नमस्कार मित्रो आज हम आपको CM Kaise Bane इसके बारे में बता रहे है जो लोग राजनीति में रूचि रखते है और इसमें अपना बेहतरीन भविष्य बनाना चाहते है तो ऐसे में यह जानकारी आपके लिए बहुत ही उपयोगी होगी इसमें हम आपको मुख्यमंत्री बनने के बारे में बता रहे है और भारत के सभी राज्य के मुख्यमंत्री का वेतन कितना होता है इसके बारे में भी बतायेगे.

CM Kaise Bane

आज के समय में हर किसी का सपना होता है की वो मुख्यमंत्री बने व इसके कई अलग अलग फायदे होते है जिसके कारण हर व्यक्ति इसमें रूचि दिखाता है पर ज्यादातर लोगो को पता नहीं होता की वो किस प्रकार से एक मुख्यमंत्री बन सकते है और इसमें अपना बेहतरीन कॅरियर बना सकते है तो हम CM Kaise Bane और इससे जुडी अन्य कई आवश्यक जानकारी इस आर्टिकल के माध्यम से आपको बतायेगे.

CM Kaise Bane

मुख्यमंत्री एक राज्य का सर्वोच्च मंत्री होती है जिस प्रकार से भारत में प्रधानमन्त्री होता है व इसके पास कानून लागू करने और मंत्रिमंडल बनाने जैसे कई बड़े बड़े अधिकार और शक्तिया होती है व इनका मुख्य कार्य अपने राज्य का विकास करना होता है और अपने राज्य के लोगो की जरूरतों को पूरा करना होता है.

मुख्यमंत्री का वेतन भी बहुत ही अच्छा होता है व इसके साथ ही हर राज्य के मुख्यमंत्री को कई तरह की बेहतरीन वीआईपी सुविधाएं प्रदान की जाती है जो की राज्य के अन्य अधिकारियो को प्राप्त नहीं होती व आपको सीएम बनने के लिए काफी कड़ी मेहनत करने की जरुरत होती है क्युकी सीएम बनना इतना आसान नहीं होता इसके लिए आपको कठिन परिश्रम और पूरी लगाने के साथ काम करना होगा तभी आप आने वाले समय में एक सीएम के रूप में कार्य कर पाएंगे.

मुख्यमंत्री की नियुक्ति कैसे होती है

मुख्यमंत्री की नियुक्ति राजयपाल के द्वारा की जाती है व किसी भी राज्य मे मुख्यमंत्री की नियुक्ति केवल उस राज्य के राज्यपाल द्वारा ही की जाती है व मुख्यमंत्री  विधानसभा का सदस्य होता है व इस क्षेत्र में कई अलग अलग राजनेता होते है जिन्हे अलग अलग क्षेत्र में देखरेख और सही तरह से संचालन के लिए नियुक्त किया जाता है जैसे की कोई शिक्षा विभाग में, कोई कपड़ा विभाग में, कोई ऊर्जा विभाग में, कोई ग्रामीण विकास में, कोई खेती आदि के विकास जैसे अलग अलग कार्य के लिए अलग अलग राजनेताओ को चुना जाता है जो की एक टीम की तरह कार्य करते है.

मुख्यमंत्री बनने की प्रक्रिया

आपको मुख्यमंत्री बनना है तो पहले इसकी प्रक्रिया को समझना होगा की आप किस प्रकार से एक मुख्यमंत्री बन सकते है व इसके इसके लिए आपको क्या क्या करना होता है तो इसके बारे में हम आपको विस्तृत जानकारी बता रहे है ताकि आपको पूरी प्रक्रिया समझ में आ सके.

दसवीं उत्तीर्ण करें – सबसे पहले आपको दसवीं कक्षा को उत्तीर्ण कर लेना है  व अगर आप बाहरवीं या ग्रेडुएशन उत्तीर्ण है तो यह आपके लिए और भी अधिक बेहतर रहेगा व आपके पास मान्यताप्राप्त विधालय से प्राप्त शिक्षा के प्रमाणपत्र होने भी जरुरी है जैसे की मार्कशीट.

18 वर्ष उम्र – मुख्यमंत्री बनने के लिए आपका बालिग़ होना जरुरी है इसलिए इसमें आप 18 साल की उम्र पार कर लेने के बाद ही आवेदन कर सकते है और एक मुख्यमंत्री बन सकते है इसलिए आपको ध्यान रखना होगा की आप 18 वर्ष से कम उम्र में इसके लिए आवेदन नहीं कर सकते.

MLA. सांसद बने – आपको मुख्यमंत्री बनने से पहले किसी भी क्षेत्र से एमएलए सांसद आदि के चुनाव जितने जरुरी है व आप एक बार एमएलए बन जाते है तो इसके बाद आपके सीएम बनने के रास्ते आसान हो जाते है व आप एमएलए बनकर ऐसा काम करे की लोगो के मन में आपकी एक अच्छी तस्वीर बन जाए और आप जब भी सीएम के लिए नामांकन करे तो लोग आपकी पार्टी को ही वोट करें.

सीएम के लिए नामांकन – आप एमएलए का कार्यकाल पूरा कर लेते है तो इसके बाद आपको अपनी पार्टी से सीएम बनने के लिए हरी झंडी मिलने तक इंतज़ार करना होगा व जैसे ही आपकी पार्टी आपका सीएम पद के लिए नामांकन करती है तो इसके बाद आप सीएम पद के लिए इलेक्शन लड़ सकते है और आप जित जाते है तो इसके बाद आपको मुख्यमंत्री की शपथ दिलवाई जाती है इसके बाद आप मुख्यमंत्री बन जाते है.

निम्न प्रक्रिया से आप एक मुख्यमंत्री बन सकते है व इसके लिए आपको निम्न तरह की बताई गयी प्रक्रिया से गुजरना होता है व एक बात हमेशा ध्यान रखे की इसके लिए आपको कड़ी मेहनत और काफी परिश्रम करने की जरुरत होगी तभी आपको इसमें सफलता प्राप्त हो सकती है.

मुख्यमंत्री का कार्यकाल

मुख्यमंत्री का कार्यकाल 5 वर्ष का होता है व जब कोई व्यक्ति मुख्यमंत्री बन जाता है तो वो 5 वर्ष तक अपने पद पर आसीन रहता है इसके बाद दोबारा इलेक्शन होते है और उस इलेक्शन के आधार पर यह निश्चित होता है की अगला मुख्यमंत्री कौन होगा व अगर हाल में जो मुख्यमंत्री है उसकी पार्टी आने वाले समय में भी इलेक्शन जित जाती है तो वो वापिस मुख्यमंत्री के पद पर आसीन हो सकता है.

एक व्यक्ति कितने वर्ष तक अपने पद पर रहेगा यह उसके अनुभव और उसके द्वारा किये गए कार्यो पर निर्भर करता है आपको ज्यादा समय तक मुख्यमंत्री पद पर रहना है तो इसके लिए आपको कड़ी मेहनत करने की जरुरत है व आपको अपने राज्य के लिए हर बेहतरीन कार्य करना होगा तभी आने वाले समय में आपके राज्य के लोग वापिस आपको मुख्यमंत्री के रूप में स्वीकार करना पसंद करेंगे.

मुख्यमंत्री का नामांकन कैसे होता है

जब भी इलेक्शन होते है इससे पहले जो उम्मीदवार खड़ा होना चाहता है उसे जिले के डीएम के पास नामांकन करवाना पड़ता है व इसके लिए उम्मीदवार को डीएम के सामने कई तरह की अपनी जानकारी सार्वजनिक करनी होती है जैसे की उसकी जमीन कितनी है, उसके घर कितने है, उसके पास गाड़िया कितनी है व उसका बैंक बैलेंस कितना है निम्न प्रकार की जानकारी आपको शेयर करनी होती है.

इसके साथ ही यह भी बताना होता है की वह भारतीय नागरिक है या नहीं व उसके ऊपर कितने केस चल रहे है व गंभीर आरोप कितने है व क्या कभी जेल में जाना पड़ा है या है व इससे जुडी समस्त जानकारी साझा करनी पड़ती है.

इसके आलावा उम्मीदवार को अपने आवश्यक दस्तावेज जैसे आधार कार्ड, पहचान पत्र, शिक्षा के प्रमाण पत्र, एससी/ एसटी और ओबीसी के लिए जाती प्रमाण पत्र आदि प्रतुस्त करने होंगे व हाल ही का पासपोर्ट साइज फोटो जो की 1 माह से ज्यादा पुराना नहीं होना चाहिए वो पेंश करना होगा इसके बाद आप मुख्यमंत्री के लिए नामांकन करवा सकते है.

मुख्यमंत्री का वेतन

अगर आप मुख्यमंत्री बनना चाहते है तो इससे पहले आप इसके Salary के बारे में जरूर जानना चाहेगे व इस पद के लिए सभी राज्य में अलग अलग वेतन निर्धारित होता है इसलिए कुछ राज्य में मुख्यमंत्री को कम वेतन मिलता है तो कुछ राज्य में मुख्यमंत्री को अधिक वेतन दिया जाता है इस पद पर निम्न प्रकार से वेतन दिया जाता है.

  • तेलंगाना – 410000/- रूपए
  • दिल्ली – 390000/- रूपए
  • उत्तर प्रदेश – 365000/- रूपए
  • महाराष्ट्र – 345000/- रूपए
  • आंध्र प्रदेश – 335000/- रूपए
  • गुजरात – 3 लाख 21 हजार
  • हिमाचल प्रदेश – 310000/- रूपए
  • हरियाणा – 288000/- रूपए
  • झारखंड – 2,72000/- रूपए
  • मध्य प्रदेश – 2,55000/- रूपए
  • छत्तीसगढ़ – 230000/- रूपए
  • पंजाब – 230000/- रूपए
  • गोवा – 220000/- रूपए
  • बिहार – 215000/- रूपए
  • पश्चिम बंगाल – 210000/- रूपए
  • तमिलनाडु – 205000/- रूपए
  • कर्नाटक – 2,95000/- रूपए
  • केरल – 185000/- रूपए
  • राजस्थान – 175000/- रूपए
  • उत्तराखंड – 175000/- रूपए
  • उड़ीसा – 160000/- रूपए
  • मेघालय – 150000/- रूपए
  • अरुणाचल प्रदेश – 133000
  • असम – 125000/- रूपए
  • मणिपुर – 120000/- रूपए
  • नागालैंड – 110000/- रूपए
  • त्रिपुरा – 105000/- रूपए

इसके साथ ही मुख्यमंत्री को अन्य कई तरह की सुविधाएं भी दी जाती है और मुख्यमंत्री को सरकार द्वारा वीआईपी सुविधाएं दी जाती है जिसमे वाहन, मकान, सिक्योरिटी, नौकर, टेलीफोन बिल, लाइट बिल, यात्रा खर्चा, खाने का खर्चा आदि कई तरह के भत्ते और सुविधाएं प्रदान की जाती है.

मुख्यमंत्री बनने के लिए आवश्यक गुण

आपको मुख्यमंत्री बनना है तो इसके लिए आपके अंदर कुछ आवश्यक गुण होने बेहद ही जरुरी है व इसके बाद ही आप एक मुख्यमंत्री बन सकते है आपको सबसे पहले तो राजनीती के बारे में अच्छी जानकारी होनी चाहिए की राजनीति किया होती है और आप किस प्रकार से राजनीति कर सकते है अगर आपको इसके बारे में जानकारी होगी तो ही आप एक मुख्यमंत्री के रूप में कार्य कर सकते है.

इसके साथ ही मुख्यमंत्री आप सिर्फ जनता के वोट के आधार पर ही बन सकते है इसलिए आपकी जनता में अच्छी पहचान होनी चाहिए और जनता को आपके ऊपर लगाव होना चाहिए तभी आपकी पार्टी को अधिक वोट मिल पाएंगे व आप मुख्यमंत्री बन पाएंगे एवं इसके लिए आपको लोगो के साथ मिलजुलकर रहना होगा  उनकी समस्या को समझना होगा और उसका समाधान करना होगा इसके साथ ही आपको लोगो की सेवा करनी होगी तभी लोग आपको पसंद करेंगे और आपको वोट देंगे.

Calculation – इस आर्टिकल में हमने आपको CM Kaise Bane इसके बारे में जानकारी दी है हमे उम्मीद है आपको सीएम बनने के बारे में दी गयी जानकारी उपयोगी लगी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसे अपने मित्रो के साथ शेयर जरूर करें और इससे जुड़ा किसी भी तरह का सवाल आदि पूछना चाहे तो आप हमे कमेंट आदि के द्वारा भी बता सकते है.

पिछला लेखLawyer Kaise Bane : सरकारी वकील कैसे बने पूरी जानकारी
अगला लेखDofollow Backlink Vs Nofollow Backlinks Kya Hai
मै रघुवीर चारण PMO Yojana का संस्थापक हूँ हमें लेख लिखना व किताब पढ़ना बेहद पसंद है है हम शिक्षा, कंप्यूटर, मोबाइल, सरकारी नौकरी, नई योजनाओं व इस प्रकार की अन्य कई जानकारी इस Website पर लिखते है

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें