आज के आर्टिकल में हम आपको IIT क्या होता हैं और IIT Full Form क्या होता हैं इसके  बारे में बताने वाले हैं अगर आपको IIT के बारे मे ज्यादा जानकारी नहीं हैं तो आज का हमारा ये आर्टिकल आपके लिए बहुत ही उपयोगी होने वाला हैं क्युकी इसमें हम आपको आईआईटी के बारे में पूरी जानकारी हिंदी में बताने वाले है

IIT Full Form

आज सभी लोग चाहते हैं की उन्हैंं कोई भी अच्छा रोजगार मिले पर इसके लिए कोई अच्छा सा कोर्स करना भी बहुत जरुरी होता हैं अगर आपको कोई अच्छी पोस्ट पर नौकरी चाहिए तो आप IIT कोर्स को कर सकते हैं इसमें आपको रोजगार के बहुत ज्यादा अवसर प्राप्त हो जाते हैं व IIT Full Form  और आईटीआई कोर्स के बारे में हम आपको बताने वाले है.

अक्सर कई लोगो को इसके में ज्यादा जानकारी नहीं होती की ये क्या होता हैं और आप किस प्रकार से आईटीआई कर सकते हैं तो इसके बारे में पूरी जानकारी हम आपको इस आर्टिकल में बता रहे हैं ताकि आपको इसके बारे में पूरी जानकारी हिंदी में प्राप्त हो सके.

IIT Full Form in Hindi

सबसे पहले हम आपको इसका पूरा नाम क्या होता हैं इसके बारे में बता रहे हैं इसके साथ ही इससे जुड़े कुछ अन्य फुल फॉर्म के बारे में बता रहे हैं ताकि आपको इसके बारे में जानकारी प्राप्त हो सके.

  • IIT Full Form – Indian Institute of Technology
  • NIT Full Form – National Institute of Technology
  • CFTI Full Form – Central Footwear Training Institute
  • JEE Full Form – Joints Entrance Examination
  • NTA Full Form – National Testing Agency

ये सभी अलग अलग शब्दों के फुल फॉर्म हैं जिसके बारे में आपको पता होना बहुत ही जरुरी हैं अगर आपको इनके बारे में जानकारी होगी तो भविष्य में ये जानकारी आपके लिए बहुत काम आ सकती है.

IIT क्या है

IIT Act 1961 के अधिनियम के अनुसार IIT ऑटोनोमस संसथान हैं जिसमे खुद के बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर होते हैं व भारत में इसका पहला संस्थान खड़गपुर में 1951 में शुरू किया गया था उसके बाद इसका दूसरा संस्थान मुंबई में 1958 को बनाया गया इसके बाद भारत के कई अलग अलग हिस्सों में इसके संसथान बनाये गए थे वर्तमान में इसके कुचल 23 आईआईटी संसथान है.

इसको शुरू करने का मुख उद्देश्य था की सरकार के द्वारा अच्छे और योग्य व्यक्ति वैज्ञानिक, इंजीनियर और टेक्नोलॉजिस्ट्स आदि बन कर देश को आगे बढ़ाने में अपना योगदान दे सके इसमें ग्रेजुएशन में एडमिशन लेने के लिए आपको प्रवेश परीक्षा से होकर गुजरना होता हैं व इसके प्रवेश परीक्षा बेहद कठिन होती है.

ये एक बेहद प्रसिद्द संस्थान हैं जो की देश को अनेक एक से बढ़कर एक इजीनियर देता रहा हैं व इस कोर्स को   करने के बाद कई सारे बड़ी बड़ी कंपनी में अच्छी और बड़ी पोस्ट पर नौकरी मिल जाती हैं जिससे की वो अपना भविष्य बना सके.

IIT करने के लिए आवश्यक योग्यता

इस कोर्स को करने के लिए आपका 12th उत्तीर्ण होना जरुरी हैं इसके साथ ही आपके 12th  में 60% अंक होने जरुरी हैं अगर आप अभी 12th ने हैं तो भी आप इसके एट्रेंस एग्जाम दे सकते हैं और अगर आप  एट्रेंस पास कर लेते हैं और उसके बाद आप 12th में फ़ैल हो जाते हैं या आपके 60% से काम अंक आते हैं तो भी आपको इसमें प्रवेश नहीं दिया जाता.

इसके साथ ही आप आईआईटी करना चाहते हैं तो आपको हम जो सब्जेक्ट बता रहे हैं उसमे से 12वी उत्तीर्ण करनी जरुरी हैं उसके बाद आप आईआईटी कर सकते है.

  • Mathematics (गणित)
  • Physics (भौतिकी)
  • Chemistry (रसायन विज्ञानं)

आईआईटी करने के लिए आपको 12वी इन सब्जेक्ट से उत्तीर्ण करनी जरुरी हैं उसके बाद आप इस कोर्स को कर सकते है.

IIT के लिए सबसे अच्छे कॉलेज या यूनिवर्सिटी

कई लोग सवाल पूछते हैं की आखिर IIT होता क्या हैं तो हम उन सभी लोगो को बता दे की IIT को भारतीय तकनीकी संस्थान कहा जाता हैं व भारत में कुल 23 भारतीय तकनीकी संस्थान हैं ये भारत सरकार द्वारा स्थापित किये गये राष्ट्रीय महत्व के सस्थान है। 2018 ‌तक भारत मे 23 भारतीय तकनीकी संस्थान की कुल सीटों की संख्या 11,279 है.

  1. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – खडगपुर
  2. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – मुम्बई
  3. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – कानपुर
  4. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – मद्रास
  5. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – दिल्ली
  6. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – गुवाहाटी
  7. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – रुडकी
  8. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – टोपड
  9. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – भुवनेश्वर
  10. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – गांधीनगर
  11. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – हैदराबाद
  12. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – जोधपुर
  13. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – पटना
  14. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – मंडी
  15. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – इंदौर
  16. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – वाराणसी
  17. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – पलक्कड
  18. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – तिरुपति
  19. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – धनबाद
  20. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – भिलाई
  21. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – गोवा
  22. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – जम्मू
  23. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान – धारवाड़

ये सभी भारत के आईआईटी कॉलेज हैं जहा से आप इस कोर्स को कर सकते है.

भारत का पहला IIT कॉलेज कहा स्थापित किया गया

कई बार ये सवाल परीक्षा में पूछे जाते हैं व आपको इस बात की जानकारी होनी बहुत जरुरी हैं की भारत मे सर्वप्रथम IIT कॉलेज कहा स्थापित किया गया था तो हम बता दे की भारत का पहला IIT college खडगपुर में 1951 में स्थापित किया गया था जो की सबसे पहला व पुराना IIT College हैं.

भारत का पहला इंजिनियरिंग कॉलेज कौनसा है

भारत में सर्वप्रथम इंजिनियरिंग कॉलेज लॉर्ड डलहौजी द्वारा 1847 में रुडकी में स्थापित किया गया था  जिसका नाम रुडकी कॉलेज रखा गया था व 2001 मे इसका नाम बदलकर भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान रुडकी कर दिया गया.

IIT में प्रवेश कैसे ले

IIT Collage मे प्रवेश लेने के लिए सबसे पहले तो आपको 12th 60% अंको के साथ उतीर्ण करनी आवश्यक है। तभी आप इसके लिए आवेदन कर सकते हैं.

IIT मे प्रवेश लेने के लिए आपकी 2 step मे परीक्षा आयोजित करवाई जाती हैं पहला main exam व दुसरा advance exam करवाया जाता हैं.

IIT करने के लिए पहले आपका main exam करवाया जाता हैं अगर आप इसमे सफलता प्राप्त कर लेते हैं तो आपको advance exam में बुलाया जाता हैं व उसमें उतीर्ण होने के बाद आपको graduation की पढाई के लिए B.tech की में admission मिल जाता हैं.

आईआईटी कितने सालो की होती है

अब हम आपको इस कोर्स की अवधि बता रहे हैं ताकि आपको पता चल सके की ये कोर्स कितने सालो का होता हैं व अगर आप आईआईटी करते हैं तो आपको इस कोर्स को पूरा करने में कितना समय लग सकता है.

  • B. Tech (Bachelor degree) – 4 साल
  • B. Tech + M. Tech – 5 साल
  • M. Tech – 2 साल

इस कोर्स को आप करना चाहते हैं तो हमने आपको जो समय बताया है  उतने समय में आप इस कोर्स को पूरा कर सकते है.

Calculation – मित्रों हमें उम्मीद हैं की आपको IIT Full Form व IIT kaise Kare के बारे में लिखी गयी जानकारी जरुर पसंद आयी होगी व अगर आप इससे सम्बंधित कोई अन्य सवाल पूछना चाहते हैं तो आप हमें comment कर सकते हैं.

1 टिप्पणी

  1. टैकनोजी से मानव की खामियां पता किस विभाग से पता चलेगा ?
    मेरे साथ हरैशमैन्ट करने वालो की सत्य जाँच तत्काल प्रभाव से कराने मे मदद करिए सीमात्यागी दिव्यांग मस्क्यूलर डिस्ट्रोफी की बीमारी मे विकलाग हूँ

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें