नमस्कार मित्रो आज हम आपको LLB Full Form in Hindi के बारे में बताने वाले है अक्सर कई लोग LLB के बारे में अलग अलग तरह के सवाल पूछते रहते है की इसका पूरा नाम क्या है और इसके लिए योग्यता आदि क्या क्या होनी चाहिए तो इसकी पूरी जानकारी हम आपको इस आर्टिकल में बताने वाले है.

LLB Full Form in Hindi

अगर आपको LLB के बारे में जानकारी नही है तो यह आर्टिकल आपके लिए बेहद ही उपयोगी साबित होगा इसमें हम आपको इससे जुडी हर जानकारी विस्तृत रूप से बताने वाले है इसके बारे में जानने के लिए आप LLB Full Form in Hindi आर्टिकल को ध्यान से पढ़े ताकि आपको इसकी पूरी जानकारी समझ में आ सके.

LLB Full Form in Hindi

एल एल बी क्या होता है और इसके लिए क्या क्या योग्यता होनी चाहिए इसके बारे में बताने से पहले हम आपको इसके पुरे नाम के बारे में बता रहे है जो निम्न प्रकार से है.

LLB Full Form – Bachelor of Low

हिन्दी में – विधि स्नातक कहते है

LLB कानून व विधि से सम्बंधित educational degree होती हैं जिसमे आपको low के बारे मे जानकारी दी जाती हैं LLB करने के बाद आप‌ वकील की नौकरी प्राप्त कर सकते हैं व किसी भी कोर्ट मे मुकदमा लड सकते हैं.

LLB 3 वर्ष का कोर्स होता हैं इसमे 6 सेमिनार होते हैं व आपको वकील बनने के लिए 6 सेमिनार पास करने होते हैं जिसके‌ बाद आप वकील बन सकते हैं अगर आप 3 वर्ष का LLB कोर्स करना चाहते हैं तो इसके लिए आपका ग्रेजुएशन उतीर्ण होना अनिवार्य हैं ग्रेजुएशन करने के बाद आप 3 वर्ष  का LLB कोर्स कर सकते हैं.

LLB का एक 5 वर्ष का कोर्स भी होता हैं इस कोर्स को करने के लिए आपका कम से कम बाहरवी उतीर्ण होना अनिवार्य है इसके बाद आप चाहे तो 5 वर्ष का एल एल बी कोर्स कर सकते है.

LLB करने के फायदे

अगर आप LLB का कोर्स कर लेते है तो इसके बाद आपको इसे कई अलग अलग तरह के फायदे हो सकते है जिसके बारे में हम आपको बता रहे है यह सभी फायदे आपको LLB करने के बाद प्राप्त होगे.

  • LLB करने का सबसे बडा फायदा तो ये हैं की इसके बाद आप वकील की नौकरी प्राप्त कर सकते हैं
  • LLB एक ऐसा कोर्स हैं जिसे करने के बाद आप समाज मे हो रहे अपराधो को मिटा सकते हैं
  • अगर किसी के साथ अन्याय हो रहा हैं तो आप उसकी मदद कर सकते हैं
  • अगर कोई  गरीब केस में फसा हैं तो उसे आप कम फीस मे मदद करा सकते हैं
  • इस कोर्स को करने के बाद आपको वकील की डिग्री प्राप्त हो जाती है
  • इस कोर्स को करने के बाद आपको कानून सम्बंधित अच्छी जानकारी प्राप्त हो जाती है

इसके अलावा भी एलएलबी करने के बहुत से अलग अलग फायदे होते हैं जिसके कारण आप ये कोर्स कर सकते हैं और वकालात में अपना अच्छा भविष्य बना सकते है.

LLB कैसे करे

आज के समय मे बहुत से लोग एलएलबी कर के वकील  बनना चाहते हैं क्युकी इसमें बहुत ही अच्छा करियर होता हैं अगर आप वकील बनाना चाहते तो आपको कुछ बातो की जानकारी होनी जरुरी हैं जिसके बारे में हम आपको बता रहे है.

एलएलबी की पढाई करने के लिए आपका न्यूनतम 12वी उत्तीर्ण होना बहुत ही जरुरी हैं व भारत में LLB Entrance Exam CLAT की प्रवेश परीक्षा नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी के द्वारा आयोजित की जाती हैं आप उसको उत्तीर्ण करने के बाद एलएलबी के लिए एडमिशन ले सकते है.

CLAT  की परीक्षा देने के लिए आपके बाहतवी में न्यूनतम 50% अंक होने अनिवार्य हैं व आपकी उम्र 20 वर्ष से अधिक नहीं होनी  चाहिए तभी आप इस परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते है.

LLB के लिए आवश्यक योग्यता

आपको एल एल बी करने के लिए कुछ आवश्यक योग्यता को पूरा करना जरुरी है जिसके बारे में हम आपको बता रहे है उन्हें पूरा करने के बाद आप एल एल बी के लिए एडमिशन ले सकते है.

  • एल एल बी करने के लिए आपको मान्यताप्राप्त विधालय से बाहरवी उतीर्ण करनी जरुरी है.
  • 12th में आपके अंक 50% से अधिक होने जरुरी हैं व बाहरवीं के बाद ये कोर्स करने पर 5 वर्ष का कोर्स करना होगा
  • आप 3 वर्ष का एल एल बी करना चाहते है तो आपको मान्यताप्राप्त विश्विधालय से स्नातक उतीर्ण करना आवश्यक है.
  • ग्रेजुएशन में आप के 50%  से अधिक अंक होने जरुरी हैं व ग्रेजुएशन के बाद ये कोर्स 3 वर्ष का होगा

आप 12th व ग्रेजुएशन के बाद इस कोर्स को कर सकते हैं अगर आप 12th के बाद ये कोर्स करते हैं तो आपको 5 साल का एलएलबी करना होगा  अगर आप ग्रेजुशन के बाद एलएलबी करना चाहते हैं तो आपको 3 वर्ष का कोर्स करना होगा.

LLB करने के लिए उम्र सीमा

आप LLB करना चाहते है तो इसके लिए आपको इसकी उम्र सीमा के बारे में भी ध्यान होना आवश्यक है अगर आप 5 वर्ष का LLB कोर्स करना चाहते है तो इसके लिए आपकी उम्र न्यूनतम 18 वर्ष एवं अधितम 23 वर्ष तक होनी चाहिए एवं अगर आप 3 वर्ष का कोर्स करना चाहते है तो इसके लिए आपकी अधिकतम उम्र 30 वर्ष तक होनी चाहिए

LLB के लिए एंट्रेंस एग्जाम

अगर आपको LLB कोर्स के लिए एडमिशन लेना है तो इसके लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम देना होता है इसकी मदद से ही आपको किसी भी कॉलेज में एडमिशन मिल सकता है हम आपको कुछ पोपुलर एंट्रेंस एग्जाम के नाम बता रहे है जिन्हें देने के बाद आपको LLB कोर्स के लिए एडमिशन मिल सकता है

AILET – इसका पूरा नाम “All india Low Entrance Test ” होता है व यह दिल्ली नॅशनल लो यूनिवर्सिटी के द्वारा आयोजित करवाया जाता है अगर आपको LLB, LLM या फिर PHD करना है तो इसके लिए आपको यह एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करना जरुरी है

CLAT – इसका पूरा नाम “Common Low एडमिशन Test “ होता है इस परीक्षा का आयोजन नेशनल लो यूनिवर्सिटी के द्वारा आयोजित करवाया जाता है अगर आप BA LLB , BBA LLB , BSc LLB , LLM  आदि कोर्स करना चाहते है तो इसके लिए आपको पहले इस एंट्रेंस एग्जाम को क्लियर करना जरुरी है उसके बाद ही आपको निम्न कोर्स के लिए एडमिशन मिल सकता है.

LSAT – इसका पूरा नाम “Low School एडमिशन Test ” होता है व इस परीक्षा का आयोजन Low School एडमिशन काउंसलिंग के द्वारा करवाया जाता है एवं इसकी परीक्षा साल में 2 बार आयोजित की जाती है जिसे क्लियर करने के बाद आप भारत के साथ ऑस्ट्रेलिया , कनाडा , US और विश्व के अन्य कई देशो में Low की पढाई के लिए एडमिशन ले सकते है.

LLB के कोर्स

आप LLB में एडमिशन लेते है तो आपको इसमें कई अलग अलग तरह के कोर्स मिल जाते है जिन्हें आप कर सकते है हम आपको इसके कुछ पोपुलर कोर्स के बारे में बता रहे है जो निम्न प्रकार से है

  • Cyber Low (साइबर कानून )
  • Patent Attorney ( पेटेंट अटॉर्नी )
  • Family Low (पारिवारिक कानून )
  • Banking Low (बैंकिंग कानून )
  • Income Tex Law (आयकर कानून
  • Criminal Low (अपराधियों का कानून )
  • Corporate low (कार्पोरेट कानून )

भारत की टॉप LLB यूनिवर्सिटी

भारत में कई यूनिवर्सिटी है जो एल एल बी कोर्स को करवाती है हम आपको भारत की सबसे लोकप्रिय और टॉप यूनिवर्सिटी के बारे में बता रहे है जहां से आप इस कोर्स को कर सकते है यह यूनिवर्सिटी निम्न प्रकार से है.

  • गुर्जर यूनिवर्सिटी – गांधीनगर
  • जिंदल ग्लोबल लो स्कूल – सोनीपत
  • नेशनल लो यूनिवर्सिटी – दिल्ली
  • नेशनल लो यूनिवर्सिटी – जोधपुर
  • अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय – अलीगढ
  • नेशनल लॉ स्कूल ऑफ इंडिया यूनिवर्सिटी
  • राष्ट्रीय न्यायिक विज्ञान विश्वविद्यालय – कोटा
  • नालसर यूनिवर्सिटी ऑफ़ लो – सिकंदराबाद
  • दिल्ली के निम्न विश्वविद्यालय के संकाय – दिल्ली

इन यूनिवर्सिटी में एडमिशन लेने के लिए आपको सबसे पहले इसका एंट्रेंस एग्जाम देना होता है व एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करने के बाद ही आपको इन कॉलेज में एडमिशन मिल सकता है.

एल एल बी कोर्स की फीस

इस कोर्स के लिए हर यूनिवर्सिटी में वहां के नियमानुसार अलग अलग फीस होती है अगर आप इस कोर्स को सरकारी कॉलेज से करते है तो वहां आपको इस कोर्स के लिए कम फीस देनी होगी वही अगर आप प्राइवेट कॉलेज से इस कोर्स को करते है तो वहाँ आपको अधिक फीस देनी होती है सामान्यत इस कोर्स के लिए आपको वार्षिक 30 हजार से लेकर 2 लाख रूपए तक की फीस देनी होती है व इसकी फीस की सटीक जानकारी के लिए आप सम्बंधित यूनिवर्सिटी से संपर्क कर सकते है.

एल एल बी करने के बाद कैरियर

आप एल एल बी कर लेते है तो इसके बाद आपके सामने रोजगार के कई अलग अलग अवसर होते है जो निम्न प्रकार से है.

  • वकील
  • शिक्षक / प्रोफेसर
  • विज्ञान सलाहकार
  • नोटरी
  • विधि अधिकारी
  • जूनियर लोयर
  • कानून सहयोगी
  • अर्धन्यायिक
  • जिला एवं सत्र न्यायाधीश
  • कानूनी सलाहकार

इन सभी क्षेत्र में आपको एल एल बी के बाद रोजगार मिल जाता है व सामान्यत एल एल बी करने के बाद लोग वकील बनना अधिक पसंद करते है इसमें आपको जो भी रूचि है आप उस क्षेत्र में अपना करियर बना सकते है.

वकील की सेलेरी कितनी होती है

किसी भी वकील का वेतन फिक्स नहीं होता क्युकी यह प्राइवेट जॉब होती है व कोई भी वकील कितने केस अपने हाथ में ले सकता है उसके आधार पर इनकी कमाई होती है अगर कोई लोकप्रिय वकील है तो वो एक केस का लाखो रूपए चार्ज लेता है वही जो नए वकील होते है उन्हें खुद प्रयास करके केस लेने होते इस तरह से इनका वेतन इनके कार्य के ऊपर निर्भर करता है.

LLB FAQ

बाहरवी के बाद एलएलबी कैसे करें?

अगर आपने बाहरवी उतीर्ण कर ली है तो आप बाहरवी करने के बाद भी एलएलबी के लिए आवेदन कर सकते है इसके लिए आपके बाहरवी में न्यूनतम 50% अंक होने चाहिए इसके बाद आप एलएलबी का 5 वर्ष का कोर्स ले सकते है

ग्रेजुएशन के बाद एलएलबी कैसे करें?

आपने ग्रेजुएशन किया है और ग्रेजुएशन के बाद आप एलएलबी करना चाहते है तो आपके स्नातक में न्यूनतम 45% अंक होने चाहिए व आप स्नातक उतीर्ण करने के बाद 3 वर्ष का एलएलबी कोर्स कर सकते है

एलएलबी कोर्स के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए?

एलएलबी कोर्स करने के लिए आपका न्यूनतम बाहरवी उतीर्ण होना आवश्यक है अगर आप बाहरवी उतीर्ण है तो इसके बाद आप एलएलबी के लिए आवेदन कर सकते है और इस कोर्स को कर सकते है

एलएलबी के बाद क्या करें?

जब आपका एलएलबी पूरा हो जाता है तो इसके बाद आपके सामने कैरियर के कई अलग अलग विकल्प होते है अधिकांश लोग एलएलबी के बाद वकील बनना पसंद करते है अगर आप चाहे तो एलएलबी करने के बाद वकील बन सकते है व अगर आप चाहे तो अन्य कई अलग अलग पदों पर भी नौकरी प्राप्त कर सकते है इसकी विस्तृत जानकारी हमने आपको इस आर्टिकल में बताई है.

वकील बनने के लिए कितनी उम्र होनी चाहिए?

जैसा की आप जानते है की एलएलबी कोर्स 2 प्रकार का होता है एक 3 वर्ष का तो दूसरा 5 वर्ष का व दोनों के लिए उम्र सीमा अलग अलग प्रकार की रखी गयी है अगर आप 3 वर्ष का एलएलबी कोर्स करना चाहते है तो आपकी उम्र न्यूनतम 18 वर्ष एवं अधिकतम 23 वर्ष तक होनी चाहिए एवं अगर आप 5 वर्ष का एलएलबी कोर्स करना चाहते है तो इसके लिए आपकी न्यूनतम उम्र 18 वर्ष एवं अधिकतम उम्र 30 वर्ष तक होनी चाहिए.

एलएलबी एंट्रेंस एग्जाम कैसे दे?

हमने आपको इस आर्टिकल में सभी एंट्रेंस एग्जाम के बारे में आपको विस्तृत रूप से बताया है आप जिस भी एंट्रेंस एग्जाम को देना चाहे उसमे आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते है जब भी इसके आवेदन शुरू होते है तो आपको उसकी अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर इसमें ऑनलाइन आवेदन करना होता है इसके बाद आप एंट्रेंस एग्जाम में शामिल हो सकते है.

Calculation – इस आर्टिकल में हमने आपको LLB Full Form in Hindi के बारे में जानकारी दी है हमे उम्मीद है आपको हमारी बताई जानकारी उपयोगी लगी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर जरुर करें और इससे जुडा किसी भी तरह का सवाल पूछना चाहे तो आप हमे कमेंट करके भी बता सकते है.

पिछला लेखBLO Full Form In Hindi : बीएलओ क्या है और कैसे बनते है
अगला लेखSapne Me Pati Se Ladai Dekhna? यह सपना देता है बेहद खास संकेत

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें