिल किया गया है.

ग्रह किसे कहते है

जो खगोलीय पिंड तारे के चारो तरफ चक्कर लगाते है उन्ही को ग्रह कहा जाता है जैसे की सूर्य एक तारा है एवं उसके चारो तरह जितने भी खगोलीय पिंड चक्कर लगाते है उन सभी को ग्रह के रूप में जाना जाता है यह सभी ग्रह अलग अलग आकार के होते है एवं इन ग्रहों का वातावरण भी काफी ज्यादा अलग अलग होता है.

आकाशगंगा में गुर्त्वाकर्षण बल के कारण यह सभी ग्रह पर्याप्त निश्चित दुरी पर ही चक्कर लगाते है एवं इनके आस पास किसी भी खगोलीय पिंड का झुण्ड नहीं होता यह सभी गुर्त्वाकर्षण बल के कारण एक दुसरे से प्रयाप्त दुरी पर चक्कर लगाते रहते है इन सभी ग्रहों की दुरी गुर्त्वाकर्षण बल के ऊपर ही निर्भर करती है.

सौरमंडल के सभी ग्रह

हम आपको सौरमंडल के सभी ग्रहों के बारे में कुछ रोचक जानकारी बता रहे है जो की आपके लिए काफी बेहतरीन साबित हो सकती है इसके साथ ही हम आपको हर ग्रह के बारे में कुछ बेहद ही ख़ास रहस्य भी बतायेगे जिनके बारे में हर व्यक्ति को पता होना जरुरी है इसमें आप हर ग्रह के बारे में बारीकी से जानकारी प्राप्त कर पायेगे और आपको सभी ग्रह के फोटो भी हम दिखने वाले है ताकि आपको पता चल सके की कौनसा ग्रह किस प्रकार का दिखाई देता है.

1. बुध ग्रह

Mercury

  • यह सूर्य से सबसे निकट एवं सबसे छोटा ग्रह है.
  • अन्य ग्रह की तुलना में इस ग्रह के तापमाप में उतार चढ़ाव बहुत ही अधिक होता है, रात को इसका तापमान −173 °C; −280 °F तक हो जाता है वही दिन में इसका तापमान 427 °C, 800 °F  तक होता है.
  • बुध ग्रह भी पृथ्वी की तरह एक चट्टानी पिंड होता है जो सौरमंडल के चार स्थलीय ग्रहों में से एक है.
  • यह ग्रह लगभग  70% धातु व 30% सिलिकेट पदार्थ  से मिलकर बना हुआ है.
  • इस ग्रह की सतह चंद्रमा के समान दिखाई देती है जो की हल्की भूरे एवं ग्रे रंग की होती है.
  • यह एक ऐसा ग्रह है जिसमे अन्य ग्रह की तरह मौसम में बदलाव नही होता.
  • पृथ्वी से बुध ग्रह को देखा जाये तो यह एक चमकीले तारे की तरह दिखाई देता है.
  • सूर्य की बुध ग्रह से कुल दुरी 46,000,000 से लेकर 70,000,000 तक मानी जाती है एवं लगभग 88 दिन में सूर्य का एक चक्कर पूरा करता है.

2. शुक्र ग्रह

Venus

  • शुक्र ग्रह सौरमंडल का दूसरा सबसे निकटतम ग्रह है.
  • इस ग्रह का नाम प्रेम और सौन्दर्य की रोमन देवी के नाम पर रखा गया है.
  • शुक्र की सतह पर  वायुमंडल का दबाव पृथ्वी की सतह की तुलना में लगभग 92 गुना अधिक होता है.
  • चन्द्रमा के बाद यह दूसरा सबसे चमकीला ग्रह माना जाता है.
  • यह ग्रह सूर्योदय से पूर्व एवं सूर्यास्त के बाद बहुत ही अधिक चमकीला दिखाई देता है इसलिए इस ग्रह को सुबह का तारा और शाम का तारा भी कहा जाता है.
  • यह सौरमंडल का सबसे गर्म ग्रह माना जाता है इसका तापमाप 462°C तक होता है.
  • यह पृथ्वी का सबसे निकटतम ग्रह होता है.
  • इस ग्रह में सबसे अधिक कार्बन डाईऑक्साइड पायी जाती है.
  • इस ग्रह की दुरी पृथ्वी से लगभग 2.6 करोड़ मील के आसपास है एवं सूर्य से इस ग्रह की दुरी 6.72 करोड़ मील के करीब है.
  • शुक्र ग्रह को सूर्य की परिक्रमा पूरी करने में 25 दिन और कुछ घंटो का समय लगता है.

3. पृथ्वी ग्रह

Earth

  • इस ग्रह को नीला ग्रह भी कहा जाता है और इसे विश्व भी कहा जाता है.
  • सौरमंडल के सभी ग्रहों में एक मात्र पृथ्वी पर जीवन संभव है.
  • पृथ्वी ग्रह का 71% भाग जल और 29% भाग भूमि से ढका हुआ है एवं इसकी सतह कई तरह की प्लेटो से ढकी हुई होती है.
  • पृथ्वी का एक उपग्रह भी है जिसको चन्द्रमा कहा जाता है.
  • पृथ्वी की उत्पत्ति लगभग 4.54 अरब साल पहले हुई थी एवं पृथ्वी पर जीवन का अनुमान लगभग 4.1 अरब साल पहले का माना जाता है.
  • पृथ्वी कई सतहों से मिलकर बनी होती है जिसमे सबसे ज्यादा आक्सीजन और नाइट्रोजन की मात्रा पायी जाती है.
  • पृथ्वी की उपरी सतह सबसे कठोर होती है जो की सबसे पत्थर और मिट्टी से मिलकर बनी होती है.
  • पृथ्वी ग्रह सूर्य से लगभग 15 करोड़ किलोमीटर दूर है एवं यह सौरमंडल का सबसे बड़ा चट्टानी ग्रह है.
  • पृथ्वी दैनिक गति पर पश्चिम से पूरब की तरफ घूमती है एवं इसे अपने अक्ष से चक्कर लगाने में 24 घंटे तक का समय लग जाता है इसकी के कारण पृथ्वी पर दिन रात होते है.
  • सूर्य के प्रकाश को पृथ्वी पर पहुचने में लगभग 8.3 मिनट तक का समय लगता है.
  • पृथ्वी की चन्द्रमा से दुरी लगभग 384,4000 किलोमीटर तक होती है.

3. मंगल ग्रह

Mars

  • मंगल ग्रह को लाल ग्रह के नाम से भी जाना जाता है यह सौरमंडल का दूसरा सबसे छोटा ग्रह है.
  • मंगल ग्रह की सतह बहुत ही रेयर होती है एवं यह चंद्रमा की सतह की तरह होता है जो पृथ्वी की  घाटियों, बर्फीली चोटियों और रेगिस्तानों की याद दिलाता है.
  • मंगल ग्रह के दो उपग्रह है जिनका नाम फो़बोस और डिमोज़ है एवं इन दोनों का आकार अनियमित और छोटा है.
  • इस ग्रह को पृथ्वी से आसानी से देखा जा सकता है.
  • इस ग्रह की दुरी सूर्य से लगभग 250.61 मिलियन किलोमीटर होती है एवं पृथ्वी पर एक दिन 24 घंटे का होता है वैसे ही मंगल पर दिन 24 घंटे 37 मिनट का होता है.

5. ब्रहस्पति ग्रह

jupiter

  • यह ग्रह सौरमंडल का सबसे बड़ा ग्रह माना जाता है.
  • यह एक गैसीय पिंड है.
  • इस ग्रह को रात के वक्त पृथ्वी से आसानी से देखा जा सकता है.
  • इस ग्रह का नाम रोमन सभ्यता के देवता जुपिटर के नाम पर “जुपिटर” रखा गया था.
  • यह चन्द्रमा और शुक्र के बाद तीसरा सबसे चमकीला ग्रह है.
  • इस ग्रह की सतह पर हीलियम और हाइड्रोज़ोन गैस पायी जाती है.
  • ब्रहस्पति ग्रह की सूर्य से दुरी लगभग 77 करोड़ 80 लाख किलोमीटर तक होती है एवं इसे सूर्य का एक चक्कर लगाने में लगभग 11.86 साल तक का समय लगता है.
  • ब्रहस्पति ग्रह का  गुरुत्वाकर्षण बल अन्य ग्रहों की तुलना में बहुत ही अधिक होता है इसलिए इस ग्रह का वजन पृथ्वी से लगभग 318 गुना अधिक होता है.

6. शनि ग्रह

Saturn

  • यह सौरमंडल का दूसरा सबसे बड़ा ग्रह माना जाता है.
  • इस ग्रह की दुरी सूर्य से लगभग 1.4 अरब किलोमीटर से अधिक होती है एवं इस ग्रह को सूर्य का एक चक्कर लगाने में लगभग 30 साल  का समय लग जाता है.
  • यह एक गैसीय ग्रह है जिसका आतंरिक भाग लोहा, सिलिकॉन, ऑक्ससीजन, हाइड्रोज़ोन, और मोटी चट्टानों  से मिलकर बना होता है एवं इसका बाहरी भाग हीलियम तथा हाइड्रोजन  से मिलकर बना होता है.
  • इस ग्रह को गैस का गोला भी कहा जाता है एवं वैज्ञानिकों के अनुसार यह ग्रह सात छल्लो से मिलकर बना हुआ है.

7. अरुण ग्रह

Uranus

  •  अरुण ग्रह का आकार पृथ्वी से लगभग 63 गुना अधिक बड़ा है एवं यह द्रव्यमान में पृथ्वी से 14.5 गुना ज्यादा भारी होता है.
  • इस ग्रह की खोज 13 मार्च 1781  में विलियम हरशल के द्वारा की गयी थी यह दूरबीन से खोजा गया सबसे पहला ग्रह है.
  • यह एक गैसीय ग्रह है जिसकी परत गैसों से मिलकर बनी हुई है एवं इसका आकार भी बहुत ही बड़ा होता है.
  • इस ग्रह पर अमोनियाँ और मीथेन गैसों की जमी हुई बर्फ भी मौजूद है इसको “बर्फ़ीले गैस दानव” के रूप में भी जाना जाता है.
  • यह सबसे ठंडा ग्रह भी माजा जाता है इसका न्यूनतम तापमाप -224° Centigrade तक नापा गया है एवं यह बादलो की कई परतो से ढका हुआ है इसकी सबसे उपरी सतह मीथेन गैस से बनी होती है इसके निचे पानी के बादल है.
  • इस ग्रह के 27 प्राकृतिक उपग्रह है यह सभी पृथ्वी के विपरीत दिशा में चक्कर लगाते रहते है.
  • यह ग्रह हल्के हरे रंग का दिखाई देता है इसका मुख्य कारण इसमें मौजूद मीथेन गैस की अधिक मात्रा में होना है.

8. वरुण ग्रह

Neptune

  • यह सौरमंडल का चौथा सबसे बड़ा ग्रह माना जाता है इसका द्रव्यमान पृथ्वी से लगभग 17 गुना  अधिक होता है.
  • वरुण ग्रह पृथ्वी की तुलना में सूर्य से लगभग 30 गुना ज्यादा दुर होता है एवं इसे सूर्य का एक चक्कर लगाने में लगभग 164.79 साल तक का समय लग जाता है.
  • यह एक गैसीय ग्रह है जिस्लो गैस का दानव भी माना जाता है इसका सतह मिटटी और पत्थर की न होकर केवल गैसों से मिलकर बनी होती है एवं इसका आकार विशाल होता है.
  • अरुण और वरुण ग्रह काफी हद तक एक सामान ही होते है इनकी सतह पर ब्रहस्पति और शनि ग्रह की तुलना में अधिक बर्फ जमी हुई होती है.
  • यह पहला ऐसा ग्रह है जिसकी भविष्यवाणी गणित के आधार पर की गयी थी.
  • इस ग्रह को पहली बार दूरबीन से 23 सितम्बर 1846 वको देखा गया था इसके बाद इसका नाम “Neptune” रखा गया था.
  • इस ग्रह को साफ़ मौसम में पृथ्वी से आसानी से देखा जा सकता है एवं इसमें तूफानी हवाओं की गति अन्य ग्रहों की तुलना में सबसे ज्यादा होती है.
  • इस ग्रह के 13 प्राकृतिक ज्ञात उपग्रह है जिनमे से ट्राइटन, डस्पीना, और थलेसा मुख्य होते है.

इस प्रकार से हमारे सौरमंडल में कुल 8 ग्रह होते है इसमें से सबसे बड़ा ग्रह ब्रहस्पति होता है और सबसे छोटा ग्रह बुध होता है एवं सभी ग्रहों में केवल पृथ्वी ही एक मात्र ऐसा ग्रह है जिसमे जीवन संभव है हालाकिं कई ग्रहों पर इसकी रिसर्च जारी है जिससे अंदाजा लगाया जा रहा है की अन्य कुछ ग्रहों पर भी जीवन संभव हो सकता है.

Calculation – इस आर्टिकल में हमने आपको Planets Name In Hindi के बारे में जानकारी दी है हमे उम्मीद है आपको हमारी बताई जानकारी उपयोगी लगी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर जरुर करें और इससे जुडा किसी भी तरह का सवाल पूछना चाहे तो आप हमे कमेंट करके भी बता सकते है.

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें