नमस्कार मित्रो आज हम आपको GST Chori Ki Shikayat Kaha Kare इसके बारे में बताने वाले है अक्सर कई लोगो को आपने जीएसटी की चोरी करते हुए देखा होगा ऐसे में आप चाहे तो जीएसटी की चोरी करने वाले लोगो के खिलाफ अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते है अगर आप जीएसटी चोरी की शिकायत करते है तो तुरंत दोषी के खिलाफ एक्शन लिया जाता है और उससे जुर्माना वसूला जाता है.

GST Chori Ki Shikayat Kaha Kare

अक्सर कई लोग अपना पैसा बचाने के लिए जीएसटी की चोरी करते है इस कारण से सरकार ने जीएसटी की चोरी करने वालो के खिलाफ कड़े कानून बनाये है ताकि कोई भी व्यक्ति टेक्स की चोरी न कर सके लेकिन हाल में भी कई लोग चोरी छिपे इस प्रकार का कार्य करते है ऐसे में आप चाहे जीएसटी की चोरी करने वालो के खिलाफ ऑनलाइन या ऑफलाइन शिकायत दर्ज करवा सकते है इसकी शिकायत किस प्रकार से दर्ज करवाते है इसके बारे में हम आपको GST Chori Ki Shikayat Kaha Kare इस आर्टिकल में बताने वाले है ताकि आप आस्सनी से इसकी शिकायत दर्ज कर सके.

GST Chori Ki Shikayat Kaha Kare

जीएसटी की शिकायत कैसे करते है इसके बारे में बताने से पहले हम आपको बता दे की आप किस स्थिति में इसकी शिकायत दर्ज कर सकते है तो अगर आपको किसी भी व्यक्ति के ऊपर शंका है की वो जीएसटी की चोरी कर रहा है तो ऐसे में आप उसके खिलाफ अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते है लेकिन कई लोगो के मन में इस प्रकार के सवाल आते है की अगर कोई राजनेता, सरकारी अधिकारी, धनवान व्यक्ति, बिजनेसमैन व्यक्ति जीएसटी की चोरी करता है तो उसकी शिकायत हम दर्ज कर सकते है या नहीं तो हम आपको बता दे की कोई भी व्यक्ति जीएसटी की चोरी करता है तो आप उसकी शिकायत आप दर्ज करवा सकते है.

जीएसटी की शिकायत कोई भी व्यक्ति कर सकता है इसके लिए जाति, धर्म, लिंग. उम्र, स्थान आदि कोई मायने नहीं रखता लेकिन यह शिकायत आप तभी करे जब या तो आपको पूरा विश्वास हो की उस व्यक्ति ने जीएसटी की चोरी की है या आपको शंका हो की कोई व्यक्ति जीएसटी की चोरी कर रहा है ऐसे में आप उसके खिलाफ अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते है.

जीएसटी की शिकायत कैसे करते है

जीएसटी की शिकायत करना काफी ज्यादा आसान होता है अगर आप जीएसटी की शिकायत करना चाहते है तो इसके लिए आपको बेहद ही आसान सी प्रोसेस को फोलो करना होता है जिसके बारे में हम आपको बताने वाले है इस तरीके को अपनाकर आप ऑनलाइन घर बैठे जीएसटी की शिकायत दर्ज करवा सकते है इसके लिए इस तरीके को फॉलो करें.

  • जीएसटी की ऑनलाइन शिकायत करने के लिए सबसे पहले आपको इसकी अधिकारिक वेबसाइट Income Tax India की अधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करना होता है.
  • अब आपके सामने यह वेबसाइट ओपन हो जाती है इसमें आपको भाषा का चुनाव करने के लिए कहा जायेगा उसमे आप अपनी पसंद की भाषा का चुनाव कर ले अगर आप हिंदी का चुनाव करना चाहते है तो उसे चुने और आप अग्रेजी भाषा का चुनाव करना चाहते है तो अंग्रेजी भाषा को चुन ले.
  • अब आपको इसमें प्रतिक्रया या फीडबैंक का विकल्प दिखाई देगा आपको उसके ऊपर क्लिक करना करना है इससे आप शिकायत वाले पेज पर पहुँच जायेगे.
  • इसके बाद आपके सामने “काले धन की प्रतिक्रया” का विकल्प आएगा उसमे आपको “कर चोरी संबंधी याचिकाओं या बेनामी संपत्तियों से संबंधित शिकायत दर्ज करने के लिए आप निम्नलिखित पोर्टल की मदद से टीईपी ई-दाखिलीकरण पोर्टल पर जा सकते हैं” लिखा हुआ दिखाई देगा इसके ठीक निचे आपको एक लिंक दिखाई देगी आपको उस लिंक के उपर क्लिक कर देना है.
  • इसके बाद आपके सामने एक पॉप अप मैसेज ओपन होगा उसमे आपको “यह कड़ी आपको www.incometaxindia.gov.in के बाहर एक वेबपृष्ठ पर ले जाएगा. लिंक पृष्ठ की सामग्री के बारे में किसी भी प्रश्न के लिए संबंधित वेबसाइट के वेबमास्टर से संपर्क करें.” लिखा हुआ दिखाई देगा इसमें आप “हां” पर क्लिक कर दे.
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज ओपन हो जायेगा उसमे आपको File Complaint का विकल्प दिखाई देगा आपको शिकायत दर्ज करने के लिए इस विकल्प पर क्लिक कर देना है.
  • इसके बाद आपके सामने 3 विकल्प आयेगे इसमें से अगर आपके पास पेन कार्ड है तो पहला विकल्प चुने, अगर आपके पास आधार कार्ड है तो दूसरा विकल्प चुने और आपके पास पेन कार्ड और आधार कार्ड दोनों नहीं है तो आप तीसरे विकल्प को चुन ले.
  • इसके बाद आपके सामने “Enter Details Of Complainant” का विकल्प आएगा इसमें आपसे कुछ आवश्यक जानकारी मांगी जाएगी आपको वो सभी जानकारी इसमें दर्ज कर लेनी है.
  • इसके बाद आपके मोबाइल नंबर पर एक OTP आएगा उसे आपको इसमें दर्ज करना होता है इसमें आप OTP दर्ज कर ले इसके बाद आपको Next पर क्लिक करना है.
  • इसके बाद आपके सामने एक फॉर्म ओपन होगा उसमे आपको कुछ आवश्यक जानकारी डालने के लिए कहा जायेगा आप वो सभी जानकारी इसमें डाल दे और अपनी शिकायत भी आप इसमें दर्ज कर ले.
  • इसके बाद आपको सबमिट का विकल्प दिखाई देगा आपको उसके ऊपर क्लिक कर देना है इससे आपकी शिकायत सबमिट हो जाती है.

इस प्रकार से आप बेहद ही आसानी से अपनी शिकायत ऑनलाइन दर्ज करवा सकते है ऑनलाइन शिकायत दर्ज करना काफी ज्यादा आसान होता है व जैसे ही आप अपनी शिकायत दर्ज करते है तो इसके बाद आपको मैसेज में शिकायत नंबर भी दिया जाता है जिसकी मदद से आप जब भी चाहे तब अपनी शिकायत को ट्रैक कर सकते है.

अपनी शिकायत का स्टेटस कैसे देखे

अगर आपने ऑनलाइन शिकायत दर्ज की है तो आप इसका स्टेटस बेहद ही आसानी से चेक कर सकते है हम आपको बेहद ही आसान सा तरीका बता रहे है जिसकी मदद से आप ऑनलाइन अपनी शिकायत का स्टेटस चेक कर सकते है इसके लिए आपको यह तरीका फॉलो करना होगा.

  • सबसे पहले आपको अपने फोन में incometax की अधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करना होगा आप चाहे तो Income Tax Status Check  के ऊपर क्लिक करके डायरेक्ट स्टेटस वाले पेज पर पहुँच सकते है.
  • इसके बाद आपको इसमें ईमेल डालने के लिए कहा जायेगा इसमें आपको वो ईमेल डालनी है जो आपने शिकायत दर्ज करने वक्त इस्तमाल की थी.
  • इसके बाद आपके सामने OTP डालने का विकल्प आएगा इसमें आपके ईमेल में जो OTP प्राप्त होता है उसे आप इसमें दर्ज कर ले.
  • इसके बाद आपको Check Status का विकल्प मिलेगा आपको उसके ऊपर क्लिक कर देना है.

अब आपके सामने अपनी शिकायत से जुडी पूरी जानकारी आ जाएगी इसमें आप बेहद ही आसानी से देख सकते है की आपने जो शिकायत की है उसकी हाल में क्या स्थिति है और आपकी शिकायत पर किसी प्रकार की कार्यवाही की जा रही है या नहीं इस तरह की सभी जानकारी आपको इसमें देखने के लिए मिल जाती है.

हेल्पलाइन नंबर से शिकायत दर्ज करें

अगर आप चाहे तो इनकम टैक्स के हेल्पलाइन नंबर पर भी अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते है इसके लिए आयकर विभाग के द्वारा एक टोल फ्री नंबर जारी किया गया है जहां पर आप किसी भी प्रकार की शिकायत दर्ज करवा सकते है अगर आपको हेल्पलाइन नंबर की मदद से शिकायत दर्ज करवानी है तो इसके लिए आपको इसके टोल फ्री नंबर 18001801961 / 1961 पर कॉल करना होता है.

जब आप इस नम्बर पर कॉल करते है तो इसके बाद कस्टमर केयर अधिकारी आपसे बात करेगे उन्हें आप जीएसटी चोरी के बारे में बता सकते है इसके बाद वो आपसे कुछ आवश्यक जानकारी मांगेगे उन्हें वो जानकारी बता दे और आप किस तरह की शिकायत दर्ज करना चाहते है वो विस्तृत रूप से बता दे इसके बाद कस्टमर केयर अधिकारी के द्वारा आपकी शिकायत दर्ज कर ली जाती है.

जब आपकी शिकायत दर्ज की जाएगी तो आपको मैसेज के द्वारा एक कंप्लेंट नंबर भी दिया जायेगा जिसकी मदद से आप कभी भी अपनी शिकायत ट्रैक करना चाहे तो ट्रैक भी कर सकते है और इसका पता लगा सकते है की आपकी शिकायत के ऊपर कार्यवाही की जा रही है या नही की जा रही है.

क्या जीएसटी की शिकायत पर इनाम मिलता है

अगर आप जीएसटी की शिकायत करते है तो इसमें आपको इनाम मिलेगा या नही यह आपके ऊपर निर्भर करता है अगर आपने शिकायत करते वक्त इनाम वाले विकल्प को चुना था तो आपको इसमें इनाम मिल सकता है एवं इसमें न्यूनतम इनाम की राशि 1 लाख रूपए और अधिकतम इनाम की राशि 5 करोड़ रूपए तक रखी गयी है यह राशि इस बात पर निर्भर करती है की आपने जिस व्यक्ति की शिकायत की है उसके पास से कितनी बेनामी संपत्ति प्राप्त होती है.

अगर आपने जिसके खिलाफ शिकायत की है उसके पास ज्यादा बेनामी संपत्ति प्राप्त होती है तो आपको अधिक इनाम दिया जायेगा और उसके पास कम बेनामी संपत्ति प्राप्त होती है तो आपको इनाम भी कम दिया जायेगा इस प्रकार से इसकी इनाम की राशी बेनामी संपत्ति के ऊपर निर्भर करती है और कोई व्यक्ति बिना इनाम लिए शिकायत दर्ज करना चाहता है तो वो भी कर सकता है.

क्या हमारी जानकारी गुप्त रखी जाएगी

अक्सर बहुत से लोगो को इसके बारे में पता नही होता की हम अगर जीएसटी की शिकायत करते है तो हमारी जानकारी गुप्त रखी जाती है या नही तो हम आपको बता दे की यह पूरी तरह से आपके ऊपर निर्भर करता है की आप अपनी जानकारी गुप्त रखना चाहते है या सार्वजनिक करना चाहते है अगर आप शिकायत करते वक्त अपनी जानकारी गुप्त रखने का चयन करते है तो आपकी जानकारी किसी भी व्यक्ति को नहीं बताई जाएगी एवं आपकी जानकारी को पूरी तरह से गुप्त रखा जायेगा.

Calculation – इस आर्टिकल में हमने आपको GST Chori Ki Shikayat Kaha Kare इसके बारे में जानकारी दी है हमे उम्मीद है आपको हमारी बताई जानकारी उपयोगी लगी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर जरुर करें और इससे जुडा किसी भी प्रकार का सवाल पूछना चाहे तो आप हमे कमेंट करके भी बता सकते है.

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें