OBC Full Form in Hindi | ओ. बी. सी. का पूरा नाम क्या है?

नमस्कार मित्रो आज हम आपको OBC Full Form in Hindi के बारे में जानकारी देने वाले है अक्सर कई लोगो को ओबीसी के बारे में जानकारी नही होती की इसका पूरा नाम क्या होता है एवं इसमें कौन कौनसी जातियां आती है तो ऐसे में यह आर्टिकल आपके लिए बेहद ही उपयोगी साबित हो सकता है.

OBC Full Form in Hindi

अक्सर हर व्यक्ति के मन में ओबीसी को लेकर अलग अलग प्रकार के सवाल होते है एवं ज्यादातर लोगो को इसके बारे में ज्यादा जानकारी नही होती हालांकि आपको इसके बारे में जानकारी होनी बेहद ही आवश्यक है क्युकी इस तरह की जानकारी आपके जीवन में कई तरह से फायदेमंद साबित हो सकती है इससे जुडी विस्तृत जानकारी के लिए OBC Full Form in Hindi आर्टिकल को ध्यान से पढ़े.

OBC Full Form in Hindi

ओबीसी एक आरक्षित वर्ग है जो बेहद ही पॉपुलर टर्म माना जाता है इस श्रेणी में कई अलग अलग प्रकार की जातियां आती है एवं इस वर्ग में आने वाले व्यक्तियों को सरकारी नौकरी में भी आरक्षण प्रदान किया जाता है इसके बारे में अन्य जानकारी बताने से पहले हम आपको इसका पूरा नाम बता रहे है जो की निम्न प्रकार से है.

OBC Ka FULL FORM – Other Backward Class

हिंदी में इसे अन्य पिछड़ा वर्ग  कहा जाता है इस वर्ग में माध्यम श्रेणी के लोगो को एवं अल्पसंख्यक समुदाय को शामिल किया गया है इन्हें सरकार की तरफ से विशेष प्रकार की योजनाओं का लाभ एवं नौकरी में आरक्षण आदि दिया जाता है इन्हें सरकार के द्वारा दिए जाने वाले कुछ विशेष लाभ जनरल वर्ग से ज्यादा और एससी एसटी वर्ग से कम होते है.

ओबीसी किसे कहते है

इस वर्ग में भारत की कई अलग अलग जातियां को शामिल किया गया है इसके साथ ही मुस्लिम एवं अन्य कई अल्पसंख्यक धर्म के लोगो को भी ओबीसी वर्ग में शामिल किया गया है, ओबीसी की जडे भारत के संविधान के अनुच्छेद 16 (4l और 340 में हैं जहां इसे पिछड़ा वर्ग के नाम से संकलित किया गया हैं.

OBC की पापुलेशन 42% हैं जबकी रिजर्वेशन 27% लोगो को ही दिया गया हैं 1980 मे मंडल आयोग की रिपोर्ट में ओबीसी का देश की जनसंख्या में 52% हिस्सा पाया गया एवं राष्ट्रीय नमुना सर्वेक्षण में 2006 तक ये आंकडा घट कर 41% तक आ गया.

भारत के संविधान में ओबीसी वर्ग को सामाजिक एवं शैक्षिक क्षेत्र मे पिछडे वर्ग के‌ रुप में वर्णित किया गया है, ओबीसी को सार्वजनिक क्षेत्र के रोजगार में शिक्षा में 27% आरक्षण दिया जाता है एवं भारत में कुल 4 वर्ग है जिसमे जनरल, ओबीसी, एससी, एसटी आदि शामिल है इन सभी वर्गों में ओबीसी वर्ग सबसे बड़ा है और सबसे ज्यादा जनसख्याँ भी इसी वर्ग में आती है.

ओबीसी का मतलब क्या होता है?

ओबीसी वर्ग को सन् 1979 में बनाया गया था एवं जो लोग आर्थिक रूप से कमजोर और गरीब थे उन्हें सरकारी योजनाओं का लाभ देने के लिए और सरकारी नौकरी में आरक्षण देने के लिए ओबीसी वर्ग में शामिल किया गया इस वर्ग में अधिकांश किसान, चारवाह, मजदुर, और गरीब परिवार के सदस्य आते है ओबीसी में आने वाले लोगो को आर्थिक रूप से माध्यम वर्ग का माना जाता है.

ओबीसी वर्ग नौकरी में आरक्षण देने का लाभ 1990 में वीपी सिंह की सरकार की सिफारिशों पर मंडल आयोग द्वारा दिया गया था इसके बाद ओबीसी वर्ग के अभ्यर्थियों को सरकारी नौकरी व शिक्षण संस्थानों एवं अन्य कई सरकार द्वारा निर्देशित उपक्रमों में 27% तक का आरक्षण दिया जाता है इससे ओबीसी का उम्मीदवार आसानी से सरकारी नौकरी प्राप्त कर सकता है.

ओबीसी में कौन कौन जातियां आती है

ओबीसी को सबसे बड़ा वर्ग माना गया है एवं इस वर्ग में सैकड़ो प्रकार की अलग अलग जातियां आती है हर क्षेत्र में अलग अलग जातियों को ओबीसी वर्ग में रखा गया है हम आपको इस वर्ग में आने वाली कुछ विशेष जातियों के बारे में बता रहे है जो निम्न प्रकार से है

  •  फकीर
  •  सोनी
  • अहीर
  • कंडेरा
  • कंसारा
  • कच्ची कुशवाहा
  • कलबी
  • कलाल
  • कसाई
  • कांबी
  • किरार
  • खारोल
  • गडरिए
  • गाड़िया-लोहार
  • गिरी गोसाईं
  • गुर्जर
  • घांची
  • चरण
  • चारण
  • चूनगर
  • छिप्पा
  • जनवा
  • जांगिड
  • जाट (भरतपुर एंड धौलपुर के जिलों को छोड़कर)
  • जुलाहा (हिन्दू & मुस्लिम)
  • जोगी
  • ठठेर
  • ठठेरादेशांतरी
  • तमोली
  • तमोली
  • तेली
  • दमामीनगारची
  • दरोगा
  • दर्ज़ी
  • देशवाली
  • धाकड़र
  • नाइ
  • न्यारिया
  • पटवा
  • पांचाल
  • प्रजापति
  • बंजारा
  • बगारिआ
  • बरी
  • बागवान
  • भटिआरा
  • भाट
  • भारभुजा
  • मनिहार
  • महा-ब्राह्मण
  • माली
  • माली सैनी
  • मिरासी
  • मेर
  • मेव
  • मोगीअ
  • मोची
  • रंगरेज़
  • रंगासामी
  • राइ-सिख
  • राइका
  • रावत
  • रावना-राजपूत
  • लखारा
  • लोधी
  • लोहारवैष्णव
  • वज़ीर
  • सक्का-भिश्ती
  • सतिया-सिंधी
  • साद
  • सिंधी मुसलमान
  • सिकलीगर
  • सिरकीवाल
  • सिरवी
  • सिरवी.
  • सिलावट
  • स्वामी
  • हेला

निम्न प्रकार से सैकड़ो अलग अलग प्रकार की जातियों को ओबीसी वर्ग में शामिल किया गया है एवं समय समय पर नयी नयी जातियों को ओबीसी वर्ग में शामिल किया जाता है इसलिए आने वाले समय में ओबीसी वर्ग में जातियों की संख्या बढ़ भी सकती है.

ओबीसी को नौकरी में लाभ

ओबीसी वर्ग के लोगो को अच्छा रोजगार प्रदान करने के उद्देश्य से सरकार के द्वारा इन्हें सरकारी नौकरी में भी 27 प्रतिशत तक का आरक्षण दिया जाता है इसकी मदद से ओबीसी वर्ग के लोग आसानी से सरकारी नौकरी में आरक्षण का लाभ प्राप्त करके नौकरी प्राप्त कर सकते है इसके अलावा सरकार आरक्षित वर्गों के लिए कोई योजना निकालती है तो उसका लाभ भी ओबीसी वर्ग के लोग प्राप्त कर सकते है.

इस आर्टिकल में हमने आपको OBC Full Form in Hindi के बारे में जानकारी दी है हमे उम्मीद है आपको हमारी बताई गयी जानकारी उपयोग लगी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर जरुर करें और इससे जुदा किसी भी तरह का सवाल पूछना चाहे तो आप हमे कमेंट के द्वारा भी बता सकते है.

पिछला लेखमात्र 7 दिनों में गोरा होने का सबसे आसान घरेलु तरीका?
अगला लेख10वीं के बाद आर्मी कैसे ज्वाइन करें? पूरी जानकारी
Sukhdev Singh
सुखदेव सिंह एक अनुभवी संक्षिप्त रूप विशेषज्ञ और करियर काउंसलर हैं, जिनके पास 9 से अधिक वर्षों का अनुभव है। वे संक्षिप्त रूपों, शब्दावली, और तकनीकी शब्दों के क्षेत्र में विशेषज्ञ हैं। वे संक्षिप्त रूपों को समझने और समझाने में माहिर हैं।

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें