छत्तीसगढ़ में कितने जिले हैं?

आज हम आपको छत्तीसगढ़ में कितने जिले हैं इसके बारे में बता रहे है। अक्सर कई लोगो के मन में छातीसगढ़ के बारे में अलग अलग प्रकार के सवाल होते है एवं ज्यादातर लोगो को इस राज्य के बारे में अधिकं जानकारी नही होती। तो ऐसे में यह लेख आपके लिए बहुत ही उपयोगी साबित हो सकता है।

छत्तीसगढ़ में कितने जिले हैं

अगर आप छतीसगढ़ के निवासी है या आप किसी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे है तो आपको छतीसगढ़ के जिलो की जानकारी पता होनी चाहिए। कई बार परीक्षा आदि में भी इस प्रकर के सवाल पूछे जाते है। अगर आप छत्तीसगढ़ जिले से जुडी बेहतरीन जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो छत्तीसगढ़ में कितने जिले हैं यह लेख ध्यान से पढ़े।

छत्तीसगढ़ में कितने जिले हैं?

छत्तीसगढ़ राज्य की स्थापना 1 नवंबर 2000 को हुई थी। तब इसमें 16 जिले थे। इसके बाद 2001 में दो और जिले, नारायणपुर और बीजापुर, बनाए गए। 2011 में, छत्तीसगढ़ में 9 नए जिले बनाए गए। 2022 में, छत्तीसगढ़ में 5 और नए जिले बनाए गए। वर्त्तमान समय में छत्तीसगढ़ में कुल 33 जिले है, जिनके नाम निम्न प्रकार से है:

  • कबीरधाम
  • कांकेर
  • कोंडागांव
  • कोरबा
  • कोरिया
  • खैरागढ़-छुईखदान-गंडई
  • गरियाबंद
  • गोरेला-पेंड्रा-मरवाही
  • जशपुर
  • जांजगीर-चांपा
  • दंतेवाड़ा
  • दुर्ग
  • धमतरी
  • नारायणपुर
  • बलरामपुर
  • बलोदा बाजार
  • बस्तर
  • बालोद
  • बिलासपुर
  • बीजापुर
  • बेमेतरा
  • मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर
  • महासमुंद
  • मुंगेली
  • मोहला-मानपुर-चौकी
  • राजनांदगांव
  • रायगढ़
  • रायपुर
  • सक्ति
  • सरगुजा
  • सारंगढ़
  • सुकमा
  • सूरजपुर

छत्तीसगढ़ जिलो की स्थापना

छत्तीसगढ़ राज्य की स्थापना के बाद से इस राज्य में कई नए नए जिले बनाये गये है। हम आपको इस राज्य के नए जिलो की स्थापना का समय बता रहे है जो की निम्न प्रकार से है:

  1. छत्तीसगढ़ में वर्तमान में 33 जिले हैं।
  2. छत्तीसगढ़ राज्य की स्थापना 1 नवंबर 2000 को हुई थी, तब इसमें केवल 16 जिले थे।
  3. इसके बाद 2008 में 2 और जिले बनाए गए।
  4. और फिर 15 अगस्त 2011 को 9 नए जिले बनाए गए।
  5. और अंत में 17 अप्रैल 2022 को 5 नए जिले बनाए गए।

छत्तीसगढ़ के संभाग

छत्तीसगढ़ राज्य को 5 अलग अलग संभाग में बांटा गया है। छत्तीसगढ़ के संभाग के नाम निम्न प्रकार से है:

  • रायपुर संभाग
  • बिलासपुर संभाग
  • बस्तर संभाग
  • सरगुजा संभाग
  • दुर्ग संभाग

छत्तीसगढ़ के मुख्यालय

छत्तीसगढ़ में कुल 5 अलग अलग मुख्यालय है। छत्तीसगढ़ के सभी मुख्यालय के नाम निम्न प्रकार से है:

  • रायपुर
  • बिलासपुर
  • जगदलपुर
  • अंबिकापुर
  • दुर्ग

कांकेर का दुर्ग

छत्तीसगढ़ राज्य अपने दुर्ग और किलो के लिए दुनियाभर में काफी ज्यादा लोकप्रिय है। हम आपको इस राज्य के कुछ प्रख्यात दुर्ग बता रहे है. जो की निम्न प्रकार से है:

  • खजुराहो
  • रानी दुर्गावती का किला
  • बूढ़ा तालाब
  • अम्बिकापुर का तालाब
  • बस्तर का जंगल

छत्तीसगढ़ के प्रमुख नदियाँ

छत्तीसगढ़ राज्य में कई अलग अलग नदिया प्रवाहित होती है। छत्तीसगढ़ में बहने वाली कुछ बड़ी नदियों के नाम निम्न प्रकार से है:

  • महानदी
  • सोन
  • इंद्रावती
  • इब
  • कोनार
  • अरपा
  • महानदी
  • हसदेव
  • शंख

छत्तीसगढ़ के प्रमुख खनिज

यह राज्य अपने खनिज के कारण भी काफी ज्यादा प्रख्यात है। इस राज्य में कई प्रकार के खनिज का उत्पादन किया जाता है। हम आपको छत्तीसगढ़ के कुछ प्रमुख खनिज के नाम बता रहे है जो की निम्न प्रकार से है:?

  • कोयला
  • लोहा
  • चूना पत्थर
  • बॉक्साइट
  • मैंगनीज
  • अभ्रक

छत्तीसगढ़ के प्रमुख उद्योग

छत्तीसगढ़ राज्य में कई प्रकार के उद्योग उपलब्ध है। जिनके नाम निम्न प्रकार से है:

  • कोयला खनन
  • इस्पात उद्योग
  • सीमेंट उद्योग
  • चीनी उद्योग
  • वनस्पति तेल उद्योग

छत्तीसगढ़ के प्रमुख वन्यजीव

छत्तीसगढ़ में कई प्रकार के अलग अलग वन्यजीव मौजूद है। हम आपको इस राज्य के कुछ प्रमुख वन्यजीव बता रहे है जो की निम्न प्रकार से है:

  • बाघ
  • तेंदुआ
  • हाथी
  • गैंडा
  • भालू
  • हिरण
  • नीलगाय

छत्तीसगढ़ के प्रमुख पक्षी

छत्तीसगढ़ राज्य में कई प्रकार के अलग अलग पक्षी पाए जाते है। इस राज्य में निम्न प्रकार के पक्षी आसानी से देखने के लिए मिल जायेगे।

  • मोर
  • तीतर
  • कबूतर
  • तोता
  • बटेर
  • गिद्ध

छत्तीसगढ़ी के नृत्य

यह राज्य अपनी कला और संस्कृति के लिए दुनियाभर में काफी ज्यादा प्रख्यात है। इस राज्य में कई प्रकार के अलग अलग नृत्य किये जाते है जिसके नाम निम्न प्रकार से है:

  • सरहुल
  • गौर
  • बिहू
  • चांदनी
  • तीज

छत्तीसगढ़ राज्य बहुत ही सुंदर राज्य है और यहाँ पर कई प्रकार के अलग अलग पर्यटन स्थल भी है। यह राज्य अपनी कला, पर्यटन स्थल और जीवनशैली आदि के कारण दुनियाभर में काफी ज्यादा लोकप्रिय माना जाता है।

पिछला लेखभारत के शिक्षा मंत्री कौन हैं?
अगला लेखभाभी को कैसे पटाये? – 10 बेहतरीन तरीके
Raghuveer
रघुवीर दान, PMO योजना केसंस्थापक है एवं एक लेखक है। इन्हें 5 वर्षो का लेख लिखने का अच्छा अनुभव है। यह विभिन्न प्रकार की जानकारी प्रकाशित करते है।

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें