नमस्कार मित्रो इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको MCA Full Form in Hindi एवं MCA क्या होता है इसके बारे में जानकारी देने वाले है हम सब लोग MCA के बारे में तो कई बार सुनते है पर हमे इसके बारे में ज्यादा जानकारी नहीं होती की यह क्या होता है व इसके फायदे क्या क्या होते है तो हम आपको इसके बारे में आज पूरी जानकारी बताने वाले है.

MCA Full Form in Hindi

अगर आप स्टूडेंट है तो आपको MCA  के बारे में जानकारी होनी बहुत ही जरुरी है क्युकी इस प्रकार की जानकारी आपके भविष्य में बहुत ही उपयोगी हो सकती है व हम आपको MCA Full Form क्या होता है MCA किसे कहते है व यह कैसे करें व MCA करने के फायदे क्या क्या होते है इन सब के बारे में जानकारी बतायेगे.

MCA Full Form in Hindi

MCA क्या होता है इसके बारे में बताने से पहले हम आपको इसका पूरा नाम क्या होता है इसके बारे में जानकारी बता रहे है.

MCA Full Form – Master Degree In Computer Applications.

हिंदी में इसको कंप्यूटर अनुप्रयोगों में मास्टर डिग्री भी  कहा जाता है व यह एक पोस्ट ग्रेडुएशन डिग्री होती है जिसको आप BCA करने के बाद ही कर सकते है.

MCA क्या होता है

जैसे की हमने आपको बताया की यह एक पोस्ट ग्रेडुएशन डिग्री है जिसको करने के लिए आपको पहले BCA उत्तीर्ण करनी जरुरी है उसके बाद ही आप MCA कर सकते है व कई लोग बिना BCA के भी MCA में प्रवेश प्राप्त कर लेते है एवं यह 3 वर्ष का पोस्ट कोर्स होता है जो की आपको लगभग सभी विश्विधालय में मिल सकता है.

अगर आप MCA करना चाहते है तो इसके लिए आपका  ग्रेडुएशन उत्तीर्ण होना अनिवार्य है तभी आप इसके लिए आवेदन कर सकते है ग्रेडुएशन आप किसी भी सब्जेक्ट से कर सकते है उसके बाद आप MCA  के लिए आवेदन  कर सकते है व इसमें प्रवेश प्राप्त कर सकते है व MCA का कोर्स 6 सेमेस्टर में पूरा करवाया जाता है व इसमें आपको लगभग 35 सब्जेक्ट पढ़ाये जाते है.

यह तीन वर्ष का कोर्स होने के साथ ही इसमें आपके एक साल में 2 सेमेस्टर रखे जाते है इस प्रकार से आपके 3 साल तक इसके 6 सेमेस्टर करवाए जाते है इसके बाद आपका यह कोर्स पूर्ण हो जाता है व आपको इसकी डिग्री प्राप्त हो जाती है.

MCA के कोर्स

अगर आप MCA करना चाहते है तो इसके लिए आपको इसके बारे में जानकारी होनी जरुरी है की इसमें आपको कौन कौनसे कोर्स पढ़ाये जाते है तो हम आपको कुछ सब्जेक्ट कर बारे में बता रहे है जो की आपको इस कोर्स में पढ़ाये जायेगे.

  • Networking
  • Web designing
  • System management
  • Software development
  • System engineering
  • Management information system
  • Troubleshooting etc.

निम्न प्रकार के सभी सब्जेक्ट आपको इस कोर्स के अंतर्गत मिल जाते है व इसे साथ ही आपको अन्य सब्जेक्ट भी पढ़ाये जायेगे.

MCA करने के फायदे

अगर आप MCA करते है तो आपको इसके कई सारे फायदे मिलते है व इसका सबसे बड़ा फायदा तो ये है की आप MCA  में पोस्ट ग्रेजुएट हो जाते है व इस कोर्स के पूरा होने के बाद आपको इसकी डिग्री भी मिल जाती है जो की भविष्य में अच्छे रोजगार के लिए आपके लिए बहुत ही उपयोगी हो सकती है.

इस कोर्स को करने के बाद आपको बड़ी बड़ी कंपनी में कंप्यूटर से जुडी नौकरी प्राप्त हो सकती है व आपको एक अच्छी पोस्ट पर नौकरी मिल सकती है इसके साथ ही इस कोर्स को करने के बाद आप सॉफ्टवेयर इंजिनियर भी बन सकते है एवं networking के क्षेत्र में आप कई अलग अलग प्रकार की नौकरी प्राप्त कर सकते है अगर आप चाहे तो इस कोर्स को करने के बाद खुद का रोजगार ही प्राप्त कर सकते है.

MCA कैसे करें

अगर आप MCA करना चाहते है तो आप 2 तरीके से यह कोर्स कर सकते है एक तो सरकारी कॉलेज से या दूसरा किसी भी निजी कॉलेज से यह दोनों प्रकार की collage आपको MCA का कोर्स उपलब्ध करवाती है.

  • सरकारी कॉलेज – अगर आप किसी भी सरकारी कॉलेज  से यह कोर्स करना चाहते है तो इसके लिए पहले आपको इसका एंट्रेंस एग्जाम देना होता है व उसमे उत्तीर्ण होने के बाद ही आपको सरकारी collage में admission मिल  सकता है व सरकारी कॉलेज में इस कोर्स की फीस बहुत कम होती है.
  • निजी कॉलेज  – अक्सर अधिकांश लोग इस कोर्स को निजी कॉलेज से ही करते है क्युकी उसमे लोगो को एंट्रेंस एग्जाम देने की भी जरुरत नहीं होती निजी कॉलेज  में admission लेने के लिए  पहले आपको वहां जाना होता है व इसके बाद आपको वहां पर MCA के लिए आवेदन करना होता है.

MCA की फीस

अगर आप MCA  करना चाहते है तो आपको इसकी फीस के बारे में जानकारी होनी जरुरी है ताकि आपको आगे चलकर कोई परेशानी न हो व इस कोर्स के लिए सभी collage में उनके नियमानुसार अलग अलग फीस होती है अधिकांश collage में निम्न प्रकार से फीस ली जाती है.

  • सरकारी कॉलेज – सरकारी कॉलेज में इसकी फीस काफी कम होती है व सरकारी कॉलेज  में इसके प्रत्येक सेमेस्टर के लिए आपको 5 हजार रूपए तक देने होते है इस प्रकार से 6 सेमेस्टर तक आपकी फीस 30 हजार रूपए के आसपास हो सकती है.
  • निजी कॉलेज  – यह सरकारी की तुलना में काफी महँगी होती है अगर आप निजी कॉलेज  से MCA करना चाहते है तो इसके लिए आपको प्रत्येक सेमेस्टर के लिए 10 हजार रूपए से 25 हजार रूपए तक देने पड़ते है व इस प्रकार से आपको इसके 6 सेमेस्टर के लिए 60 हजार से  लेकर 1 लाख 50 हजार रूपए तक देने पड़ सकते है.

अगर आप चाहे तो सरकारी या निजी किसी भी कॉलेज से यह कोर्स कर सकते है व अगर आप माध्यम परिवार से है व आप अधिक पैसे खर्च करने में सक्षम नहीं है तो आप सरकारी कॉलेज में आवेदन करे व अगर आपको admission मिल जाता है तो काफी कम फीस में आपका MCA कोर्स पूरा हो जायेगा

Calculation – इस आर्टिकल में हमने आपको MCA Full Form in Hindi एवं MCA क्या होता है और इसके फायदे क्या क्या होते है इसके बारे में जानकारी देने का प्रयत्न किया है हमे उम्मीद है की आपको हमारी बताई जानकारी उपयोगी लगी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसको अपने मित्रो के साथ शेयर जरूर करें व इससे जुड़ा किसी भी प्रकार का सवाल आदि पूछना चाहते है तो आप हमे कमेंट कर के बता सकते है.

पिछला लेखWhatsApp Comedy Video Download कैसे करें आसान तरीके से
अगला लेखOnline DJ Name Maker से DJ Name Voice कैसे बनाते है

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें