नमस्कार मित्रो आज हम आपको BASIC Full Form in Hindi के बारे में जानकारी दे रहे है अक्सर बहुत से लोगो को इसके बारे में जानकारी नहीं होती की यह क्या होता है व इसका कार्य क्या है तो हम आपको आज इसी से जुडी पूरी जानकारी देने वाले है ताकि आपको  बेसिक के बारे में पूरी जानकारी हिंदी में प्राप्त हो सके.

BASIC Full Form in Hindi

अक्सर अपने कई बार basic के बारे में सुना होगा व अधिकांश कम्प्यूटर के  क्षेत्र में ही हमे यह शब्द सुनने को मिलता है पर जानकारी न होने के कारण हम इसको सही तरीके से समझ नहीं  पाते जिसके कारण यह आर्टिकल लिखा गया है ताकि हम BASIC Full Form in Hindi और basic किस तरह से  कार्य करता है और इसका उपयोग कहा और किसलिए किया जाता है इनसे जुडी जानकारी देंगे इसके लिए आप हमारा पूरा आर्टिकल पढ़े.

BASIC Full Form in Hindi

BASIC किसे कहते है और इससे जुडी अन्य जानकारी आपको बताने से पहले हम आपको इसके पुरे नाम के बारे में आपको बता देते है.

BASIC Full Form – Beginner’s All-Purpose Symbolic Instruction Code

हिंदी में इसे शुरुआत करने वालों हेतु बहूद्देश्यीय प्रतीकात्मक अनुदेश कोड कहा जाता है एवं यह कई सारे है प्रोग्रामिक लैंग्वेज और जनरल प्रोपोज़ कमांड का एक समूह होता है.

BASIC क्या है

जैसा की हमने आपको बताया की यह जनरल प्रोग्रामिक लेंग्वेज और propose command का एक समूह होता है और इसके निर्माण करने का श्रेय john G. Kemeny और Thomas E. Kurtz को जाता है क्युकी उनके द्वारा ही basic को सन् 1964 में डेवेलोप किया गया था.

Basic कंप्यूटर की एक प्रोग्रामक लैंवेज होती है और इसको 1960 के दशक में मैथमैटिक्स और साइंस के विधार्थियो के द्वारा इस्तमाल जाता था पर उस वक्त यह इतना ज्यादा विकासशील नहीं था इस कारन से बादमे इसको अधिक उपयोगी बनाने के लिए इसको अन्य लोगो के द्वारा BASIC प्रोगरामिंग लैंग्वेज को डेवेलोप किया गया था.

सबसे पहले HP कंपनी के द्वारा 1970 के  BASIC प्रोग्रामिक लेंग्वेज का उपयोग करके HP2000 सीरीज का कम्प्यूटर लांच किया गया था व इसके बाद जब 1980 में अन्य प्रोग्राम्स लेंवेज ऐसे पास्कल और सी लेंग्वेज के आने के बाद basic प्रोग्रामिक लेंवेज का उपयोग काफी कम हो गया था इसका मुख्य कारण यही था की बेसिक प्रोग्रामिक लेंवेज की तुलना में पास्कल और सी लेंग्वेज काफी एडवांस थे.

BASIC का इतिहास

इसको खासकर उन लोगो के लिए ही बनाया गया था या डिज़ाइन किया गया था जो की मैथमैटिक बैकग्राउंड से नहीं थे और इसको लोकप्रिय बनने के लिए इसको शुरूआती दौर में मुफ्त में उपलब्ध करवाया गया था इसके साथ ही इसको छात्रों में भाषा को बढ़ावा देने के लिए स्कुल में भी उपलब्ध करवाया गया था इसके बाद यह 1960 तक chargeable बन गया था.

बेसिक को अब तक कई प्रकार के अलग अलग वर्जन में लांच किया गया है व इसके वर्जन निम्न प्रकार से है.

  • Open Source QB64
  • FreeBASIC
  • RapidQ
  • Basic For Qt
  • Gambas
  • PureBasic
  • PowerBASIC
  • Xojo
  • True BASIC
  • Quite BASIC
  • True BASIC

यह सभी BASIC के अलग अलग version है जिसके बारे में आपको पता होना चाहिए व इसको बेहतर बनाने के लिए अक्सर इसके नए नए version आते है और अपडेट आते रहते है.

Calculation – इस आर्टिकल में हमने आपको BASIC Full Form in Hindi के बारे में जानकारी दी है व basic क्या होता है व इसका निर्माण कब और किसलिए किया गया था व यह किस तरह से उपयोगी होता है इसके बारे में जानकारी देने का प्रयत्न किया है हमे उम्मीद है की आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी उपयोग लगी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसको अपने मित्रो के साथ शेयर जरूर करे और इससे जुड़ा किसी भी प्रकार का सवाल पूछना चाहते है तो आप हमे कमेंट कर के बता सकते है.

पिछला लेखWhatsApp पर ऑनलाइन होते हुए ऑफलाइन कैसे दिखे आसान तरीका
अगला लेखFree Fire Download कैसे करें OBB + APK File

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें