नमस्कार मित्रो आज हम आपको Engineer Kaise Bane  इसके बारे में बताने वाले है अक्सर कई लोगो का सपना होता है की वो इंजिनियर बने और इस क्षेत्र में अपना बेहतरीन कैरियर बनाये पर ज्यादातर लोगो को इसके बारे में जानकारी नही होती की हम इंजिनियर कैसे बन सकते है तो इसकी पूरी जानकारी हम आपको इस आर्टिकल में बताने वाले है.

Engineer Kaise Bane

अपने कैरियर को लेकर हर व्यक्ति अलग अलग तरह के सपने देखते है व अधिकांश लोगो का सपना होता है की वो डॉक्टर बने या इंजिनियर बने पर इसकी जानकारी न होने के कारण कई लोगो का यह सपना पूरा नही हो पाता ऐसे में Engineer Kaise Bane  यह जानकारी आपके लिए बेहद ही उपयोगी साबित हो सकती है.

Engineer Kaise Bane

इंजिनियर बनना इतना आसान नहीं होता अगर आपको इंजिनियर बनना है तो इसके लिए आपको काफी मेहनत करनी होगी तभी आप एक इंजिनियर के रूप में अपना कैरियर बना सकते है साथ ही आपको इससे सम्बंधित कोर्स भी करना अनिवार्य है उसके बाद ही आप एक इंजिनियर बन सकते है हम आपको इस आर्टिकल में इंजिनियर बनने से जुडी पूरी जानकारी विस्तृत रूप से बताने वाले है इसके बारे में जानने के लिए आप हमारा आर्टिकल ध्यान से पढ़े.

इंजिनियर बनने के लिए शैक्षिक योग्यता

आपको इंजिनियर बनना है तो इसके लिए आपका कम से कम बाहरवी उतीर्ण होना अनिवार्य है इसके बाद ही आप एक इंजिनियर बन सकते है व जब आप बहरावी उतीर्ण कर लेते है तो इसके बाद आपको किसी भी मान्यताप्राप्त विश्वविधालय में एडमिशन ले लेना है और वहां से आपको इंजीनियरिंग का कोर्स पूरा करना होता है.

इंजिनियर बनने में कितने साल लगते है

अगर आप बाहरवी के बाद Bachelor of Engineering (B.E) या Bachelor of Technology (B.Tech.) इंजीनियरिंग कोर्स के लिए आवेदन करते है तो इस कोर्स को पूरा होने में 4 साल का समय लग जाता है ऐसे में आपको इंजिनियर बनने में 4 से 5 साल का समय लग जाता है इसके बाद आप इंजिनियर बन जाते है.

इंजीनियरिंग के लिए एडमिशन कैसे ले

आपको इंजीनियरिंग के लिए एडमिशन लेना है तो ज्यादातर कॉलेज में आपको एंट्रेंस एग्जाम के द्वारा एडमिशन दिया जाता है व सरकारी कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए भी आपको एंट्रेंस एग्जाम देना होता है वही कुछ प्राइवेट कॉलेज ऐसे भी होते है जो बिना एंट्रेंस एग्जाम के एडमिशन देते है पर उन कॉलेज की फीस काफी ज्यादा होती है.

अगर आप बिना एंट्रेंस एग्जाम के इंजीनियरिंग करना चाहते है तो उन कॉलेज के बारे में पता करके उन कॉलेज में एडमिशन ले सकते है जो बिना एंट्रेंस एग्जाम के प्रवेश देती है वही अगर आप भारत की बेस्ट यूनिवर्सिटी और सरकारी यूनिवर्सिटी से इस कोर्स को करना चाहते है तो इसके लिए पहले आपको एंट्रेस एग्जाम देना आवश्यक है.

एंट्रेंस एग्जाम में अप्लाई कैसे करें

आप इंजीनियरिंग के एंट्रेंस एग्जाम के लिए बहुत ही आसानी से आवेदन कर सकते है इसके लिए प्रतिवर्ष आवेदन पत्र निकाले जाते है जिसमे आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते है और इस परीक्षा में शामिल हो सकते है, इंजीनियरिंग कोर्स के लिए अलग अलग तरह के एंट्रेंस एग्जाम होते है जो की निम्न प्रकार से है.

  • JEE Mains
  • JEE Advanced
  • MET
  • BITSAT
  • VITEEE
  • SRMJEEE
  • COMEDK UGET

इनमे से आप अपनी रूचि के अनुसार किसी भी एंट्रेंस एग्जाम को दे सकते है इसमें आपको जो अंक प्राप्त होते है उसके आधार पर मेरिट बनायी जाती है और उसमे सभी कैंडिडेट को अलग अलग रैंक दी जाती है जिनकी रैंक अच्छी होती है उन्हें भारत के टॉप कॉलेज में एडमिशन दिया जाता है बाकी को अन्य मान्यताप्राप्त विश्वविधालय में एडमिशन दिया जाता है.

इंजीनियरिंग डिप्लोमा पूरा करें

जब आप एंट्रेंस एग्जाम को क्लियर कर लेते है तो इसके बाद आपको इंजीनियरिंग का डिप्लोमा करना होता है यह कोर्स के हिसाब से 6 से 8 सेमेस्टर में विभाजित होता है व इसका डिप्लोमा करने में आपको 3 से 4 साल तक का समय लग जाता है जब आपका डिप्लोमा पूरा हो जाता है तो इसके बाद आप इंजिनियर बन जाते है और किसी भी कंपनी आदि में इस पोस्ट पर नौकरी प्राप्त कर सकते है.

इंजीनियरिंग करने में कितना खर्च आएगा

आप इंजीनियरिंग कौनसी कॉलेज से कर रहे है इसके हिसाब से इस कोर्स की फीस अलग अलग हो सकती है अगर आप टॉप कॉलेज से इस कोर्स को करते है टॉप कॉलेज में इसकी फीस सालाना 1 लाख से लेकर 1 लाख 50 हजार रूपए तक हो सकती है एवं आप साधारण कॉलेज से इस कोर्स को करते है इसकी फीस सालाना 40 हजार रूपए से लेकर 1 लाख रूपए तक हो सकती है एवं इस कोर्स की फ़ीस के बारे में सटीक जानकारी पाने के लिए आप सम्बंधित कॉलेज में संपर्क कर सकते है.

बाहरवी के बाद इंजीनियरिंग कोर्स

जब आप बाहरवी कर लेते है और एंट्रेंस एग्जाम क्लियर कर लेते है तो इसके बाद आपको इंजीनियरिंग कोर्स का चुनाव करना होता है इसमें कई अलग अलग प्रकार के कोर्स होते है जो निम्न प्रकार से है.

  • B.E / B.Tech in Nuclear Engineering
  • B.E / B.Tech in Aeronautical Engineering
  • B.E / B.Tech in Aerospace Engineering
  • B.E / B.Tech in Agricultural Engineering
  • B.E / B.Tech in Agricultural Information Technology
  • B.E / B.Tech in Automobile Engineering
  • B.E / B.Tech in Biotechnology Engineering
  • B.E / B.Tech in Chemical Engineering
  • B.E / B.Tech in Civil Engineering
  • B.E / B.Tech in Computer Science Engineering
  • B.E / B.Tech in Dairy Technology and Engineering
  • B.E / B.Tech in Electrical Engineering
  • B.E / B.Tech in Electrical and Electronics Engineering
  • B.E / B.Tech in Electronics Engineering
  • B.E / B.Tech in Electronics and Communication Engineering
  • B.E / B.Tech in Electronics and Telecommunication Engineering
  • B.E / B.Tech in Environmental Engineering
  • B.E / B.Tech in Food Processing and Technology
  • B.E / B.Tech in Genetic Engineering
  • B.E / B.Tech in Geoinformatics
  • B.E / B.Tech in Geotechnical Engineering
  • B.E / B.Tech in Information Technology
  • B.E / B.Tech in Infrastructure Engineering
  • B.E / B.Tech in Instrumentation and Control Engineering
  • B.E / B.Tech in Marine Engineering
  • B.E / B.Tech in Mechanical Engineering
  • B.E / B.Tech in Metallurgy Engineering
  • B.E / B.Tech in Mining Engineering
  • B.E / B.Tech in Motorsport Engineering
  • B.E / B.Tech in Naval Architecture
  • B.E / B.Tech in Petrochemical Engineering
  • B.E / B.Tech in Petroleum Engineering
  • B.E / B.Tech in Plastics Engineering
  • B.E / B.Tech in Polymer Engineering
  • B.E / B.Tech in Power Engineering
  • B.E / B.Tech in Production Engineering
  • B.E / B.Tech in Textile Engineering

यह सभी इंजीनियरिंग से जुड़े कोर्स होते है आप एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करने के बाद इनमे से किसी भी एक कोर्स का चुनाव कर सकते है और उसमे आप आगे की पढाई कर सकते है और अपने इंजिनियर बनने के सपने को पूरा कर सकते है.

इंजिनियर कितने प्रकार के होते है

हर एक क्षेत्र में अलग अलग इंजिनियर होते है व आप जो कोर्स लेते है उसके हिसाब से आप अलग अलग क्षेत्र में इंजिनियर के रूप में अपना कैरियर बना सकते है हम आपको कुछ अलग अलग फील्ड के इंजीनियर्स के बारे में बता रहे है जिसके बारे में आपको पता होना चाहिए.

  • सिविल इंजीनियर
  • केमिकल इंजीनियर
  • इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग
  • इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग
  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग
  • एयरोस्पेस इंजीनियरिंग
  • न्यूक्लिअर इंजीनियरिंग
  • बायोमेडिकल इंजीनियरिंग
  • कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग

निम्न प्रकार से कई अलग अलग इंजीनियर्स होते है उसमे से आपकी रूचि किस प्रकार का इंजिनियर बनने से है आपको उसी से जुडा कोर्स करना चाहिए.

भारत की टॉप इंजीनियरिंग कॉलेज

भारत में कई टॉप और पोपुलर इंजीयरिंग कॉलेज है जिसके बारे में आपको पता होना बेहद ही आवश्यक है हम आपको भारत की सबसे पोपुलर कुछ यूनिवर्सिटी के बारे में बता रहे है जो निम्न प्रकार से है.

  • Amity University Noida Gautam Budh Nagar
  • Amrita School of Engineering Amritapuri
  • Anna University Chennai Tamil Nadu
  • Birla Institute of Technology & Science Pilani
  • Delhi Technological University New Delhi
  • Indian Institute of Engineering Science and Technology Shibpur
  • Indian Institute of Space Science and Technology Thiruvananthapuram
  • Indian Institute of Technology Dhanbad
  • Indian Institute of Technology Mandi Himachal Pradesh
  • Indian Institute of Technology (BHU) Varanasi
  • Indian Institute of Technology Bhubaneswara
  • Indian Institute of Technology Mumbai
  • Indian Institute of Technology New Delhi
  • Indian Institute of Technology Gandhinagar
  • Indian Institute of Technology Guwahati
  • Indian Institute of Technology Hyderabad
  • Indian Institute of Technology Indore
  • Indian Institute of Technology Kanpur
  • Indian Institute of Technology Kharagpur
  • Indian Institute of Technology Madras Chennai
  • Indian Institute of Technology Patna
  • Indian Institute of Technology Roorkee
  • Indian Institute of Technology Rupnagar
  • Institute of Chemical Technology Mumbai
  • Jadavpur University Kolkata
  • Jamia Millia Islamia New Delhi
  • Malaviya National Institute of Technology Jaipur
  • National Institute of Technology Karnataka
  • National Institute of Technology Rourkela
  • National Institute of Technology Tiruchirappalli
  • National Institute of Technology Warangal
  • Thapar Institute of Engineering & Technology Patiala
  • Vellore Institute of Technology Tamil Nadu
  • Visvesvaraya National Institute of Technology Nagpur

यह सभी भारत के टॉप इंजीनियरिंग कॉलेज है आप चाहे तो इन कॉलेज में भी एडमिशन ले सकते है पर इनमे एडमिशन लेने के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम देना होता है और उसमे आपको प्राप्त होने वाली रैंक के अनुसार इन यूनिवर्सिटी में एडमिशन दिया जाता है.

इंजीनियरिंग के बाद प्राइवेट नौकरी

जब आप इंजीनियरिंग कर लेते है तो इसके बाद आपको प्राइवेट सेक्टर में आसानी से नौकरी मिल जाती है इसके लिए आप किसी भी कंपनी में इंजिनियर पोस्ट के लिए आवेदन कर सकते है और कंपनी में अपना रिज्यूम दे सकते है इसके बाद आपका इंटरव्यू लिया जाता है इसमें आपको पहले इंटरव्यू क्लियर करना होगा जैसे ही आप इंटरव्यू क्लियर कर लेंगे तो इसके बाद आपको प्राइवेट सेक्टर में नौकरी के लिए रख लिया जाता है और आप किसी भी कंपनी में इंजिनियर के रूप में काम कर सकते है.

इंजीनियरिंग करने के बाद सरकारी नौकरी

अगर आप इंजीनियरिंग करने के बाद सरकारी नौकरी करना चाहते है तो इसके लिए कई बार आवेदन निकाले जाते है जिसमे आप आवेदन कर सकते है एवं प्राइवेट नौकरी की तुलना में सरकारी नौकरी प्राप्त करना काफी कठिन होता है इसके लिए आपको कड़ी मेहनत करनी होगी एवं आप जब इसके लिए आवेदन करते है तो इसके बाद आपको इसकी चयन प्रक्रिया से गुजरना होता है इसकी चयन प्रक्रिया से गुजरने के बाद ही आप इंजीनियरिंग से जुड़े क्षेत्र में सरकारी नौकरी प्राप्त कर सकते है एवं रेलवे, PWD जैसे विभागों में अक्सर इंजिनियर की भारी डिमांड होती है.

इंजिनियर बनने के बाद वेतन

आप इंजिनियर बन जाते है तो इसके बाद आपको काफी अच्छा वेतन मिलता है हर एक इंजिनियर का वेतन अलग अलग होता है सामान्यत प्राइवेट सेक्टर के इंजिनियर का वेतन 25 हजार से लेकर 80 हजार रूपए तक हो सकता है वही सरकारी सेक्टर के इंजिनियर का वेतन 35,400 रूपये से 1,12,400 तक हो सकता है व इनका वेतन समय के साथ बढ़ता रहता है कई लोग ऐसे भी है जो इंजीनियरिंग के क्षेत्र में 5 लाख से ज्यादा प्रतिमाह का वेतन प्राप्त कर रहे है इस कारण से इनका वेतन काफी अच्छा होता है.

Engineer FAQ

इंजीनियर की पढ़ाई कैसे की जाती है?

जब आप बाहरवी कर लेते है तो इसके बाद आप इंजीनियरिंग कोर्स के लिए आवेदन कर सकते है इसमें आपको प्रेक्टिकल और थ्योरी दोनों करवाई जाती है व आप कौनसा कोर्स या डिप्लोमा लेते है उसके हिसाब से इसे अलग अलग सेमेस्टर में बांटा जाता है और इसके आधार पर आपको पढ़ाया जाता है.

इंजीनियर बनने में कितना खर्च आता है?

इस कोर्स को करने के हर कॉलेज का अलग अलग खर्च आता है सामान्यता इस कोर्स को करने पर आपको सालाना 50 हजार से लेकर 1 लाख 50 हजार तक की फीस देनी होती है व इसके साथ ही रहने और खाने पिने का अलग खर्च होता है इसकी विस्तृत जानकारी आप सम्बंधित यूनिवर्सिटी से सम्पर्क करके प्राप्त कर सकते है.

सबसे बड़ा इंजीनियर कौन सा होता है?

इंजिनियर दो प्रकार के होते है पहला तो सीनियर इंजिनियर और दूसरा होता है जूनियर इंजिनियर इसमें से बड़ा सीनियर इंजिनियर होता है और उसके निचे जूनियर इंजिनियर आते है.

इंजीनियर की पढ़ाई कितने साल की होती है?

इसकी पढाई इसके डिप्लोमा अर्थ कोर्स के हिसाब से अलग अलग होती है सामान्यत इसके कोर्स 3 से 4 साल तक के होते है आप जिस कोर्स को लेते है उसके अनुसार आपको इसकी पढाई करनी होती है और आप 3 या 4 साल का डिप्लोमा करने के बाद इंजिनियर बन जाते है.

12वीं के बाद इंजीनियर कैसे बनें?

आप बाहरवी कर लेते है तो इसके बाद आपको इंजीनियरिंग कोर्स के लिए पहले एंट्रेंस एग्जाम देना होता है व इसमें सफल होने के बाद आपको रैंक के हिसाब से अलग अलग कॉलेज में एडमिशन दिया जाता है जहां पर आप अपने इंजीनियरिग की पढाई पूरी कर सकते है और बादमे आप एक इनीनियर बन सकते है.

YouTube video

Calculation – इस आर्टिकल में हमने आपको Engineer Kaise Bane इसके बारे में जानकारी दी है हमे उम्मीद है आपको हमारी बतायी जानकारी उपयोगी लगी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर जरुर करें और इससे जुडा किसी भी तरह का सवाल पूछना चाहे तो आप हमे कमेंट करके भी बता सकते है.

पिछला लेखCT Scan Full Form In Hindi : CT Scan क्या है और कैसे होता है
अगला लेखभारत की आकृति कैसी है भारतीय जीके से जुडी जानकारी

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें