बैंक मैनेजर कैसे बनें? आवश्यक योग्यता, चयन प्रक्रिया और सैलरी

आज हम आपको बैंक मैनेजर कैसे बनें, इसके बारे में बताने वाले हैं। अगर आपका सपना बैंक मैनेजर बनने का है, तो यह जानकारी आपके लिए बेहद ही उपयोगी साबित होने वाली है। इसमें हम आपको बैंक मैनेजर कैसे बनते हैं, इससे जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी बताने वाले हैं।

बैंक मैनेजर कैसे बनें

बैंक मैनेजर एक बैंक की शाखा का प्रमुख होता है और उसके पास सभी प्रकार के बैंकिंग कार्यों का प्रबंधन करने का अधिकार होता है। बैंक मैनेजर बनने के लिए उम्मीदवार को उच्च शिक्षा, वित्तीय ज्ञान, प्रशासनिक क्षमता और ग्राहक सेवा कौशल की आवश्यकता होती है। अगर आप बैंक मैनेजर बनना चाहते है तो बैंक मैनेजर कैसे बनें यह लेख आपके लिए बहुत ही उपयोगी साबित होने वाला है।

बैंक मैनेजर कैसे बनें?

बैंक मैनेजर एक महत्वपूर्ण पद है जो बैंकिंग क्षेत्र में सम्मान की दृष्टि से देखा जाता है। इस पद को प्राप्त करने के लिए आपको कड़ी मेहनत और लगन की आवश्यकता होती है।

बैंक मैनेजर बनने के लिए योग्यता

बैंक मैनेजर बनने के लिए आपको कई प्रकार की अलग अलग योग्यताओं को पूरा करना होगा, जो की निम्न प्रकार से है:

  • शैक्षणिक योग्यता: बैंक मैनेजर बनने के लिए आपका किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक होना आवश्यक है। स्नातक में आपके कम से कम 60% अंक होने चाहिए।
  • आयु सीमा: बैंक मैनेजर बनने के लिए आपकी आयु 21 वर्ष से 30 वर्ष के बीच होनी चाहिए। आरक्षित वर्गों को आयु में छूट मिलती है।
  • भाषा कौशल: बैंक मैनेजर को हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में दक्ष होना चाहिए।
  • कंप्यूटर कौशल: बैंक मैनेजर को कंप्यूटर का अच्छा ज्ञान होना चाहिए।
  • व्यक्तित्व: बैंक मैनेजर के पास मजबूत नेतृत्व क्षमता, समस्या समाधान क्षमता और प्रभावी संचार कौशल होना चाहिए।

बैंक मैनेजर बनने से पहले बैंकिंग क्षेत्र में अनुभव प्राप्त करना लाभकारी होता है। आप किसी बैंक में क्लर्क या अन्य पद पर कार्य करके अनुभव प्राप्त कर सकते हैं।

सरकारी बैंक मैनेजर कैसे बनें?

सरकारी बैंक मैनेजर बनने के लिए आपको आईबीपीएस (इंडियन बैंकिंग पर्सनल सिलेक्शन) परीक्षा देनी होती है। इस परीक्षा में सफल होने के बाद आपको साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है। साक्षात्कार में सफल होने के बाद आपको सरकारी बैंक में बैंक मैनेजर के पद पर नियुक्त किया जाता है।

बैंक मैनेजर बनने के लिए चयन प्रक्रिया

बैंक मैनेजर बनने के लिए आपको निम्नलिखित चरण-वार प्रक्रिया को पूरा करना होगा, इसके बाद ही आप बैंक मैनेजर बन सकते है:

  • अभ्यर्थन: बैंक मैनेजर पद के लिए आवेदन करने के लिए आपको बैंक की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा।
  • प्रारंभिक परीक्षा: बैंक मैनेजर पद के लिए प्रारंभिक परीक्षा एक ऑब्जेक्टिव टाइप की लिखित परीक्षा होती है। इस परीक्षा में सामान्य ज्ञान, बुनियादी गणित, अंग्रेजी भाषा और बैंकिंग से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • मुख्य परीक्षा: प्रारंभिक परीक्षा में सफल होने वाले उम्मीदवारों को मुख्य परीक्षा में शामिल होना होता है। मुख्य परीक्षा एक वस्तुनिष्ठ और वर्णनात्मक टाइप की लिखित परीक्षा होती है।
  • साक्षात्कार: मुख्य परीक्षा में सफल होने वाले उम्मीदवारों को साक्षात्कार में शामिल होना होता है। साक्षात्कार में उम्मीदवार की व्यक्तित्व, नेतृत्व क्षमता और बैंकिंग ज्ञान का मूल्यांकन किया जाता है।
  • चयन: साक्षात्कार में सफल होने वाले उम्मीदवारों का चयन बैंक मैनेजर पद के लिए किया जाता है।

सरकारी बैंक मैनेजर बनने के लिए आपको आईबीपीएस (इंडियन बैंकिंग पर्सनल सिलेक्शन) परीक्षा देनी होती है। इस परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के बाद आप बैंक मैनेजर के रूप में अपना भविष्य बना सकते है।

बैंक मैनेजर बनने के लिए कोर्स

बैंक मैनेजर बनने के लिए कई तरह के कोर्स उपलब्ध हैं। इनमें से कुछ प्रमुख कोर्स निम्नलिखित हैं:

  • बैचलर ऑफ कॉमर्स (बी.कॉम.)
  • मास्टर ऑफ कॉमर्स (एम.कॉम.)
  • बैचलर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (बीबीए)
  • मास्टर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (एमबीए)

इसमें से किसी भी कोर्स को पूरा करने के बाद आप बैंक मैनेजर के लिए आवेदन कर सकते है।

बैंक मैनेजर की सैलरी

बैंक मैनेजर की सैलरी अलग-अलग बैंकों में अलग-अलग होती है। सरकारी बैंकों में बैंक मैनेजर की सैलरी अधिक होती है। सरकारी बैंकों में बैंक मैनेजर की सैलरी ₹45,000 से ₹90,000 प्रति माह तक हो सकती है।

बैंक मैनेजर बनने के लिए सुझाव

हम आपको बैंक मैनेजर बनने के लिए कुछ खास और बेहतरीन सुझाव बता रहे है, यह सुझाव निम्न प्रकार से है:

  • बैंकिंग क्षेत्र से संबंधित विषयों का अध्ययन करें।
  • अंग्रेजी भाषा पर अच्छी पकड़ रखें।
  • कंप्यूटर का आवश्यक ज्ञान प्राप्त करें।
  • साक्षात्कार के लिए तैयार रहें।
  • अपना एक लक्ष्य बनाकर रखे।
  • अच्छी कोचिंग क्लास को चुने।

अगर आप इन बातो को ध्यान में रखकर बैंक मैनेजर की तैयारी करते है, तो इससे आपके बैक मैनेजर बनने की संभावना बढ़ जाती है। ध्यान रखे की बैंक मैनेजर का एक प्रतिष्ठित पद माना जाता है इसलिए इस पद पर नौकरी प्राप्त करने के लिए आपको कड़ी मेहनत करनी होगी।

पिछला लेखMLC Full Form in Hindi: विधान परिषद सदस्य क्या है?
अगला लेखCV Full Form in Hindi: बायोडाटा क्या है और कैसे बनाएं?
आराध्या सिंह
अराधिका एक उत्साही और प्रेरणादायक करियर काउंसलर हैं। वे हमेशा अपने ग्राहकों को उनके सपनों को पूरा करने में मदद करने के लिए तैयार रहती हैं।

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें