आज हम इस आर्टिकल में MD Full Form के बारे में बताने वाले हैं बहुत से लोगो को इसके बारे में जानकारी नहीं होती जिसके कारण यह आर्टिकल लिखा गया हैं ताकि हम आपको इसके बारे में पूरी जानकारी हिंदी में बता सके.

MD Full Form

आप सभी जानते होंगे की MD एक बहुत ही अधिक पॉपुलर कोर्स होता हैं अगर आपका सपना डॉक्टर बनने का हैं तो आप इस कोर्स को कर सकते हैं इसमें आप अपना बेहतरीन भविष्य बना सकते है.

आप सभी जानते हैं की डॉक्टर बनना कोई आसान काम नहीं होता इसके लिए आपको बहुत ही अधिक मेहनत करनी होती हैं पर इससे पहले आपको इसके कोर्स के बारे में जानकारी होनी भी जरुरी हैं जिससे आप डॉक्टर बन सकते हैं आज हम md ms full form के बारे में बता रहे हैं इसके साथ ही MD के बारे में अन्य भी महत्वपूर्ण जानकारी बताने वाले है.

यह भी पढ़े – ICT Full Form क्या हैं व ICT कैसे काम करता हैं व इसका उपयोग

MD Full Form

md के बारे में जानने से पहले हम इसके नाम के बारे में जान लेते हैं की इसका पूरा नाम क्या होता है.

MD full form Doctor of Medicine होती हैं

ये इसको मूल रुप से लेटिन भाषा के Madicinae Doctor से लिया गया हैं जिसका अर्थ Teacher of Magician होता हैं चिकित्सा के क्षेत्र में ये एक बहुत बडी डिग्री होती हैं व MBBS डिग्री धारक व्यक्ति दवाएं व सर्जरी के क्षेत्र में भेद प्राप्त करने के लिए अधिकांश इस कोर्स को करते हैं अगर आप ये कोर्स करते हैं तो चिकित्सा के क्षेत्र में आप बहुत अच्छा भविष्य बना सकते हैं.

यह भी पढ़े – MC Full Form in Hindi व MC किसे कहा जाता हैं व इसके लक्षण

MD MS क्या है

यह डॉक्टर  बनने के लिए एक कोर्स होता हैं जिसको करने के बादमे आप एक डॉक्टर बन सकते हैं डॉक्टर ऑफ मेडिसिन कोर्स 3 वर्ष की अवधि का होता हैं इसमें 6 शैक्षणिक शब्द भी शामिल होते है. 

भारत के सभी मेडिकल स्कूलों और कॉलेजों  में एमडी डिग्री प्रदान की जाती हैं आप किसी भी मेडिकल कॉलेज से यह कोर्स कर सकते हैं पर अगर हमेशा कोशिश करे की आप अच्छे मेडिकल कॉलेज से ये कोर्स कर पाए ताकि भविष्य में आपको बहुत अधिक लाभ मिल सके. 

जैसा की हमने बताया है  की डॉक्टर बनने के लिए ये एक बेहतरीन कोर्स होता हैं और इस कोर्स को करने के लिए पहले आपको BHMS  करना होता हैं उसके बाद ही आप इस कोर्स को कर सकते है.

यह भी पढ़े – FD Full Form in Hindi और Fixed Diposit क्या होता है

Doctor of Medicine के लिए योग्यता 

इस कोर्स के लिए  योग्यता भी रखी  गयी हैं आपको उसको पूरा करना जरुरी हैं तभी आप इस  कोर्स को कर सकते हैं इसके लिए निम्न योग्यता होनी चाहिए.

  • सबसे पहले आपको अच्छे अंको से दसवीं उत्तीर्ण करनी होती है.
  • अब आप  फिजिक्स केमिस्ट्री बायोलॉजी और इंग्लिश विषय से बाहरवीं उत्तीर्ण कर ले उसमे कम से कम 50% या 60% मार्क्स होने जरुरी है.
  • अब आप  MBBS या BHMS कोर्स के लिए आवेदन करे व अच्छी रैंक के साथ इस कोर्स को उत्तीर्ण कर ले.
  • अब आप एमडी के लिए आवेदन कर सकते है.

इस प्रकार से आप इस कोर्स के लिए आवेदन कर सकते हैं इसमें अच्छे भविष्य के लिए आपके अंक और आपकी रैंक बहुत अधिक मायने रखती हैं इसलिए हमेशा कोशिश करे की आपको अच्छे अंक प्राप्त हो और आप अच्छी रैंक हासिल कर सके.

यह भी पढ़े – PCS Officer कैसे बने और PCS Full Form क्या होता है

MD के बाद Career

अगर आप एक बेहतरीन कैरियर बनाना चाहते हैं तो ये कोर्स आपके लिए बेहद अच्छा हैं आज भारत में चिकित्सक को काफी सम्मान दिया जाता हैं जिसके कारण इसे एक सम्मानजनक नौकरी कहा जाता हैं व अन्य क्षेत्र की तुलना मे इस क्षेत्र मे आपको काफी अच्छा वेतन दिया जाता हैं MD करने के बाद आप चिकित्सा के क्षेत्र में, सरकारी एवं निजी अस्पताल, स्वास्थ्य संगठन, सेना आदि क्षेत्रों में अपना बेहतरीन भविष्य बना सकते हो.

यह भी पढ़े – PCS Officer कैसे बने और PCS Full Form क्या होता है

MD Course के फायदे 

इस कोर्स को करने पर आपको कई प्रकार के अलग अलग फायदे होते है  जिसमे से कुछ  फायदे के बारे में हम आपको बता रहे हैं यह आपको इस कोर्स में फायदे मिल जाते है.

  1. इस कोर्स को करने के बाद आप सर्जरी में एक्सपर्ट बन जाते है.
  2. एमडी पूरी होने के बाद आपको पोस्ट ग्रेजुएट  की उपाधि मिल जाती है.
  3. इस कोर्स को करने के बाद आपको अस्पताल में डॉक्टर की पोस्ट पर नौकरी प्राप्त हो जाती हैं.
  4. इस कोर्स को करने के बाद आप चाहो तो विदेश में भी नौकरी कर सकते हैं वहा भी इस कोर्स को करने के बाद नौकरी मिल जाती है.
  5. इस कोर्स को करने के बाद आप चाहो तो  खुद का भी अस्पताल खोल सकते है.

इसके अलावा भी इस  कोर्स को करने के अन्य कई सारे अलग अलग फायदे होते है.

यह भी पढ़े – CEO Full Form क्या होता हैं व CEO की Salary कितनी होती है

MD Kaise Kare

अगर आप MD करना चाहते हैं तो इसके लिए आपका MBBS होना बहुत जरुरी हैं क्युँकि इसके होने के बाद ही आप MD कर पायेगे MD करने के बाद आप सर्जन डॉक्टर बन जाते हैं MD के लिए अच्छे institute मे admission लेने के लिए आपको Neet-PG की परीक्षा को अच्छे अंको के साथ उतीर्ण करना होगा इसके बाद आप इस कोर्स को कर सकते हैं.

  • 12th उत्तीर्ण करे – सबसे पहले इस कोर्स को करने के लिए आपको फिजिक्स केमिस्ट्री बायोलॉजी और इंग्लिश सब्जेक्ट में बाहरवीं उत्तीर्ण करनी है.
  • MBBS या BHMS करे– अब आप MBBS या BHMS  के लिए आवेदन कर ले व इस कोर्स को पूरा करे इसमें आप कोशिश करे की आपको बेहतरीन रैंक मिल सके ये कोर्स आप सरकारी और प्राइवेट दोनों कॉलेज से कर सकते है.
  • एंट्रेंस एग्जाम – अब आपको एमडी कोर्स करने के लिए इसका एंट्रेंस एग्जाम देना होता हैं उसको उत्तीर्ण करने के बाद आपको इसमें एडमिशन मिल जाता है.
  • एमडी कोर्स पूरा कर ले –  जब आपको इसमें एडमिशन मिल जाता हैं तो उसके बाद आपको यह 3 वर्षो का कोर्स पूरा करना होता हैं उसके बाद आपको इसकी डिग्री मिल जाती है.

इस प्रकार से आप इस कोर्स को कर सकते हैं व बादमे आपको डिग्री मिलने पर आप किसी भी अस्पताल में डॉक्टर की पोस्ट पर नौकरी प्राप्त कर सकते हैं व आप चाहो तो खुद का अस्पताल भी खोल सकते है.

यह भी पढ़े – PUBG Full Form in Hindi? PUBG क्या हैं और कैसे खेलते है

MD का वेतन

जैसा की हमने पहले भी बताया था की अन्य क्षेत्र की तुलना मे इस क्षेत्र में अधिक वेतन दिया जाता हैं व अगर हम बात करे MD की तो MD को शुरुआती स्तर पर 2,50,000 – 4,00,000 तक का वेतन दिया जाता हैं व सभी हॉस्पिटल के नियमानुसार इसमे थोड़ा अंतर हो सकता हैं.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें