नमस्कार मित्रो आज हम आपको BOB Full Form in Hindi के बारे में जानकारी देने वाले है अक्सर आप सभी ने कई बार BOB के बारे में सुना होगा व देखा होगा पर कई लोगो को इसके बारे में पता नहीं होता की इसका पूरा नाम क्या होता है व यह क्या है और इसकी स्थापना कब और किसके द्वारा की गयी थी तो इस आर्टिकल में हम आपको इससे जुडी पूरी जानकारी बताने वाले है.

BOB Full Form in Hindi

अग र आपको BOB के बारे में पता नहीं है तो आपको इसके बारे में जानकारी होनी बेहद ही आवश्यक है क्युकी Full Form in Hindi और BOB क्या है इस तरह की जानकारी आपके भविष्य में काफी उपयोगी हो सकती है एवं कई लोगो को इसके पुरे नाम के बारे में तो पता होता है पर इसका अलावा इससे जुडी अन्य जानकारी पता नहीं होती तो यह आर्टिकल सभी के लिए बेहद उपयोगी होगा.

BOB Full Form in Hindi

BOB क्या है व इसका इतिहास क्या है इन सब के बारे में बताने से पहले हम आपको इसके पुरे नाम के बारे में बता देते है.

BOB Full Form – Bank of Baroda

हिंदी में इसको बैंक ऑफ़ बड़ौदा कहा जाता है व यह भारत में स्थित अंतरास्ट्रीय बैंकिंग एवं वित्तीय सेवा कंपनी है जिसका मुख्यालय भारत के गुजरात राज्य के वडोदरा शहर में स्थित है.

BOB क्या है

जैसे की हमने आपको बताया की यह अंतराष्ट्रीय  बैंकिंग और वित्तीय सेवा कंपनी है और यह एक राज्य के स्वामित्व वाली बैंकिंग एवं वित्तीय सेवा कंपनी है एवं इसका मुख्यालय वडोदरा गुजरात में है जबकि इसका कॉर्पोरट कार्यालय भारत के मुंबई शहर में स्थिति है हाल या यह एक बहुत ही बड़ी बैंकिंग सेवा प्रदाता कंपनी है इस कंपनी की हाल में 3454 शाखाये पुरे भारत में स्थित है इसके आलावा विदेश में भी इसकी 80 शाखाएँ है.

बैंक ऑफ़ बड़ौदा के मुख्य प्रबंध निदेशक और सीईओ जून 2018 तक श्री पी.एस. जयकुमार है व इसकी स्थापना सन् 1908 में मुंबई में एक छोटी सी इमारत के रूप में गयी थी व इसकी स्थापना नए हाई-उदय एवं हाई-टेक बड़ौदा कॉर्पोरेट सेंटर के रूप में हुई थी इसके बाद इसकी लोकप्रियता काफी बढ़ती गयी और आज के समय में यह भारतीय स्टेट बैंक और पंजाब नॅशनल बैंक के बाद में भारत की तीसरी सबसे बड़ी मानी जाती है.

BOB की प्रमुख सेवाएं

BOB अपने ग्राहकों को कई अलग अलग प्रकार की सेवाएं प्रदान करता है व इसके द्वारा दी जाने वाली सेवाएं निम्न प्रकार से है.

  • रिटेल बैंकिंग – इसके अंतर्गत बैंक अपने ग्राहकों को ऋण देने, जमा करने, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड और डीमेट जैसे सेवाएं प्रदान करता है.
  • ग्रामीण और कृषि बैंकिंग –  इसके अंतर्गत बैंक द्वारा अपने ग्राहकों को कृषि ऋण, लॉकर और जमा आदि अलग अलग प्रकार की सुविधाए प्रदान की जाती है.
  • कॉर्पोरेट बैंकिंग – कॉर्पोरेट बैंकिंग में विदेशी मुद्रा में ऋण, परियोजना वित्त, कॉर्पोरेट के लिए राजकोष आदि सेवाए शामिल है.
  • धन प्रबंधन − धन प्रबंधन में बीमा एवं म्युचुअल फंड और कंपनियों को धन प्रबंध सेवाएं प्रदान करना आदि शामिल है.
  • SME बैंकिंग – SME बैंकिंग के क्षेत्र में उत्पादन और सेवाएं आदि शामिल है.

निम्न प्रकार की सेवाएं या सुविधाएं बैंक ऑफ़ बड़ौदा द्वारा अपने ग्राहकों को प्रदान की जाती है.

BOB का इतिहास

बैंक ऑफ़ बड़ौदा से जुडी कुछ रोचक जानकारी हम आपको बता रहे है जिसके बारे में आपको पता होना चाहिए व यह निम्न प्रकार से है.

  • बैंक ऑफ़ बड़ौदा की स्थापना बड़ौदा के महाराजा सयाजीराव गायकवाड़ III के द्वारा 20 जुलाई 1908 में की गयी थी.
  • सन् 1953 में बैंक ऑफ़ बड़ौदा ने मोम्बासा और कम्पाला में अपनी शाखाओं की स्थापना की थी.
  • सन् 1957 में बैंक ऑफ़ बड़ौदा ने लन्दन में अपनी शाखा खोली थी.
  • सन् 1958 को बैंक ऑफ़ बड़ौदा ने हिन्द बैंक का अधिग्रहण किया था यह इस बैंक का सबसे पहला अधिग्रहण था.
  • 19 जुलाई 1969 को सरकार द्वारा बैंक ऑफ़ बड़ौदा को राष्ट्रीयकृत किया गया था व इसको भारत के लिए लाभ कमाने वाले सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम की मान्यता प्राप्त है.
  • 1996 में बैंक ऑफ़ बड़ौदा ने सार्वजनिक पेशकश के साथ पूंजी बाजार में प्रवेश किया था.
  • 2006 में बैंक ऑफ़ बड़ौदा के द्वारा सिंगापुर में ऑफशोर बैंक यूनिट की स्थापना की गयी थी.

यह सभी इस बैंक के मुख्य तथ्य एवं उपलब्धिया है जिसके बारे में आप सभी को पता होना आवश्यक है व इस तरह की जानकारी हमारे लिए कई तरह से उपयोगी साबित होती है.

Calculation – इस आर्टिकल में हमने आपको BOB Full Form in Hindi एवं BOB क्या है और इसकी स्थापना कब हुई थी इसके बारे में जानकारी दी है हमे उम्मीद है की आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी उपयोगी लगी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसे अपने मित्रो के साथ शेयर जरूर करें और इससे सम्बंधित किसी भी तरह का सवाल पूछना चाहते है तो आप हमे कमेंट के माध्यम से बता सकते है.

पिछला लेखWhatsApp Comedy Video Download कैसे करें आसान तरीके से
अगला लेखMCA Full Form in Hindi : MCA क्या होता है पूरी जानकारी

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें