आज हम आपको IP के बारे में बता रहे हैं की IP Full Form क्या होता हैं और IP किसको कहा जाता हैं व आप अपना ip address कैसे देख सकते हैं उन सब के बारे में आज हम बात करेंगे अगर आपको आईपी के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं हैं तो इस आर्टिकल में आपको आईपी से जुडी बेहद ही जरुरी जानकारी हम बतायेगे जिससे की आपको इसके बारे में पूरी जानकारी प्राप्त हो सके.

IP Full Form

अगर आप इंटरनेट का इस्तमाल करते हैं तो अपने आईपी के बारे में तो कई बार सुना होगा और आपका फोन या कम्प्यूटर आदि डिवाइस भी अलग अलग ip address से जुड़े होते हैं और अगर आप अपना ip पता करना चाहते हैं तो इसके भी कई सारे अलग अलग आसान से तरीके भी होते हैं जिसके माध्यम से आप अपना my ip देख सकते हैं इसको आप एक ऐसा लिंक भी कह सकते हैं जो की आपकी डिवाइस जैसे मोबाइल या कम्प्यूटर आदि को इंटरनेट से जोड़ता है.

IP Full Form in Hindi

IP क्या होता हैं और कैसे देखते हैं इससे सम्बंधित जानकारी प्राप्त करने से पहले हम इसके नाम के बारे में  बता रहे हैं की इसका पूरा नाम क्या होता है.

IP full form – INTERNET PROTOCOL होती है

जिसे हिन्दी मे इंटरनेट प्रोटोकॉल कहते हैं जो व्यक्ति internet चलाते हैं उन सभी की एक internet I’d होती हैं जिसको हम IP address कहते हैं सभी के मोबाइल की अलग अलग IP होती हैं जब हम internet पर किसी भी प्रकार की जानकारी खोजते हैं तो IP Address से router को पता चलता हैं की उसको डाटा कहा भेजना हैं बादमे वो पुरी information को  collect कर के internet protocol address पर भेज देता हैं.

IP कितने प्रकार की होती हैं

IP address 2 प्रकार का होता है.

  1. Static IP Address
  2. Dynamic IP Address

1. Static IP Address

यह एक permanent IP address होता हैं जिसको हम कभी भी हटा नहीं सकते ना ही इसको हम कभी बदल सकते हैं ये एक स्थायी ip  होता है.

2. Dynamic IP Address

यह एक Temporary Internet Address होता हैं जो समय समय पर बदलता रहता हैं.

IP Address Version कितने होते हैं

अब हम बात करते हैं इसके version की के इसके कितने वर्जन होते हैं तो IP Address के 2 version होते है.

  1. IPv4 ( Internet Protocol Version 4 )
  2. IPv6 ( Internet Protocol Version 6 )

IP Address के कितने Class हैं

IP Address के 5 अलग अलग class होते हैं.

  1. Class A
  2. Class B
  3. Class C
  4. Class D
  5. Class E

इनमें से केवल A,B,C class का ही आमतौर पर इस्तेमाल किया जाता है.

अपना IP Address कैसे पता करें

अगर आप अपना IP पता करना चाहते हैं तो बहुत आसानी से कर सकते हैं इसके लिए आपके मोबाइल मे internet connection on होना जरुरी हैं IP पता करने के लिए आप नीचे बताये गये step follow करें.

  1. सबसे पहले आप किसी भी browser को अपने मोबाइल मे खोले.
  2. अब आप google पर जाये व google search मे my ip address लिख कर search करे.
  3. अब आपके सामने सबसे उपर एक number आयेगा वो आपका IP address होगा.

इस प्रकार से आप किसी भी डिवाइस जैसे कम्प्यूटर या मोबाइल आदि का ip address देख सकते हैं और यह बिलकुल free होता हैं आपको आईपी देखने के लिए किसी भी प्रकार का कोई शुल्क नहीं देना होता.

IP क्या  होता है

आप सभी जानते हैं की इंटरनेट की दुनिया बहुत ही बड़ी होती हैं और आज के समय में लाखो लोग इसका इस्तमाल भी करते हैं ऐसे में सभी यूजर का डाटा सुरक्षित करने के सभी यूजर को अलग अलग आईपी से जोड़ा जाता हैं इससे मुख्यत किसी भी डिवाइस की जानकारी एकत्रित करने के लिए किया जाता हैं और कौन व्यक्ति इंटरनेट पर क्या कर रहा हैं उसका सारा डाटा उसकी आईपी के द्वारा track होता है.

उदाहरण के लिए आप देख सकते हैं की कोई व्यक्ति हैं जो इंटरनेट पर कानून के खिलाफ कुछ भी कर रहा हैं तो उसको नाम से या पते से ट्रैक करना बहुत मुश्किल हैं क्युकी इंटरनेट का एक दो व्यक्ति ही नहीं बल्कि करोडो लोग इस्तमाल करते हैं तो ऐसे में उस डिवाइस की ip को ट्रैक कर के पता लगाया जाता हैं की उस आईपी से इंटरनेट पर क्या क्या search हुआ हैं और इससे यूजर का भी पता लग जाता हैं की वो डिवाइस किस व्यक्ति की हैं व किस ip location क्या है.

IP Address Secure करे करे

अगर आप इंटरनेट पर काम करते हैं या लेनदेन करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको अपने ip को secure करना बहुत जरुरी हैं नहीं तो इसके द्वारा आपका डाटा चोरी भी हो सकता हैं ऐसे में आप अपने ip address को secure करने के लिए vpn का इस्तमाल कर सकते हैं इससे आपकी ip सरक्षित रहती हैं और आपकी आईपी को कोई भी आसानी से पता नहीं कर पायेगा.

Vpn एंड्राइड और कम्प्यूटर दोनों के लिए उपलब्ध हैं आप जिस भी डिवाइस में इसका इस्तमाल करना चाहो उसमे इस्तमाल कर  सकते हैं और यह free और प्रीमियम दोनों version में उपलब्ध होते हैं उसमे से आप जो भी इस्तमाल करना चाहो वो इस्तमाल कर सकते हैं और अपना ip address को secure कर सकते है.

Calculation – आज के आर्टिकल में हमने आपको IP Full Form in Hindi के बारे में जानकारी दी है अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसको सोशल मीडिया के द्वारा अपने मित्रो के साथ शेयर जरूर करें और अगर आप इससे संबधित किसी भी प्रकार का सवाल पूछना चाहते है तो आप हमे कमेंट कर के बता सकते है.

पिछला लेखLCM Full Form In Hindi : LCM क्या होता हैं और कैसे हल करें
अगला लेखSSPMIS : बिहार वृद्धजन पेंशन योजना की स्थिति कैसे देखें

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें