आज का हमारा यह आर्टिकल DLC के बारे में है जिसमे हम आपको DLC full form क्या होता है और इसका इस्तमाल कब और किसलिए किया जाता है एवं डीएलसी किसे कहा जाता है इन सब के बारे में विस्तार से बताने वाले है ताकि आपको इसके बारे में पूरी जानकारी प्राप्त हो सके.

DLC Full Form 

हम सभी लोग अक्सर प्रतिदिन न जाने कितने प्रकार के अलग अलग शब्द सुनते व पढ़ते है जिसमे से कई सारे short forms भी होते है जिनके बारे में हमे जानकारी नहीं होती क्युकी लाखो ऐसे शब्द है जिनका short forms के रूप में इस्तमाल होता है इतने शब्दों की एक साथ जानकारी रखना बहुत ही मुश्किल होता है पर हम आपको कई प्रकार के ऐसे शब्दों के बारे में बताने का प्रयत्न करते है जो की आपके दैनिक जीवन में उपयोगी हो.

DLC Full Form in Hindi

DLC क्या होता है और इसका इस्तमाल कब होता है इसके बार में बताने से पहले हम आपको इसके पुरे नाम के बारे में बता देते है ताकि आपको इसके नाम के बारे में पता चल सके.

DLC Full Form – Differential Leukocyte Count होता है

हिंदी भाषा में इसको हम विभेदक ल्यूकोसाइट गिनती कहते है व यह एक टेस्ट होता है जो की हमारे शरीर में मौजूद सभी श्वेत रक्त कणिकाओं की गिनती करता है.

DLC क्या है

जैसा की हमने आपको बताया की यह एक  टेस्ट होता है जो की हमारे शरीर की स्वेत श्वेत रक्त कणिकाओं की जानकारी प्राप्त करने के लिए किया जाता है व इस टेस्ट से इसके बारे में पता लगाया जाता है की हमारे शरीर में हाल में कितनी श्वेत रक्त कणिकाएं है व वो किस स्थिति में है यह टेस्ट अस्पताल में लिया जाने वाला टेस्ट है.

इस टेस्ट से यह भी पता लगाया जाता है की हमारे शरीर की श्वेत रक्त कणिकाए  पूर्ण रूप विकसित हो चुकी है या नहीं एवं यह हमारे शरीर में उत्पन होने वाली कई अलग अलग प्रकार की बीमारियों  व इन्फेक्शन जैसे एनीमिया, ल्यूकेमिया आदि के बारे में भी पता लगाया जाता है इसके आलावा इस टेस्ट  में बुखार, खांसी, और पेशाब की जांच आदि भी की जाती है.

श्वेत रक्त कणिकाएं क्या है

जिस प्रकार से हमारे शरीर में लाल रक्त कणिकाएं होती है उसी प्रकार से श्वेत रक्त कोशिकाएं भो होती है जो की हमारे शरीर में सैनिको की तरह काम करता है और ये हमारे शरीर को कई अलग अलग प्रकार की बीमारियों और इन्फेक्शन आदि से भी बचाता है जिसके कारण यह हमारे शरीर के लिए बेहद ही उपयोगी होती है.

जैसा की आप सभी जानते है की आज पूरा विश्व कोरोना covid-19 की महामारी से झुंझ रहा है जो की एक बेहद ही खतरनाक बिमारी है व इस बोमारी से लड़ने के लिए श्वेत रक्त कणिकाएं बहुत ही अधिक मददगार शाबित हुई है व इसके कारण लाखो लोग की जिंदगी बच पायी है जिससे आप अंदाजा लगा सकते है की यह हमारे शरीर के लिए कितनी अधिक उपयोगी होती है.

सफ़ेद रक्त कणिकाएं कितने प्रकार की होती है

यह कई लोगो को पता नहीं होता की सफ़ेद रक्त कणिकाएं  कितने प्रकार की होती है पर जनराक नॉर्लेज के लिए आपको इसकी जानकारी होनी बहुत ही जरुरी है सफ़ेद रक्त कणिकाएं 5 अलग अलग प्रकार की होती है.

  • लिम्फोसाइटों
  • मोनोकीट्स
  • न्यूट्रोफिल
  • बासोफिल्स
  • इओसिनोफिल्स

सफ़ेद रक्त कोशिकाएं बढ़ने पर क्या होता है.

अगर किसी भी व्यक्ति के शरीर में सामान्य स्थिति से अधिक सफ़ेद रक्त कणिकाएं  बढ़ जाती है तो इससे हमारे शरीर में कई प्रकार की अलग अलग बीमारिया होने का खतरा बढ़ जाता है और इसके साथ ही हमारे शरीर में इन्फेक्शन भी बढ़ने लगता है जिसके कारण हम कई प्रकार की बीमारियों के शिकार हो जाते है व सफ़ेद रक्त कणिकाएं बढ़ जाने से हमारे शरीर में रोगप्रतिरोधक क्षमता कम होने लगती है जिससे की हम आसानी से किसी भी बिमारी के शिकार हो जाते है.

हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से DLC Full Form क्या होता है व सफ़ेद रक्त कोशिकाएं क्या होता है व यह कैसे काम करते है इसके बारे में जानकारी दी है हमे उम्मीद है की आपको हमारे द्वारा बताई गयी जानकारी उपयोगी लगी होगी अगर आप इससे सम्बंधित कोई सवाल पूछना चाहते है तो आप हमे कमेंट कर के बता सकते है.

पिछला लेखuTorrent से Video कैसे डाउनलोड करें बहुत ही आसानी से
अगला लेखActor बनने के लिए क्या करना पड़ता है पूरी जानकारी

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें