नमस्कार मित्रो आज हम KVS Full Form In Hindi के बारे में बात करने वाले है इस आर्टिकल में हम आपको केवीएस क्या होता है इसका पूरा नाम क्या है और इसके कार्य आदि क्या क्या होते है इससे जुडी पूरी जानकारी बताने वाले है अगर आपको केवीएस के बारे में जानकारी नही है तो आप हमारे आर्टिकल को ध्यान से पढ़े.

KVS Full Form In Hindi

अक्सर कई लोगो का सवाल होता है की आखिर यह केवीएस होता क्या है और इसका पूरा नाम क्या होता है तो सभी लोगो को अलग अलग तरह से इसके बारे में समझाने से अच्छा है की एक ही आर्टिकल में आपको इस शब्द के बारे में सटीक और पूरी जानकारी बताई जा सके इसी उद्देश्य से KVS Full Form In Hindi आर्टिकल को लिखा गया है.

KVS Full Form In Hindi

केवीएस क्या होता है इसके बारे में जानने से पहले हम इसके पुरे नाम के बारे में जान लेते है की इसका पूरा नाम क्या होता है.

KVS Full Form – Kendriya Vidyalaya Sangathan

हिंदी में इसे केन्द्रीय विद्यालय संगठन कहा जाता है व यह भारत का प्रमुख संगठन है को की शिक्षा विभाग से जुडा हुआ है एवं इसको केन्द्रीय विधालाय के नाम से भी जाना जाता है.

KVS क्या है

यह केंद्र सरकार के अधीन आने वाली एक संस्था है एवं यह मानव संसाधन, विकास मंत्रालय और भारत सरकार के अंतर्गत आने वाली सरकारी स्कुल की एक प्रणाली है व यह विधालय सीबीएससी बोर्ड से संबधित होते है इसमें बाहरवी तक की पढाई करवाई जाती है जिसमे विधार्थी हिंदी अंग्रेजी किसी भी भाषा का चयन करके उसमे पढाई कर सकते है.

भारत के समस्त केन्द्रीय विधालय का पाठ्यक्रम एक सामान ही होता है इसका सबसे बड़ा फायदा यह होता है की विधार्थी किसी भी दुसरे केंद्रीय विधालय में प्रवेश लेता है तो उसे नए केन्द्रीय विधालय के पाठ्यक्रम को समझने में भी किसी प्रकार की परेशानी नही होती क्युकी हर केंद्रीय विधालय का पाठ्यक्रम एक सामान ही होता है एवं केन्द्रीय विधालय को अंग्रेजी में सेन्ट्रल स्कुल के नाम से भी जाना जाता है.

केन्द्रीय विधालय में प्रवेश कैसे होता है

अक्सर ज्यादातर लोग इसके बारे में जानना चाहते है की आखिर केन्द्रीय विधालय में प्रवेश किस प्रकार से होता है तो हम आपको बता दे की इसके लिए प्रतिवर्ष ऑनलाइन आवेदन निकाले जाते है जिसमे आवेदन करकें आप इसमें प्रवेश प्राप्त कर सकते है व इसमें प्रवेश मिलने की संभावना पहली कक्षा में सबसे अधिक होती है क्युकी इसमें पहली बार में सभी सीटो को भरा जाता है जबकि अन्य कक्षा में जब कोई सीट रिक्त हो तभी उसमे आवेदन निकले जाते है व जितने सीटे रिक्त होती है उन्हें ही बच्चो का उस कक्षा में चयन किया जाता है.

माता पिता के ट्रान्सफर पर प्रवेश के नियम

अगर किसी बच्चे के माता पिता सरकारी या प्राइवेट सेक्टर में कार्य करते है और उनका किसी दुसरे शहर में ट्रान्सफर होता है तो वो अपने बच्चो को नए केन्द्रीय विधालय में भी प्रवेश दिला सकते है इसके लिए अगर किसी केन्द्रीय विधालय में सीट रिक्त नही होती तो एक अतिरिक्त सीट पर उस विधार्थी का एडमिशन करवाया जाता है पर इसके लिए पुराने केन्द्रीय विधालाय की टीसी और माता पिता के ट्रान्सफर का सबूत या ट्रान्सफर लेटर दिखाना जरुरी होता है.

केन्द्रीय विधालय में बच्चो का चयन कैसे होता है

केंद्रीय विधालय में बच्चो के प्रवेश के लिए सबसे पहले ऑनलाइन आवेदन करना होता है उसके बाद  लकी ड्रॉ रखा जाता है उसके आधार पर बच्चो का इस विधलय में चयन किया जाता है इसके साथ ही कुछ वर्ग के बच्चो को इसमें वरीयता भी  जाती है जिससे उन्हें एडमिशन प्राप्त करने में काफी आसानी होती है इस विधालय में प्रवेश के लिए किसी प्रकार की परीक्षा या टेस्ट देने की  आवश्यकता नहीं पड़ती.

केंद्रीय विधालय में ऑनलाइन आवेदन की पात्रता

अगर आप इसमें ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है तो इसके लिए कुछ पात्रता रखी गयी है जिन्हें आपको पूरा करना जरुरी है तभी आप इसमें आवेदन कर सकते है.

  • इसमें विदेशी बच्चे और भारतीय बच्चे दोनों शिक्षा प्राप्त कर सकते है.
  • इसमें कक्षा 2 से लेकर 11 तक के विधार्थी सीधा प्रवेश प्राप्त कर सकते है.
  • इसमें आपको दसवी या बहरावी में प्रवेश लेना है तो पहले वाली कक्षा में 55% अंक होने जरुरी है.
  • अगर आप कक्षा 11 में प्रवेश लेना चाहते है तो दसवी का रिजल्ट घोषित होने के बाद ही प्रवेश ले सकते है.
  • सीबीएससी से पढने वाले विधार्थी इसके लिए पात्र होते है.

निम्न पात्रता को पूरा करने वाले विधार्थी ही इसमें ऑनलाइन आवेदन कर सकते है और केन्द्रीय विधालाय से पढाई कर सकते है इसकी पात्रता की विस्तृत जानकारी आप इसकी अधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से भी प्राप्त कर सकते है.

केन्द्रीय विधालय में प्रवेश के लिए दस्तावेज

अगर आप इस विधालय में प्रवेश लेना चाहते है तो इसके लिए आपके पास कुछ दस्तावेज होने आवश्यक है जो निम्न प्रकार से है.

  • स्थाई निवास प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • आयु प्रमाण पत्र
  • दिव्यांग है तो उसका सर्टिफिकेट
  • कक्षा 1 में प्रवेश लेने के लिए ऑथॉरिज़ेड अथॉरिटी से जारी बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र
  • जिसके अभिभावक सेना से जुड़े हुए थे उनके रिटायर होने का सर्टिफिकेट
  • SC/ST, पिछड़े वर्ग के बच्चो के जाति प्रमाण पत्र

निम्न प्रकार के दस्तावेज के साथ आप इसमें ऑनलाइन आवेदन कर सकते है व इसमें आवेदन करने के लिए आपको किन किन दस्तावेज की आवश्यकता पड़ती है इसकी जानकारी आपको आवेदन करते वक्त भी बतायी जाती है उसके अनुसार आप अपने दस्तावेज form के साथ अपलोड कर सकते है.

Calculation – इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको KVS Full Form In Hindi के बारे में जानकारी दी है हमे उम्मीद है आपको हमारी बताई जानकारी उपयोगी लगी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर जरुर करें और इससे जुडा किसी भी तरह का सवाल पूछना चाहे तो आप हमे कमेंट करके भी बता सकते है.

पिछला लेखState Bank Of India किस देश की है व SBI का मालिक कौन है
अगला लेखDSP Kaise Bane : DSP किसे कहते है और DSP कैसे बनते है
मै रघुवीर चारण PMO Yojana का संस्थापक हूँ हमें लेख लिखना व किताब पढ़ना बेहद पसंद है है हम शिक्षा, कंप्यूटर, मोबाइल, सरकारी नौकरी, नई योजनाओं व इस प्रकार की अन्य कई जानकारी इस Website पर लिखते है

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें