नमस्कार मित्रो आज हम आपको BOCW Full Form In Hindi के बारे में बताने वाले है आप सभी ने अक्सर BOCW के बारे में सुना होगा व पढ़ा होगा पर ज्यादातर लोगो को इसके बारे में विस्तृत जानकारी नहीं होती की आखिर यह होता क्या है व इस शब्द का इस्तमाल कब और किसलिए किया जाता है.

BOCW Full Form In Hindi

BOCW को लेकर आप सभी के मन में कई तरह के अलग अलग सवाल आते होंगे ऐसे में यह आर्टिकल इसीलिए लिखा गया है ताकि हम आपको BOCW Full Form In Hindi से जुडी विस्तृत जानकारी बता सके और आपके मन में BOCW को लेकर जितने भी सवाल है उनके आपको सटीक उत्तर मिल सके एवं BOCW से जुडी जानकारी के लिए आप इस आर्टिकल को ध्यान से पढ़े.

BOCW Full Form In Hindi

BOCW क्या है एवं किसे कहते है इन सब से जुडी जानकारी बताने से पहले हम आपको इसके पुरे नाम के बारे में आपको बता देते है.

BOCW Full Form – Building and Other Construction Workers

हिंदी में इन्हे भवन और अन्य निर्माण श्रमिक भी कहा जाता है यह शब्द पहली बार उस वकत सामने आया था जब बिल्डिंग या अन्य निर्माणों में कार्य करने वाले श्रमिकों के लिए केंद्रीय सरकार ने बिल्डिंग एंड अदर कंस्ट्रक्शन वर्कर एक्ट 1996 बनाया था.

BOCW क्या है

जैसा की आप सभी जानते है की कंस्ट्रक्शन का काम बहुत ही जोखिम से भरा हुआ होता है एवं बहुत अधिक असुरक्षित होता है इसके साथ ही इनमे काम अस्थाई होता है और श्रमिकों को काफी लम्बे घंटो तक इसमें कार्य करना होता है ऐसे में केंद्रीय सरकार ने इन श्रमिकों को ध्यान में रखते हुए उनकी सुरक्षा के लिए बिल्डिंग एंड अदर कंस्ट्रक्शन वर्कर एक्ट 1996 को बनाया था.

इस एक्ट के तहत कोई भी निर्माण होता है जिसकी लागत 10 से अधिक होती है तो उसका एक फीसदी हिस्सा Building and Other Construction Workers Act के तहत जमा करवाना होता है यह हिस्सा 18 स्कीमों के द्वारा कंट्रक्शन श्रमिकों के कल्याण के लिए खर्च किया जाता है.

इस एक्ट में श्रमिकों के कल्याणकारी उपायम, सुरक्षा, स्वास्थ्य आदि के प्रावधान होते है एवं इसमें ईट पकाने वाले मजदुर, मिस्त्री, वेल्डर, प्लम्बर, इलेक्ट्रिशियन, टाइल, सिरवेज और मार्बल लगाने वाले व्यक्ति भी शामिल होते है.

BOCW के उद्देश्य

BOCW को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य श्रमिकों का कल्याण करना था व जो श्रमिक अत्यंत गरीब और शोषित वर्ग से है उन्हें आर्थिक सहायता देने और उनके कार्यदशा में सुधार लाने के उद्देश्य से इसका गठन किया गया था इसके अंतर्गत श्रमिकों को कई तरह की अलग अलग योजनाओ के तहत लाभान्वित किया जाता है.

BOCW में किस प्रकार सहायता की जाती है

सभी के लिए यह जानना बहुत ही जरुरी है की आखिर BOCW के अंतर्गत श्रमिकों को किस प्रकार की सहायता प्रदान की जाती है तो इसमें सरकार के द्वारा कई अलग अलग प्रकार की योजनाओ को चलाया जाता है जैसे की उत्तर प्रदेश की सरकार द्वारा समय समय पर श्रमिकों के कल्याण के लिए निम्न योजना लागू की जाती है.

  • अक्षमता पेंशन योजना
  • राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना
  • दुर्घटना सहायता योजना
  • पालनगृह योजना
  • सौर ऊर्जा योजना

निम्न तहरा की अलग अलग योजनाए सरकार के द्वारा शुरू की जाती है व इसके माध्यम से श्रमिकों को सुविधाएं प्रदान की जाती है ताकि उन्हें अधिक लाभ प्राप्त हो सके.

BOCW कार्ड क्या है

यह एक प्रमाणित SCOSTA कार्ड है जिसका इस्तमाल भारत सरकार की निर्धारित कई ई गवर्नेंस नीतियों के अनुसार किया जाता है एवं इसमें श्रमिक की बेसिक जानकारी दी हुई होती है जैसे की उसका नाम, पता, उम्र, संपर्क नंबर आदि व इसके साथ ही अन्य कई तरह की डिटेल्स कार्ड में एम्बेडेड चिप में स्टोर होती है जो कार्ड विभाग द्वारा श्रमिक के परिवार के विवरण और श्रमिक को दी गयी योजनाओ को जांचने में सहायक होती है.

BOCW कार्ड कैसे बनाये

अगर आपका BOCW बना हुआ नहीं है और आप बनाना चाहते है तो इसके लिए आपको ऑनलाइन आवेदन करना होता है इसकी  आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करें के बाद आपको इसमें आवेदन करने का विकल्प मिलता है उसके ऊपर क्लिक करना है व बादमे आपसे जो जो जानकारी मांगी जाती है वो सभी जानकारी यहाँ पर भरनी होती है अंत में फॉर्म को सबमिट कर देना है.

अब आपको आवेदन होने के बाद एक रिसिप्ट नंबर दिखाई देगा उसकी प्रिंट निकालकर पास मे रख ले ताकि भविष्य में आप अपने आवेदन का स्टेटस आदि आसानी से देख सके व अगर आपको फॉर्म भरने में परेशानी हो रही है तो आप किसी ई मित्र या साइबर कैफे में जाकर भी इसके लिए आवेदन करवा सकते है और अपना BOCW कार्ड बनवा सकते है.

Calculation – इस आर्टिकल में हमने आपको BOCW Full Form In Hindi के बारे में जानकारी दी है हमे उम्मीद है आपको हमारी बताई जानकारी उपयोगी लगी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें और इससे जुड़ा किसी भी तरह का सवाल पूछना चाहे तो आप हमे कमेंट करके बता सकते है.

पिछला लेखAEPS Full Form In Hindi : AEPS किसे कहते है पूरी जानकारी
अगला लेखIAS Kaise Bane व IAS बनने के लिए क्या करें पूरी जानकारी
मै रघुवीर चारण PMO Yojana का संस्थापक हूँ हमें लेख लिखना व किताब पढ़ना बेहद पसंद है है हम शिक्षा, कंप्यूटर, मोबाइल, सरकारी नौकरी, नई योजनाओं व इस प्रकार की अन्य कई जानकारी इस Website पर लिखते है

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें