आज हम आपको Mobile Ka Full Form  के बारे में बताने वाले हैं की मोबाइल का पूरा नाम क्या होता हैं अक्सर बहुत से लोगो को इसके बारे में पता नहीं होता की मोबाईल का  पूरा नाम क्या होता है  तो आज का हमारा यह आर्टिकल इसीलिए लिखा गया हैं ताकि हम आपको मोबाइल्स का पूरा नाम क्या हैं इसके बारे में जानकारी बता सके.

Mobile Ka Full Form

अक्सर आने देखा होगा की बहुत से लोग या लगभग सभी लोग मोबाईल फोन का इस्तमाल करते हैं पर बहुत से लोगो को इसके बारे में पता नहीं होता की आखिर Mobile Ka Full Form क्या होता हैं क्युकी हम सब अक्सर इसको मोबाइल के नाम से ही जानते हैं जिसके कारण हमें इसका पूरा नाम पता नहीं चल पाता.

अगर आप मोबाईल का इस्तमाल करते हैं तो ये जानना आपके लिए बहुत जरुरी हैं की इसका पूरा नाम क्या होता हैं क्युकी कई बार  परीक्षा आदि में भी मोबाइल फोन का पूरा नाम क्य होता हैं इसके बारे में सवाल पूछे जाते हैं व आम बोलचाल में भी लोग इस प्रकार के सवाल पूछा करते हैं तो अगर आपको इसकी जानकारी होगी तो ही आप उनको इसके बारे में बता पाएंगे.

यह भी पढ़े –  Mobile Number Tracker से Phone की Location Track कैसे करे

Mobile Ka Full Form

सबसे पहले हम आपको इसका पूरा नाम क्या होता हैं इसके बारे में बता रहे हैं ताकि आपको इसके पुरे नाम के बारे में जानकारी प्राप्त हो सके.

Mobile Full Form-  M – Modified O – Operation B – Byte I – integration L – Limited E – energy होता है.

हिंदी में इसको दूरभाष यंत्र भी कहा जाता हैं इसका नाम बहुत बड़ा होने के कारण लोगो को पूरा नाम बोलने में काफी परेशानी हो सकती हैं जिसके कारण इसको एक आसान नाम दिया गया हैं मोबाईल जिससे की लोगो को ये शब्द बोलने में आसानी हो.

यह भी पढ़े –  किसी भी Mobile का Sim Card Number कैसे पता करे

Mobile Phone क्यों  बनाया गया

अब हम बात करते हैं की आखिर यह मोबाइल होता क्या हैं तो कुछ समय पहले की बात करे तो लोगो के पास एक दूसरे व्यक्ति से संपर्क करने के लिए कोई ख़ास तरीके नहीं थे जिससे की वो लोग दूसरे व्यक्ति से जल्दी सम्पर्क कर सके जैसे की कोई व्यक्ति बाहर कमाने गया हैं व उसको अपने घर वालो से बात करनी हैं या कोई बात बतानी हैं तो इसके लिए उनके पास कोई ख़ास तरीके नहीं थे जिससे की वो घर वालो से जल्दी संपर्क कर सके.

ऐसे में पहले लोग संपर्क करने के लिए तार या पोस्ट का इस्तमाल करते थे पर यातायात की कमी के कारण दूर के पोस्ट आने में काफी समय लग जाता था इस कारण से कंपनी ने लोगो को तुरंत एक दूसरे से संपर्क करने के लिए एक डिवाइस बनाने का फैसला किया जिससे की लोग एक दूसरे से काम समय में संपर्क सके.

यह भी पढ़े – किसी के नाम से उसका Mobile Number Track कैसे करें। 

इसके लिए मोबाइल फोन बनाया गया था जिसके माध्यम से लोग अपने घर वालो से बात कर पाते थे लोगो को ऐसी  सुविधा पहली बार मिली थी जिसके कारण लोगो ने इसका बहुत जल्दी इस्तमाल करना शुरू कर दिया जिससे ये एक बहुत ही सफल प्रोजेक्ट रहा.

हालांकि उस वक्त इस फोन की कीमत बहुत ज्याद थी व इसकी call दर भी बहुत ज्यादा थी जिसके कारण शुरुआत में इसको सिर्फ आमिर लोग ही इस्तमाल करते थे पर धीरे धीरे सभी लोग इसका इस्तमाल करने लग गये पुराने फोन में कॉल व जैसी सुविधाएं ही दी गयी थी पर धीरे धीरे मोबाइल फोन की कंपनी बढ़ती गयी व कंपनी ने इन फोन में अन्य कई सारे बदलाव किये.

यह भी पढ़े – Android Mobile का Pattern Lock कैसे खोले पूरी जानकारी

मोबाइल का अविष्कार किसने किया

जैसा की हमने आपको बताया की पहले के मोबाइल में व आज के मोबाईल में बहुत ज्याद अंतर हैं क्युकी  पहले के मोबाइल में सिमित सेवाएं मिलती थी व सबसे पहले जो मोबाइल मिले थे उसमे सिर्फ कोई व्यक्ति किसी दूसरे व्यक्ति को रेडिओ की तरह संदेस भेज पाते थे.

पर धीरे धीरे कई सारी कंपनी ने मोबाइल बनाने शुरू कर दिए व अपने sell को बढ़ाने के लिए कंपनी ने मोबाइल में धीरे धीरे कई अलग अलग फीचर  add कर दिए थे जिसके कारण आज हमे एक बेहद ज्यादा फीचर वाला फोन देखने को मिलता है.

दुनिया का सबसे पहला फोन मोटोरोला कंपनी के इजीनियर John F. Mitchell और Martin Cooper ने सन्न 1973 में बनाया था व इस फोन का वजन 2 किलोग्राम तक था जो की वर्तमान के फोन के वजन से 20 गुना ज्यादा था व इस फोन की शुरुआती कीमत दो लाख रुपये थे.

यह भी पढ़े –  Android Mobile Me Recycle Bin App Kaise Use Kare

इसके बाद मोटोरोला ने दुसरा फोन Dynatac 8000x मोडल 1983 में बनाया था जिसको एक बार पूरा चार्ज करने के बाद लगभग 35 मिनट तक लगातार बात की जा सकती  व Automated Cellular Network सर्वप्रथम जापान में सन 1979 में शुरू किया गया था जो की दुनिया का First Generation (1G) System था इसके द्वारा एक बार में कई अलग अलग स्थान के लोग आपसे संपर्क कर सकते थे.

इसके बाद सन 1991 में 2G टेक्नोलॉजी की शुरुआत की गयी व यह फ़िनलैंड में Radiolinja द्वारा शुरू की गयी थी व सर्वप्रथम 1997 में कैमरे वाले फोन की शुरुआत की गयी थी.

2G मोबाइल फोन बनने के 10 वर्षों बाद सन 2001 में 3G मोबाइल को बनाया गया था जो की जापान की Ntt Docomo कंपनी ने बनाया था दुनिया का सबसे ज्यादा बिकने वाला फोन Nokia 1100  था व इस फोन को अभी तक कोई टक्कर नहीं दे पाया है

यह भी पढ़े – Mobile Balance Transfer Kaise Kare 

मोबाइल फोन के फायदे

अगर आप मोबाइल का इस्तमाल करते हैं तो इसके कई सरे फायदे भी हैं जिससे की आप इसका इस्तमाल करना शुरू कर सकते हैं व ये सभी फायदे आपको मोबाइल फोन से होंगे जिसके बारे में हम आपको बता रहे है.

  • मोबाइल फोन से हम किसी भी दूर के व्यक्ति से भी फोन पर आसानी से बात कर सकते हैं व किसी भी व्यक्ति को sms भी भेज सकते है
  • पहले कोई भी फोटो या वीडियो बनाने के लिए लोगो को बड़े कैमरे का सहारा लेना होता था किसको संभालने में बहुत  समस्या होती थी पर अब आप अपने फोन से भी कोई भी फोटो या विडिओ या voice record कर सकते है
  • मोबाइल फोन से आप Facebook, Instagram, WhatsApp, Telegram, Hike जैसे सोशल मीडिया से जुड़ कर नए नए मित्र बना सकते है
  • अगर आप ऑनलाइन पढ़ना चाहते हैं तो भी आप मोबाईल फोन में youtube के द्वारा पढ़  सकते है
  • इसके अलावा अगर आपको ऑनलाइन शॉपिंग या होटल बुकिंग बस बुकिंग ट्रैन बुकिंग आदि करनी हैं तो भी आप मोबाइल के माध्यम से कर सकते है
  • मोबाइल फोन पर आप देश विदेश की खबर अपने घर बैठे ही देख सकते हैं व टीवी भी देख सकते है
  • मोबाइल फोन से आप पैसे का लेन देन व अन्य  कई सारे अलग अलग कार्य घर बैठे कर सकते है
  • मोबाइल पर आप कोई भी सांग या वीडियो या मूवी आदि भी देख सकते है
  • अगर आप किसी व्यक्ति को देखने के इच्छुक हैं तो मोबाइल फोन में वीडियो कॉल के फीचर द्वारा आप किसी भी व्यक्ति से वीडियो कॉल पर बात कर सकते है

इसके अलावा भी मोबाइल फोन के कई सारे अलग अलग फायदे होते है  जब आप इसका इस्तमाल  करना शुरू करते हैं तो आपको इसके फायदे के बारे में भी पता चल जाता हैं की इससे आपको कितने प्रकार के अलग अलग फायदे हो सकते हैं व शिक्षा के क्षेत्र में भी मोबाइल  बहुत उपयोगी होता हैं अगर इसका सही इस्तमाल किया जाए तो.

यह भी पढ़े – Mobile Se Document Scan Kaise Kare 

मोबाइल फोन के नुकसान

जैसे की आप सभी जानते हैं की हर चीज के दो पहलू होते हैं उसी प्रकार से मोबाइल फोन के भी फायदे व नुकसान भी हैं अगर आप मोबाइल का इस्तमाल करते हैं तो आपको इसके कुछ नुकसान के बारे में पता होना जरुरी  हैं ताकि आप इसके होने वाले नुक्सान से बच सके व आप इसका सही तरीके से इस्तमाल कर सके हम आपको इसके कुछ नुकसान के बारे में बता रहे है.

  • मोबाईल के इस्तमाल से आपकी आखो को बहुत ज्यादा नुकसान पहुंच सकता हैं व इससे आपको देखने में परेशानी हो सकती है 
  • मोबाइल फोन का ज्यादा इस्तमाल करने से आपको मानसिक दुष्प्रभाव भी हो सकते हैं जिससे आपको चिड़चिड़ापन की समस्या हो सकती है 
  • मोबाईल में अधिक रूचि हो जाने पर आप ना तो पढ़ाई कर पाएंगे ना ही जॉब कर पाएंगे व ना हो घर वालो को समय दे पाएंगे 
  • अगर आप पढाई करते हैं व मोबाइल का इस्तमाल करते हैं तो धीरे धीरे  आपका पढ़ाई की तरफ  आकर्षण कम होता जाएगा जो की एक बहुत बड़ा नुकसान है 
  • मोबाइल का इस्तामल करने से हमारी याददाश्त कम हो सकती हैं क्युकी मोबाइल का इस्तमाल करने के बाद हम हर बात को याद रखने की बजाय उसको अपने
  • फोन में  सेव कर लेते हैं जिससे की हमारी याद  करने की  क्षमता कम हो सकती है
  •  मोबाइल फोन से खतरनाक रेडिएशन निकलता हैं जो की सिर्फ पशु पक्षियों के लिए  ही नहीं बल्कि मनुष्य के लिए भी बहुत हानिकारक होता है
  • मोबाइल में इयरफोन लगा कर गाना सुनने से आपको बहरापन की समस्या भी हो सकती है
  • मोबाइल फोन में गेम्स की एक बहुत बुरी लत होती हैं जो की बच्चो को बहुत बुरी तरह से  प्रभावित कर सकती है

इसके अलावा भी मोबाइल फोन इस्तमाल करने के कई सारे अलग अलग नुकसान होते हैं जो की सभी के लिए बहुत हानिकारक हो सकते हैं इसलिए आप मोबाइल का इस्तमाल करते हैं तो आपको इसके नुक्सान के बारे में भी जानकारी होनी जरुरी है.

यह भी पढ़े – Mobile से Delete Photo & Video Recover कैसे करें।

मोबाइल फोन का  इस्तमाल करे या नहीं

इसके फायदे व नुकसान देखने के बाद सभी को ये लगता हैं की हमे इसका इस्तमाल करना चाहिए या नहीं तो में यही कहुगा की आप इसका इस्तमाल जरूर करे क्युकी ये एक बहुत ही अच्छी सुविधा हैं पर इसका सिमित  मात्रा में व आवशयकता पड़ने पर ही इस्तमाल करे.

अगर आपके घर में छोटे बच्चे हैं तो उनकी कभी भी मोबाइल  फोन ना दे उनको पढ़ाई वा शारीरिक खेल खेलने के लिए प्रेरित करे ना की मोबाइल गेम खेलने के  लिए.

यह भी पढ़े –  I Love You Full Form क्या हैं व इस शब्द का इस्तमाल कहा करें

अगर आप सिमित मात्रा में व जरुरत पड़ने पर इसका इस्तमाल करते हैं तो आप इसके दुष्प्रभाव से काफी हद तक बचे रह सकते हैं व आप इसका सही तरीके से इस्तमाल भी कर पाएंगे.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें