नमस्कार मित्रो आज हम आपको Bhagwan Kaise Bane इसके बारे में बता रहे है हम सब लोग भगवान् की पूजा अर्चना जरूर करते है व कई लोग ऐसे भी होते है जो भगवान पर विश्वास नहीं करते व बहुत से लोग जानना चाहते है की भगवान् कैसे बने उनके लिए यह जानकारी बहुत ही उपयोगी होने वाली है इसके लिए आप हमारे आर्टिकल को ध्यान से पढ़े.

Bhagwan Kaise Bane

भगवान हर जगह पर होते है व अपने कई बार सुना होगा की कण कण में भगवान है व अभी तक किसी ने भगवान को देखा नहीं है फिर भी हम भगवान पर विश्वास करते है इसका कारण क्या है और Bhagwan Kaise Bane व भगवान किसे कहते है इन सब के बारे में हम आपको बतायेगे जिससे की भगवान से जुडी हर जानकारी आपको यहां पर प्राप्त हो सके.

Bhagwan Kaise Bane

भगवान कैसे बने इसके बारे में आपको वेद पुराण आदि में पढ़ने को मिल सकता है व धार्मिक किताबो में भी देखने को मिल सकता है वही बहुत से लोग भगवान के अस्तित्व को नहीं मानते वो नास्तिक होते है व जहां तक हमने सुना और पढ़ा है उसके अनुसार भगवान पंचधातु पृथ्वी, जल, अग्नि, वायु और आकाश से मिलकर बने है व भगवान् कैसे बने थे इसके बारे में निश्चित तौर पर किसी को पता नहीं है क्युकी जब भगवान् की उत्पत्ति हुई उस वक्त मानव का जन्म भी नहीं हुआ था व जब श्रष्टि बनी थी तब से भगवान् का अस्तित्व है.

सभी धर्म में भगवान की पूजा की जाती है हालांकि सभी को अलग अलग रूप से भगवान की पूजा करते है व धार्मिक किताबो के अनुसार प्राचीन काल में तपस्वी और धर्मी व्यक्ति भगवान् के दर्शन कर चुके है व भगवान् के दर्शन के बाद ही उनके आधार पर धार्मिक किताबे बनायी गयी थी जो की हम सब आज के समय में पढ़ रहे है व आज भी लोगो का मानना है की अगर कोई व्यक्ति भगवान् की कठिन साधना करे तो भगवान प्रसन्न होकर उन्हें दर्शन देते है.

भगवान् की पूजा क्यों की जाती है

हम सब भगवान् की पूजा पाठ करते है व हम सभी खुद के स्वार्थ के लिए अक्सर भगवान् की पूजा करते है जैसे की कोई धन प्राप्ति के लिए कोई परिवार में शांति के लिए व कोई अपने पुत्र पौत्र के सुखी होने के लिए तो कोई अपने स्वास्थ्य के लिए इस तरह से हर व्यक्ति का कुछ न कुछ उद्देश्य होता है जिसे पूरा करने के उद्देश्य से लोग  भगवान् की पूजा करते है.

कई लोग कहते है की हम बिना किसी स्वार्थ के भगवान् की  पूजा करते है हम उनके विश्वास का सम्मान करते है पर जो व्यक्ति ऐसा कहते है वो भी स्वर्ग प्राप्ति के लिए या जन्म मृत्यु के चक्रव्यूह से छुटकारा पाने के लिए तो कोई भगवान् के दर्शन करने के लिए उन्हें पूजा पाठ के द्वारा खुश करने का प्रयत्न करते है उन सब में कही न कही हम सब का फायदा जरूर होता है.

हम भगवान का विश्वास क्यों करते है

हम सभी लोग भगवान् पर इसलिए विश्वास करते है क्युकी हमे पूर्वजो ने भगवान के में बताया है व हम किताबो आदि से भगवान के होने का अस्तित्व मानते है आज जो भी लोग भगवान को मानते है वो अस्थिक होते है व हमे हमारे पूर्वज या बड़े व्यक्तियों द्वारा जन्म के बाद से ही भगवान् की सेवा करना और पूजा पाठ करना सिखाया जाता है जिसके कारण उम्र के साथ हमारी आस्था भी बढ़ने लगती है.

कई लोग अपने कार्य के लिए भगवान् से मन्नत माँगते है व इसके बाद कई लोगो की बड़ी बड़ी मन्नते पूरी हुई है और आज भी ऐसा होता है हर  मंदिर में लोगो की मन्नत पूरी होने की खबरे अक्सर हम सब को सुनने को मिलती है जिससे की हमारी  आस्था भगवान के  प्रति बढ़ती चली जाती है व हम भगवान से अपनी इच्छा पूरी करने की मन्नत करते है इस कारण से ज्यादातर लोग भगवान पर विश्वास करते है.

भगवान को खुश कैसे रखे

भगवान को खुश रखने के कई तरीके होते है  आप भगवान को खुश करना चाहते है तो धर्म पुण्य करें, माता पिता की सेवा करें, बड़ो का सम्मान करे, मेहमानो की सेवा करें, हर दिन भगवान की पूजा करें, भगवान के हवन आदि करे व जीव जन्तुओ पर गया करें और उन्हें भोजन कराये इस तरह से आप भगवान को खुश कर सकते है व कोई भी व्यक्ति दूसरे प्राणियों व जिव जन्तुओ पर दया रखता है व उनकी सेवा करता है भगवान् हमेशा उसके प्रति खुश रहते है.

कई लोग व्रत भी रखते है व माना जाता है की व्रत से मन्नत पूरी होती है ऐसा हो भी सकता है पर अगर किसी का स्वास्थ्य ठीक नहीं रहता तो उसे व्रत करने की जगह भगवान् की पूजा करनी चाहिए व भगवान् को प्रसाद चढ़ाना चाहिए एवं धर्म पुण्य करना चाहिए इससे भी आपको व्रत करने जितना ही फल मिलता है व दुसरो का भला करने वालो और सोचने वालो पर भगवान हमेशा अपनी दया दृष्टि बनाये रखते है.

भगवान को कैसे देखे

कई लोग भगवान को देखना चाहते है अगर आप भी ऐसा चाहते है तो आप अपने माता पिता को देख सकते है अपने गुरु को देख सकते है व साधू संत को देख सकते है वह  सभी भगवान ही है बस मनुष्य उनकी परख नहीं पर पाता व आप जब भी माता पिता को देखे तब यही सोचे की यही मेरे भगवान है व आप जो जितनी भी सेवा भगवान की करना चाहते है उनकी अपने माता पिता की करें इससे  भगवान अपने आप आपके ऊपर प्रसन्न् होंगे और आपकी सब मनोकामना पूरी करेंगे व जो माता पिता को खुश रखता है वह आने वाले समय में धनवान बनता है.

क्या भगवान जन्म भी लेते है

जी हां भगवान जन्म भी लेते है आप श्री राम, श्री कृष्णा, परसुराम, रामदेव जी, गोगा जी, तेजा जी आदि भगवान ने माँ की कोख से ही जन्म लिया था व आज भी हम इनकी पूजा करते है भगवान हमेशा अच्छे कर्म करते है जिसके कारण हमेशा वे लोगो द्वारा पूजे जाते है हाल में आप सभी भगवान के मंदिर आदि भी देख सकते है यहां पर सभी भगवान ने जन्म लिया और अपना जीवन व्यतीत किया है.

Calculation – इस आर्टिकल में हमने आपको Bhagwan Kaise Bane इसके बारे में जानकारी दी है हमे उम्मीद है आपको हमारी बताई जानकारी उपयोगी लगी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसे अपने मित्रो के साथ शेयर जरूर करें और इससे जुड़ा किसी भी तरह का सवाल पूछना चाहे तो आप हमे कमेंट कर के भी बता सकते है.

पिछला लेखBeautiful Kaise Bane : सिर्फ एक दिन में Beautiful बनने के तरीके
अगला लेखSoftware Engineer Kaise Bane : सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बनते है

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें