आज हम आपको इस आर्टिकल में FD full form क्या होता हैं व fixed diposit किसको कहते हैं व इसके फायदे क्या क्या होते हैं आज हम आपको इससे सम्बंधित पूरी जानकारी बताने वाले हैं अक्सर कई लोग हमे‌ इसके बारे में पूछते रहते हैं पर अधिकांश लोगो को इसकी जानकारी ना होने के कारण आज का हमारा ये आर्टिकल लिखा जा रहा हैं ताकि हम आपको इसके बारे में पूरी जानकारी बता सके.

fd full form

अक्सर कई लोग हमे इसके बारे में अलग अलग सवाल आदि पूछते रहते हैं तो आज आपके सभी सवालो के जवाब आपको इस आर्टिकल में मिल जायेगे व अगर आप FD ले चुके हैं या लेना चाहते हैं तो आपको इसके बारे में जानकारी हो‌नी जरुरी हैं ताकि आपको बादमे किसी भी प्रकार की समस्या का सामना ना करना पडे व आप इसका सही इस्तेमाल कर सके.

ये भी पढ़े – PCS Officer कैसे बने और PCS Full Form क्या होता है

FD Full Form

FD के‌ बारे में ज्यादा जानने से पहले हम आपको इसका पूरा नाम क्या होता हैं इसके बारे में बता रहे हैं.

FD Full Form – Fix Deposit.

FD का पूरा नाम fix deposit होता हैं पर अधिकांश लोग इस शब्द को FD के नाम से ही जानते हैं क्योंकि यह शब्द बोलने व लिखमे में आसान होता है.

ये भी पढ़े – ITI Full Form क्या हैं व ITI क्या हैं और कैसे करें

FD क्या होता हैं

अब हम‌ बात करते हैं की FD क्या होता हैं तो आप अपनी राशी को एक निश्चित समय के लिए बैंक में जमा कराते हैं जिसके लिए बैंक आपको ब्याज देता हैं तो उसको FD कहा जाता है.

अचानक आपको पैसे की जरुरत हैं या आपको भविष्य में पैसे की जरुरत हैं तो आप यह  plan ले सकते हैं इसमें आप इच्छानुसार पैसे जमा करा सकते हैं पर इसमें आप समय से पहले पैसे प्राप्त नही कर सकते व परन्तु आप अतिआवशयक कार्य हो तो अपने FD से पैसे निकाल सकते है.

FD के द्वारा कोई भी व्यक्ति निश्चित धनराशि निश्चित समय के लिए बैंक में जमा करा सकता हैं FD में राशि जमा की जाती हैं उसका ब्याज saving account की तुलना में काफी अधिक होता है.

ये भी पढ़े – CEO Full Form क्या होता हैं व CEO की Salary कितनी होती है

Fix Deposit Documents

अगर आप‌ fix deposit कराना चाहते हैं तो इसके लिए आपको कुछ आवश्यक document की जरुरत होगी उसी के द्वारा आप FD करवा सकते हैं इसके लिए कौन कौन से document आवश्यक हैं वो हम आपको बता रहे हैं.

  1. पता प्रमाण पत्र
  2. पैन कार्ड
  3. आधार कार्ड 
  4. कैश amount या चेक जितने की FD करानी है
  5. पासपोर्ट साइज़ फोटो
  6. FD forum ( बैक से मिलेगा )

अगर आप FD कराना चाहते हैं तो आपके पास ये सभी document होने अनिवार्य हैं अगर आपके पास ये document हैं तो आप अपना FD Open कर सकते हैं.

ये भी पढ़े – TBH Full Form in Hindi व TBH Meaning क्या होता है

FD Kaise Kare

अब हम बात करते हैं की FD कैसे होती हैं तो अगर आप FD कराना चाहते हैं तो इसके लिए आपको ये process follow करनी होती है.

  1. सबसे पहले आपको अपने जरुरी document लेकर बैक में जाना है.
  2. अब आपको बैक से fix deposit से सम्बंधित जानकारी प्राप्त कर‌नी होगी.
  3. अब आपको बैक से fix deposit का forum मिलेगा आपको उसको भरना होगा. 
  4. अब आपको form और document व पैसे बैक में जमा कराने है.

इसके द्वारा बैक आपका fix deposit account open करेगी जिसकी आपको पूरी  details व FD के कागज भी दिये जाते हैं अगर आप चाहो तो saving account या current account के पैसे से भी direct FD करा सकते है.

इसके अलवा आप चाहो तो bank website या application के द्वारा online भी FD करा सकते हैं जो की एक सुरक्षित व आसान तरीका माना जाता है.

ये भी पढ़े – NOTA Full Form क्या हैं और Nota किसको कहा जाता है

FD के फायदे ‌

FD कराने के कई सारे अलग अलग फायदे होते हैं जिसके बारे में हम आपको बता रहे हैं.

  • इससे आप पैसे की बचत कर सकते है.
  • इसको आप समय से पहले भी तोड कर पैसे प्राप्त कर सकते है.
  • इसमे आपको saving account की तुलना  में अधिक ब्याज दिया जाता है.
  • FD करना बहुत आसान है.
  • इसमे आपका पैसा सुरक्षित रहता है.
  • इसमें आपको काफी अच्छा ब्याज दिया जाता है.
  • समय पूरा होने के बाद आप इसको renew करा कर ज्यादा लाभ ले सकते है.

इसके अलावा भी इसके कई सारे अलग अलग फायदे होते हैं जो की आपको बैक से पता चल सकता है.

ये भी पढ़े – OK Full Form क्या होता हैं और इसका इस्तमाल कहा होता है

Bank FD कैसे तोडे

अगर आप बैक की FD तोडना चाहते हैं तो आप बहुत आसानी से अपने बैंक की FD तोड सकते हैं इसके लिए आपको बस अपने बैंक से सम्पर्क करना हैं व एक form मिलेगा आपको वो भर लेना हैं व बैक के नियमानुसार document आदि जमा करा के आप FD तोड सकते हैं.

FD को हमेशा आप तभी तोड़े जब आपको पैसे की जरुरत हो और आपके पास पैसे प्राप्त करने का कोई साधन न हो क्युकी अगर आप FD तोड़ते हैं तो आपको इससे ब्याज बहुत कम मिलता हैं और आपको fixed diposit पूरी होने पर जितना लाभ मिलने वाला होता हैं उतना लाभ भी नहीं मिल पाता ऐसे में आपको जरुरत पड़ने पर ही इसको तोडना चाहिए. 

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें