नमस्कार मित्रो आज हम आपको CTI Full Form in Hindi के बारे में बताने वाले है और इसके साथ ही हम आपको CTI क्या होता है व किसे कहते है और इसके लिए क्या क्या योग्यता होनी आवश्यक है व आप इस कोर्स को कैसे कर सकते है इन सब के बारे में इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको विस्तृत जानकारी देने वाले है.

CTI Full Form in Hindi

कई लोगो को CTI के बारे में जानकारी नही होती जिसके कारण अक्सर कई लोग इसके बारे में पूछते रहते है तो यह आर्टिकल इसीलिए लिखा गया है ताकि हम आपको CTI के बारे में पूरी जानकारी बता सके इसकी जानकारी के लिए आप CTI Full Form in Hindi आर्टिकल को ध्यान से पढ़े.

CTI Full Form in Hindi

CTI क्या है और किसे कहा जाता है इसके बारे में बताने से पहले हम आपको इसके पुरे नाम के बारे में बता रहे है की आखिर इसका पूरा नाम क्या होता है.

CTI Full Form – Central Training Institute for Instructor

हिन्दी में इसे प्रशिक्षक के लिए केंद्रीय प्रशिक्षण संस्थान भी कहा जाता है यह एक प्रशिक्षण कोर्स होता है इस कोर्स को करने के लिए डिप्लोमा या ITI की शैक्षणिक योग्यता होनी अनिवार्य है.

CTI क्या है

जैसा की हमने आपको बताया की यह एक प्रशिक्षण कोर्स होता है व इस कोर्स को वो ही लोग कर सकते है जिन्होंने डिप्लोमा या ITI का कार्स किया हुआ हो एवं इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप डिप्लोमा और ITI कॉलेजों में शिक्षक बनने योग्य हो जाते है.

अगर आप इस कोर्स को करना चाहते है तो इसके लिए आपका ITI / Diploma / BE में से कोई भी एक उतीर्ण होना जरुरी है व इसके साथ ही आपको कुछ नियमो के बारे में भी ध्यान रखना होगा तभी आपको इसमें एडमिशन मिल सकता है एवं आपका एडमिशन आपके डिप्लोमा या ITI ट्रेड के आधार पर ही किया जाता है जिसका मतलब है की अगर आपने ITI या डिप्लोमा इलेक्ट्रोनिक्स में किया है तो आपको CTI में भी इलेक्ट्रोनिक ट्रेड का ही चुनाव करना आवश्यक है.

CTI में आपको कई तरह के अलग अलग कोर्स करवाए जाते है जिसमे फिटर, मोटर मकैनिक, वायरमैन, मशीनिस्ट, इलेक्ट्रीशियन, टर्नर आदि शामिल होते है इसमें से विधार्थी ने जिस भी  ट्रैड में ITI या डिप्लोमा आदि किया है वो CTI में भी उसी ट्रेंड का चुनाव कर सकता है.

CTI में प्रवेश कैसे ले

अगर आपको CTI में प्रवेश लेना है तो इसके लिए आपको ऑनलाइन फॉर्म भरना होता है व इसके बाद आपको एंट्रेंस एग्जाम देना होता है उसमे अगर आप सफल हो जाते है तो इसके बाद आपको CTI के लिए प्रवेश दिया जायेगा इसके आवेदन मार्च, जून, सितम्बर एवं दिसंबर महीने में आने की संभावना अधिक रहती है जिसकी जानकारी आप समाचार पत्र या सम्बंधित कॉलेज से प्राप्त कर सकते है व जब भी इसके आवेदन शुरू होते है तो आपको अपने दस्तावेज के साथ इसमें आवेदन करना होता है.

CTI कोर्स के लिए Duration

अगर आपको CTI कोर्स करना है तो पहले आपको इसकी Duration के बारे में जानकारी प्राप्त करनी बेहद ही आवश्यक है यह कोर्स एक वर्ष का होता है इस कोर्स को 4 अलग अलग सेशन में बांटा जाता है यह सेशन 3 – 3 माह में पूरा करवाया जाता है जिसमे प्रेक्टिस और थ्योरी आदि को पढाया जाता है जब आपका यह कोर्स पूरा हो जाता है तो उसके बाद आपको CTI का सर्टिफिकेट प्रदान किया जाता है.

CTI के लिए उम्र सीमा

अगर आपको CTI  का कोर्स करना है तो इसके लिए उम्र सीमा भी निर्धारित की गयी है उसके अनुसार ही आप इस कोर्स के लिए आवेदम कर सकते है इसके लिए आपकी न्यूनतम उम्र 18 वर्ष और अधिकतम उम्र 40 वर्ष तक होनी चाहिए तभी आप इस कोर्स के लिए आवेदन कर सकते है और इसकी विस्तृत और सटीक जानकारी के लिए आप इसका अधिकारिक नोटिफिकेशन देखे.

CTI के बाद कैरियर विकल्प

हर व्यक्ति को इसके बारे में जरुर सोचना चाहिए की अगर वो CTI  कोर्स को कर लेता है तो इसके बाद उसका आगे का कैरियर विकल्प क्या होता तो हम आपको बता दे की जब आप इस कोर्स को पूरा कर लेते है तो इसके बाद आप प्राइवेट या सरकारी संस्थान में ITI के अध्यापक बनने योग्य हो जाते है एवं अगर आप सरकारी कॉलेज में ITI के अध्यापक बनना चाहते है तो इसके लिए आपको इसकी भर्ती आने पर ऑनलाइन आवेदन करना होता है इसके अलावा आप प्राइवेट कॉलेज में ITI के अध्यापक बनना चाहते है तो किसी भी कॉलेज में पद खाली होने पर आप उसमे आवेदन कर सकते है.

इसके अलावा अगर आप ITI में अध्यापक के रूप में अपना भविष्य नहीं बनाना चाहते तो आप इस कोर्स के बार रेलवे डिपार्टमेंट में भी नौकरी के लिए आवेदन कर सकते है और आप चाहे तो प्राइवेट कंपनी में भी नौकरी के लिए आवेदन कर पायेगे इस कोर्स को करने के बाद नौकरी के कई अलग अलग विकल्प आपको मिल जाते है.

CTI करने के बाद वेतन

अगर आप CTI  कर लेते है तो इसके बाद आप किस तरह की जॉब करते है उसके आधार पर आपको अलग अलग वेतन दिया जा सकता है अगर आप प्राइवेट कॉलेज में अध्यापक के रूप में कार्य करते है तो आपको 10 हजार रूपए से लेकर 15 हजार रूपए तक का वेतन दिया जा सकता है और अगर आप सरकारी विधालय में नौकरी प्राप्त करते है तो आपको 30 हजार या इससे ज्यादा का वेतन मिल सकता है व आपके कार्य और अनुभव के आधार पर आपका वेतन भी बढ़ता रहता है.

Calculation – इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको CTI Full Form in Hindi के बारे में जानकारी दी है हमे उम्मीद है आपको हमारी बताई जानकारी उपयोगी लगी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर जरुर करें और इससे जुडा किसी भी तरह का सवाल पूछना चाहे तो आप हमे कमेंट करके भी बता सकते है.

पिछला लेखRajasthan Shala Darpan : शाला दर्पण क्या है व इसमें रजिस्ट्रेशन कैसे करें
अगला लेखग्राम प्रधान की शिकायत कैसे करें बहुत ही आसान तरीके से
मै रघुवीर चारण PMO Yojana का संस्थापक हूँ हमें लेख लिखना व किताब पढ़ना बेहद पसंद है है हम शिक्षा, कंप्यूटर, मोबाइल, सरकारी नौकरी, नई योजनाओं व इस प्रकार की अन्य कई जानकारी इस Website पर लिखते है

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें