नमस्कार मित्रो आज हम आपको Pilot Kaise Bane इसके बारे में बताने वाले है जो लोग पायलट बनकर खुले आसमान में उड़ने का सपना देख रहे है उनके लिए यह जानकारी बेहद ही उपयोगी साबित होने वाली है इसमें हम आपको पायलट क्या होता है इसके लिए जरुरी योग्यता क्या होनी चाहिए एवं आप किस प्रकार से एक पायलट बन सकते है इन सब के बारे में हम आपको बताने वाले है.

Pilot Kaise Bane

आज के दौर में अधिकांश लोग पायलट के रूप में अपना कैरियर बनाना चाहते है इसके कई अलग अलग कारण है पर कई लोगो को इसके बारे में पता नही होता की वो किस प्रकार से एक पायलट बन सकते है ऐसे में अधिकांश लोगो का पायलट बनने का सपना पूरा नही हो पाता अगर आपको पायलट बनना है तो आप Pilot Kaise Bane यह आर्टिकल ध्यान से पढ़े ताकि आपको इसकी पुरी प्रोसेस समझ में आ सके.

 Pilot Kaise Bane

अपने ऐरोप्लेन तो कई बार देखी ही होगी व आपको पता होगा की वो पायलट के द्वारा उड़ाए जाती है व आप भी इस तरह का काम करना चाहते है और आपका सपना ऐरोप्लेन उड़ाने का है तो आप अपने सपने को बहुत ही आसानी से पूरा कर सकते है पर अगर आपको इसके बारे में जानकारी नहीं होगी की आखिर पायलट कैसे बनते है तो आप अपना ये सपना पूरा नहीं कर पाएंगे पर अगर आपको इसके बारे में जानकारी होगी तो आप बहुत ही आसानी से अपना यह सपना पूरा कर सकते है.

पायलट बनने के लिए क्या करें

पायलट बनने के लिए आपको दसवीं के बाद से इसकी तयारी शुरू करनी होती है तभी आप अपना यह सपना पूरा कर पाएंगे व आपको दसवीं के बाद ग्यारवी में फिजिक्स, केमिस्ट्री और मेथ्स सब्जेक्ट लेना जरुरी है तभी आप पायलट बनने के लिए आगे की पढ़ाई कर पाएंगे व इसके लिए आपको निम्न बातो को ध्यान में रखना है.

  • सबसे पहले तो आपको मान्यताप्राप्त विधालय से दसवीं उत्तीर्ण करनी है.
  • अब आपको ग्यारवी में PCM सब्जेक्ट को चुनना है.
  • अब आपको बाहरवीं को अच्छे अंको के साथ उत्तीर्ण करनी होगी.
  • आपको पायलट बनने के लिए इंग्लिश भाषा में आपकी अच्छी पकड़ होनी जरुरी है.

दसवी उतीर्ण करें

पायलट बनने के लिए आपको दसवी से ही इसकी तयारी शुरू करनी होगी व आपको किसी भी मान्यता प्राप्त विधालय से दसवी उतीर्ण करनी होगी दसवी में आपके अच्छे अंक होने जरुरी है तभी आप एक पायलट बन सकते है.

PCM से बाहरवी उतीर्ण करें

अब आपको बाहरवी में साइंस स्ट्रीम लेना है और साइंस में आपके PCM यानी की फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ्स सब्जेक्ट होने चाहिए इसके साथ ही आप एंट्रेंस एग्जाम की भी तयारी करते रहे क्युकी बाहरवी के बाद आपको पायलट बनने के लिए एंट्रेंस एग्जाम भी देना होता है अगर पहले से इसकी तयारी करेगे तो एग्जाम क्लियर करने में आपको आसानी होगी.

एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करे

जब आप बाहरवी क्लियर कर लेते है तो इसके बाद आपको पायलट बनने के लिए सही कोर्स का चुनाव करना होता है व एडमिशन के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम देना होता है आपका यह एग्जाम तीन अलग अलग चरणों में होता है जैसे एंट्रेंस एग्जाम, मेडिकल टेस्ट, इंटरव्यू आदि.

जब आप एंट्रेंस एग्जाम को क्लियर कर लेते है तो इसके बाद आपको फ्लाइंग स्कूल में एडमिशन लेना होता है और वहां पर आपको कमर्शियल पायलट बनने की पढाई और ट्रेनिंग को पूरा करना होता है एवं कमर्शियल पायलट बनने के दो तरीके होते है पहला तो आप फ्लाइंग स्कुल में एडमिशन ले सकते है दूसरा आप कैडेट पायलट प्रोग्राम से पायलट बन सकते है.

स्टूडेंट पायलट लाइसेंस के लिए आवेदन करें

सबसे पहले आपको बाहरवीं उत्तीर्ण करने के बाद स्टूडेंट पायलट लाइसेंस के लिए आवेदन करना होता है व इसको SPL के नाम से भी जाना जाता है व इस लाइसेंस को प्राप्त करने के लिए आपको DGCA अर्थात नागर विमानन महानिदेशालय, भारत सरकार से मान्यताप्राप्त कॉलेज में एडमिशन लेना जरुरी है और उसे उत्तीर्ण करना होगा व इसके साथ ही आपको मेडिकल टेस्ट भी देना होता है व आपको स्टूडेंट लाइसेंस लेने के लिए निम्न योग्यता की आवश्यकता पड़ती है.

  • सबसे पहले तो आपको बाहरवीं साइंस के साथ उत्तीर्ण करनी होगी.
  • इसमें आवेदन करने के लिए आपकी न्यूनतम आयु 16 वर्ष की होनी जरुरी है.
  • DGCA में एडमिशन लेने के बाद आप एंट्रेंस एग्जाम दे और इसकी ट्रेनिंग को पूरा करें.
  • अब आपको मेडिकल उत्तीर्ण करना होगा.

अब प्राइवेट पायलट लाइसेंस के लिए आवेदन करें

अब आप स्टूडेंट पायलट लाइसेंस क्लियर कर लेते है तो इसके बाद आपके सामने अगला चरण होता है प्राइवेट पायलट लाइसेंस का इसमें आपको आवेदन करना होता है और इसे PPL के नाम से भी जाना जाता है आपको यह एग्जाम देना है और इसकी ट्रेनिंग पूरी करनी होती है यह आपका पायलट बनने का दूसरा चरण होता है इसे करने के बाद आपको इसका एक सेर्टिफिकेट भी प्राप्त होता है.

अब कॉमर्शियल लाइसेंस के लिए आवेदन करें

जब आप SPL और PPL की टैनिंग को पूरा कर लेते है तो इसके बाद आपको कमर्शियल पायलट बनने के लिए कमर्शियल पायलट लाइसेंस के लिए आवेदन करना जरुरी है और इसके अंतर्गत आपको कुछ परीक्षा अथवा टेस्ट आदि देने होते है व इस कोर्स को करने के बाद आपको एक कमर्शियल लाइसेंस की उपाधि प्राप्त हो जाती है.

टाइप रेटिंग की ट्रेनिंग को पूरा करें

आप जानते होगे की सभी प्लान अलग अलग तरह के होते है एवं फ़्लाइंग स्कुल में जो प्लेन होते है वो कार्यस्थल के प्लान से काफी अलग होते है ऐसे में आपको कार्यस्थल के प्लेन को उड़ाना सिखना होता है तभी आप जिम्मेदारी को संभालने लायक माने जायेगे.

जब आपको जॉब मिल जाती है तो इसके बाद आपको कार्यस्थल पर प्लेन को उड़ाने के लिए बेसिक ट्रेनिंग दी जाती है इसको टाइप रेटिंग ट्रेनिंग कहा जाता है इस ट्रेनिंग में 5 से 6 सप्ताह तक का समय लगता है एवं यह बेहद ही महत्वपूर्ण ट्रेनिंग होती है.

जॉब ले लिए अप्लाई करें

जब आपको कमर्शियल लाइसेंस मिल जाता है तो इसके बाद आपको किसी भी एयरलाइन में पायलट की जॉब के लिए आवेदन करना होता है अक्सर किसी न किसी कंपनी में पायलट के लिए रिक्त पदों की भर्ती की जाती है आप उसमे आवेदन करके पायलट बन सकते है.

पायलट बनने में कितना समय लगेगा

आपको पायलट बनने के लिये गवर्नमेंट ऑफ इंडिया व Directorate General of Civil (DGCA) द्वारा मान्यता प्राप्त किसी भी फ्लाइंग क्लब में एडमिशन लेना होगा व साथ में आपको स्टूडेंट पायलट लाइसेंस के लिए भी आवेदन करना होगा इसके बाद आपको एक एंट्रेंस एग्जाम देना होता है जब आप एंट्रेंस एग्जाम को क्लियर कर लेते है तो इसके बाद आपको ट्रेनिंग पूरी करनी होती है इस प्रकार भारत में पायलट बनने के लिए आपको करीब 2 से 3 वर्ष तक का समय लग सकता है

पायलट बनने की फीस

अगर आपको पायलट बनना है तो इसकी फीस आदि की जानकारी पहले पता कर लेनी चाहिए इसकी फीस इस बात पर निर्भर करती है की आप किस इंस्टिट्यूट से पायलट का कोर्स कर रहे है एवं फ्लाइंग स्कुल में इस कोर्स की फीस 15 लाख से लेकर 20 लाख रुपये तक हो सकती है यह बेहद महँगा कोर्स होता है इस कोर्स को करने के लिए आपको काफी पैसे खर्च करने होते है.

पायलट का वेतन

अगर आप पायलट बन जाते है तो इसमें आपको बहुत ही अच्छा वेतन दिया जाता है व आप किस कंपनी के लिए काम करते है उसके आधार पर आपको वेतन प्रदान किया जाता है इसमें आपको शुरुआत में 1 लाख रूपए से 2.5 लाख रूपए तक का वेतन प्रदान किया जाता है और कार्य और अनुभव के आधार पर आपका वेतन धीरे धीरे 5 से 10 लाख रूपए प्रतिमाह तक भी हो सकता है.

Pilot की तयारी कैसे करें

आपको पायलट बनना है तो इसके लिए आपको इसकी बेहतरीन तरीके से तयारी करनी भी बेहद ही जरुरी है हम आपको इसके कुछ ख़ास टिप्स बता रहे है जिन्हें अपनाकर आप पायलट बनने की बेहतरीन तयारी कर सकते है.

अपना एक ही लक्ष्य बनाये

आपको पायलट बनना है तो इसके लिए आपको एक ही लक्ष्य बनाना होगा की आप किसी भी तरह से पायलट बनकर रहेगे चाहे इसके लिए आपको कुछ भी क्यों न करना पड़े अगर आप इस तरह से अपना एक ही लक्ष्य बनाकर तयारी करेगे तो आपको पायलट बनने में काफी आसानी होगी और आप पाने लक्ष्य को जरुर प्राप्त कर लेंगे.

टाइम टेबल बनाये

आपको पायलट  बनने के लिए बेहतरीन तयारी करनी है तो एक बात हमेशा ध्यान रखे की आप एक अच्छा सा टाइम टेबल बना ले और उसके आधार पर ही आप पढाई करे इससे आपको पायलट बनने में काफी आसानी होगी एवं आप पढने का टाइम हमेशा सुबह और शाम के वक्त रखे तो अधिक बेहतर होगा क्युकी इस वक्त वातावरण काफी अच्छा रहता है इस वजह से आपको पढने में काफी आसानी होगी.

NCRT की किताबे पढ़े

आपको एक बात हमेशा ध्यान रखनी है की किसी भी परीक्षा में सफल होने के लिए NCRT की किताबे बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण होती है अगर आप NCRT की किताबे पढ़ते है तो इससे आपके परीक्षा में सफल होने के चांस काफी अधिक बढ़ जाते है इसलिए आपको NCRT की किताबो पर फोकस करना चाहिए.

इंग्लिश में अच्छी पकड़ बनाये

आपको पायलट बनना है तो इसके लिए आपकी इंग्लिश अच्छी होनी बेहद ही आवश्यक है क्युकी इस पोस्ट पर आपको इंग्लिश भाषा का बहुत अधिक इस्तमाल करना होता है ऐसे में अगर आपकी इंग्लिश अच्छी नही होगी तो आप कभी भी पायलट के रूप में काम नहीं कर पायेगे इसलिए आपको इंग्लिश में अपनी अच्छी पकड़ बनानी बेहद ही जरुरी है.

ऑनलाइन क्लास देखे

हाल में आपको हर तरह के सब्जेक्ट की ऑनलाइन क्लास फी में YouTube आदि पर देखने के लिए मिल जाती है आपको इसका पूरा फायदा उठाना चाहिए क्युकी इसमें आपको अच्छे टीचर से किसी भी सब्जेक्ट को पढने का मौका मिल जाता है जिससे की आप किसी भी सब्जेक्ट में अपनी अच्छी पकड़ बना पायेगे अक्सर हर व्यक्ति किसी भी परीक्षा की तयारी करता है तो वो ऑनलाइन क्लास जरुर देखता है इससे काफी कुछ सिखने को मिल जाता है.

रिसर्च करें

आपको पायलट बनने के लिए कुछ रिसर्च करते रहना चाहिए आप YouTube और इन्टरनेट आदि पर ऐरोप्लन आदि से जुडी काफी रिसर्च कर सकते है और इससे काफी कुछ सीख भी सकते है जैसे की प्लान कितने तरह की होती है, कैसे काम करती है, उड़ान कैसे भरती है इस तरह की आप शुरुआत से रिसर्च करते रहेगे तो इससे आपको ऐरोप्लन से जुडा काफी अच्छा अनुभव प्राप्त हो जायेगा जिससे पायलट बनने में आपको आसानी होगी.

Calculation – इस आर्टिकल में हमने आपको Pilot Kaise Bane इसके बारे में जानकारी दी है हमे उम्मीद है की आपको पायलट बनने के बारे में दी गयी जानकारी उपयोगी लगी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसे अपने मित्रो के साथ शेयर जरूर करें और इससे जुड़ा किसी भी प्रकार का सवाल पूछना चाहे तो आप हमे कमेंट आदि के माध्यम से भी बता सकते है.

पिछला लेखSacha Dharm Konsa Hai? विश्व का सच्चा धर्म कौनसा है
अगला लेखHeart Attack क्या है व हार्ट अटैक से बचने के घरेलू उपाय

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें