नमस्कार मित्रो इस आर्टिकल में हम आपको BKU के बारे में बता रहे है व इसके साथ ही BKU Full form in Hindi व इसके कार्य क्या क्या होते है और इसकी स्थापना कब और किसके द्वारा की गयी थी इसके बारे में बता रहे है ताकि आपको इससे जुडी पूरी जानकारी इस आर्टिकल में प्राप्त हो सके.

BKU Full form in Hindi

हम सब लोग अक्सर BKU के बारे में आम बोलचाल, समाचार पत्र या खबरों आदि में सुनते रहते है पर अक्सर लोगो को इसके बारे में विशेष जानकारी नहीं होती और इसके साथ ही BKU Full form in Hindi के बारे में भी पता नहीं होता पर  इस तरह की जानकारी भविष्य में आपके लिए बेहद ही उपयोगी हो सकती है इसलिए आप हमारा पूरा आर्टिकल ध्यान से पढ़े.

BKU Full form in Hindi

BKU क्या होता है और इसकी स्थापना कब हुई थी इसके बारे में बताने से पहले हम आपको इसके पुरे नाम के बारे म बता देते है.

BKU Full form – Bhartiya Kisan Union

हिंदी में इसे भारतीय किसान यूनियन भी कहा जाता है और इसके नाम से ही आपको पता चल गया होगा की यह भारत के किसान भाइयो के लिए बनाया गया भारत का सबसे बड़ा किसान यूनियन है और यह किसान श्रमिकों के कल्याण के लिए बनाया गया एक गैर राजनीतिक संगठन है.

BKU क्या है

भारतीय किसान युनियान की स्थापना 1997 में की गयी थी और इसकी स्थापना का श्रेय कप्तान भोपाल सिंह जी, कल्याण सिंह जी, कर्नल विक्रम सिंह जी,  ठाकुर पाल सिंह  श्री नरेश सिरोही और अन्य नेताओ को जाता है जिनके प्रसास ये इस यूनियन की स्थापना हुई थी व इसकी स्थापना का मुख्य उदेश्य यही था की भारत में किसानो की स्थिति में सुधार लाना और आंदोलन और मार्गदर्शन से सरकार के माध्यम से किसानो को उचित लाभ प्रदान करना है.

हम सब जानते है की भारत में अधिकांश लोग कृषि के क्षेत्र से जुड़े हुए है और सोचने वाली बात ये है की यह अन्नदाता होते हुए भी अधिकांश किसानो की आर्थिक स्थिति काफी कमजोर होती है इसके साथ ही उनको सरकारी योजनाओ आदि का लाभ भी नहीं मिल पाता जबकि किसान और कृषि ईकॉमर्स का एक मुख्य आधार होता है.

एक कहावत थी जो की काफी पहले की है की किसान अन्नदाता होते हुए भी भूखा सोता है यह कहावत हमे भारत के किसान भाइयो के साथ देखने की मिल जाती है क्युकी राजनैतिक विडम्बनाओं के कारण आज किसानो को कोई भी पर्याप्त लाभ नहीं दे पा रहा है और अगर सरकार लाभ प्रदान करती है तो अक्सर वो एक सिमित मात्रा में होता है जो की किसान के लिए अधिक फयदेमंद नहीं होता उदाहरण के लिए आप मान सकते है की फसल खराब होने की स्थिति में भी देश के कई किसानो के कर्ज माफ़ नहीं होते जिसके कारण किसान कर्ज के दलदल में दुब जाते है ऐसी परिस्थिति से किसानो को इन परिस्थिति में लाभ पहुंचाने के लिए इसकी स्थापना की गयी थी.

BKU की उपलब्धि

हाल में BKU अर्थात भारतीय किसान यूनियन पुरे विश्व में काफी चर्चित है और पुरे  में परिचित है भारतीय किसानो के विकास के लिए यह organization बेहद ही  महत्वपूर्ण है यह पिछले 3 दशक से निःस्वार्थ किसानो के लिए कार्य करता आ रहा है और शुरुआत में कुछ नेता और अन्य लोगो ने किसानो की समस्याओ को समझा और इसके बाद 750 से भी अधिक किसानो के साथ राजस्थान के कोटा जिले के अधिवेशन आयोजित कर के 4 मार्च 1949 को किसान यूनियन की स्थापना की घोषणा की थी.

हाल में यह भारत का सबसे बड़ा किसान के विकास के लिए बनाया गया यूनियन है और यह किसानो की आवाज को सुनता है और किसानो के लिए आवाज ठाटा है इसके साथ ही यह गावो के विकास के लिए भी कार्य करते है.

BKU के उद्देश्य

BKU की स्थापना के कई मुख्य उद्देश्य थे इसके बारे में हम आपको कुछ उद्देश्य के बारे में बता रहे है जिसके लिए इसकी स्थापना की गयी थी.

  • सामाजिक, सांस्कृतिक एवं विविध मजदुर दंगठन और सस्थानो से मदद प्राप्त करना.
  • किसानो को कृषि के क्षेत्र में प्रशिक्षित करने के लिए शिविरों का आयोजन करना.
  • बेहतर कृषि के लिए किसानो को किसी भी परिवर्तन की जानकारी प्रदान करना और प्रोत्साहित करना.
  • किसानो की आर्थिक और सामजिक  उन्नति के लिए संगठन की स्थापना करना.
  • देश के किसानो, कृषि मजदूर और अन्य कारीगरों की सहायता कर के प्रदेश में खुशहाल वातावरण का निर्माण करना.
  • जलसिचाई और जल की वचत के लिए नए नए उपकरण का विकास करना और किसानो में उनका प्रचार करना.

आदि कई प्रकार के उसके उद्देश्य रखे गए थे जिसके कारण इसकी स्थापना की गयी थी व इसके आलावा भी इसके कई लक्ष्य रखे गए थे व मुख्य तौर पर इसका उद्देश्य कृषि के क्षेत्र में विकास करना और किसानो के हित में कार्य करना था.

Calculation – इस आर्टिकल में हमने BKU Full form in Hindi और BKU क्या है इसके बारे में जानकारी दी है हमे उम्मीद है की आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी उपयोगी लगी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसे अपने मित्रो के साथ शेयर जरूर करें और इससे सम्बंधित कोई सवाल आदि पूछना चाहते है तो आप हमे कमेंट कर के भी बता सकते है.

पिछला लेखCID व CBI क्या होता हैं व दोनों में क्या अंतर है
अगला लेखआयुष्मान भारत योजना क्या हैं व Ayushman Bharat List कैसे देखे
मै रघुवीर चारण PMO Yojana का संस्थापक हूँ हमें लेख लिखना व किताब पढ़ना बेहद पसंद है है हम शिक्षा, कंप्यूटर, मोबाइल, सरकारी नौकरी, नई योजनाओं व इस प्रकार की अन्य कई जानकारी इस Website पर लिखते है

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें