नमस्कार मित्रो इस आर्टिकल में हम आपको PGDM Full Form in Hindi से जुडी जानकारी बताने वाले है आप सभी लोग जानते है की अक्सर हम सब इसके बारे में पढ़ते व सुनते रहते है पर हमे इसके बारे में अधिक जानकारी नहीं होती तो हम आपको आज इससे जुडी पूरी जानकारी इस आर्टिकल के माध्यम से बताने वाले है.

PGDM Full Form in Hindi

अगर आप विधार्थी है तो आपको इसके बारे में जानकारी होनी बहुत ही जरुरी है की PGDM क्या होता है एवं PGDM किसे कहते है और PGDM Full Form क्या होता है इसके फायदे क्या क्या होते है व इस कोर्स को कैसे करते है इन सब के बारे में इस आर्टिकल में हम आपको जानकारी बतायेगे.

PGDM Full Form in Hindi

PGDM क्या है व यह कोर्स कैसे करते है इन सब के बारे में बताने से पहले हम आपको इसका पूरा  नाम क्या होता है इसके बारे में जानकारी बता रहे है.

PGDM Full Form – POST GRADUATE DIPLOMA IN MANAGEMENT

हिंदी में PGDM को प्रबंधन में स्नातकोत्तर डिप्लोमा भी कहा जाता है व यह कोर्स वो संसथान करवाती है जिन्हे अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद् AICTE के द्वारा मान्यता प्राप्त हो.

PGDM क्या है

देश में कई सारी संस्था हाल में PGDM कोर्स करवाती है व इस कोर्स के लिए किसी भी संस्था को अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद् AICTE के द्वारा मान्यता प्रदान की जाती है व यह एक फुल टाइम का management course होता है व इसमें आपके पाठ्यक्रम के आधार पर आपके अलग अलग सेमीनार हो सकते है जैसे की 4 अथवा 6 सेमीनार में इसकी विभाजित किया जा सकता है.

जो जो संस्था PGDM का कार्स करवाती है उन सभी संसथान को AICTE से मान्यता प्राप्त करनी जरुरी है तभी वो आपको यह कोर्स करवा सकते है व यह काफी हद तक MBA के  समान हो होता है जैसे की MBA में आपको डिग्री दी जाती है वैसे ही PGDM में आपको पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा दिया जायेगा व यह किसी भी प्रकार के विश्वविधालय से सम्बंधित नहीं होते है इनको डिप्लोमा कोर्स के रूप में ही माना जाता है.

PGDM Course कैसे करें

अगर आप इस कोर्स को करना चाहते है तो इसके लिए आपके पास सबसे पहले तो बेचलर डिग्री होनी जरुरी है व इसके साथ ही आपके डिग्री में 50 प्रतिशत अंक होने अनिवार्य है अगर आपकी रूचि PGDM कोर्स को करने में है तो इसके लिए आपको सबसे पहले तो बाहरवीं उत्तीर्ण करनी होगी उसके बाद आपको ग्रेडुएशन में admission लेना होता है व उसके बाद आपको 3 वर्ष की collage की पढाई करनी होती है व इसके बाद आप PGDM  कर सकते है व इस बात का भी आपको ध्यान रखना जरुरी है की उसमे किसी भी आवेदक के 10वी, 12वी और ग्रेजुएशन के पिछले शैक्षणिक Performance के आधार पर गणना की जाती है.

PGDM करने से पहले आपको इसके Entrance Exam देने होते है व इसके Entrance Exam को उत्तीर्ण करने के बाद ही आप इसकी परीक्षा को दे सकते है व इसमें आप आवेदन कर सकते है व इसके अलावा कई सारे संसथान ऐसे भी है जो CAT स्कोर और Group Discussion एवं Personal Interview के आधार पर  कैंडिडेट को इसमें एडमिशन देते है पर अधिकांश संसथान में आपको इसमें एडमिशन लेने के लिए Entrance Exam देना जरुरी होता है.

PGDM के Subject

अक्सर लोगो के मन में इस प्रकार के सवाल होते है की इसमें आपको कौन कौनसे सब्जेक्ट मिलते है तो हम आपको बता दे की इसमें आपको  लगभग सभी प्रकार के सब्जेक्ट मिल जायेगे जिनमे से आप अपनी रूचि के अनुसार किसी भी सब्जेक्ट को ले सकते है व उसने आपको निम्न प्रकार के सब्जेक्ट मिल जाते है जैसे की –

  • Finance
  • Marketing
  • Accounting
  • Human Resource
  • s Information Technology
  • Operations Management
  • Supply Chain Management

यह सभी प्रकार के सब्जेक्ट आपको PGDM  के  अंतर्गत मिल जाते है व आप इनमे से आप अपनी रूचि अनुसार किसी भी सब्जेक्ट का चुनाव कर सकते है.

PGDM के बाद जॉब्स

अगर आप इस कोर्स को करते है तो इसके बाद आपको किस किस क्षेत्र में नौकरी मिल सकती है इसके बारे में आपको पता होना चाहिए हम आपको इस कोर्स के बाद मिलने वाली जॉब के बारे में बता रहे है जो की आपको इस कोर्स के बाद मिल सकती है.

  • Manager
  • Logistics
  • Accountant
  • Teacher & Professor
  • Tourism Manager
  • Retailing Manager
  • Public Relation Officer
  • Hotel & Catering Manager
  • Executive Director & Head
  • Publisher & Columnist
  • Sale-purchase Assist Manager

इस कोर्स को करने के बाद आपको निम्न क्षेत्र में नौकरी के अवसर प्राप्त हो सकते है व इस कोर्स के बाद आपको हाई प्रोफाइल वाली  नौकरी मिलने की  संभावना काफी अधिक बढ़ जाती है अगर  आपको निम्न  प्रकार की नौकरी करने में रूचि है तो आप इस कोर्स को कर सकते है.

Calculation – इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको PGDM Full Form in Hindi एवं PGDM क्या होता है इसके बारे में जानकारी देने का प्रयत्न किया है हमे उम्मीद है की आपको हमारी बताई जानकारी उपयोगी लगी होगी अगर आपको PGDM के बारे में दी गयी जानकारी अच्छी लग तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें व इससे जुड़ा किसी भी प्रकार का सवाल आदि पूछना चाहते है तो आप हमे  कमेंट कर के बता सकते है.

पिछला लेखBMC Full Form in Hindi : BMC किसे कहते है व इसके कार्य क्या है
अगला लेखGK Today : Most Important Current Affairs की जानकारी हिंदी में

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें