नमस्कार मित्रो आज हम आपको Bank Manager Kaise Bane इसके बारे में बताने वाले है अगर आपका सपना बैंक मेनेजर बनने का है तो यह जानकारी आपके लिए बेहद ही उपयोगी साबित होने वाली है इसमें हम आपको बैंक मेनेजर कैसे बनते है, इसके लिए योग्यता क्या होनी चाहिए, इसकी चयन प्रक्रिया क्या होती है इन सब के बारे में बतायेगे.

bank manager kaise bane

अगर आप बैंक मैनेजर की सम्मानजनक नौकरी पाना चाहते हो तो आपको उसके अनुसार मेहनत भी करनी पडेगी क्युँकि बैंक मैनेजर की नौकरी पाना बहुत कठिन कार्य हैं इसके लिये बहुत मेहनत व उचित मार्गदर्शन मिलना बहुत आवश्यक हैं। जब तक आप को सही मार्गदर्शन नही मिलेगा तब तक आपकी मेहनत ना के बराबर है एवं आप बैंक मेनेजर बनने का सपना देख रहे है तो आप Bank Manager Kaise Bane यह आर्टिकल ध्यान से पढ़े.

Bank Manager Kaise Bane

अगर आप बैंक में मैनेजर बनना  चाहते हैं तो इसके लिए आपको सही मार्गदर्शन के साथ साथ कठिन परिश्रम भी करना होता हैं क्युकी आप सभी जानते होंगे की यह एक जिम्मेदारी वाली पोस्ट होने के साथ ही लाखो होनहार विधार्थियों की पसंदीदा नौकरी भी है.

इस कारण से इस पोस्ट पर नौकरी प्राप्त करने के लिए आपको बहुत अच्छी तयारी करनी होगी व बैंक मैनेजर बनने की प्रोसेस हम आपको आज  बता रहे है  ताकि आपको इसमें आवेदन करने और नौकरी प्राप्त करने के बारे में जानकारी प्राप्त हो सके.

BANK MANAGER बनने के लिए योग्यता

उम्मीदवार किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन अथवा पोस्ट ग्रेजुएशन किया हुआ होना आवश्यक हैं.

  • उम्मीदवार को बैकिंग का अनुभव होना आवश्यक हैं.
  • उम्मीदवार की उम्र 21 वर्ष या अधिक हो‌ना आवश्यक हैं.
  • उम्मीदवार के ग्रेजुएशन मे 60% होने आवश्यक हैं। इससे कम‌ अंको वाले उम्मीदवार भी इसके‌ लिए आवेदन किया जा सकता हैं पर ये सुविधाएँ बहुत कम बैंक देती हैं.
  • 12th मे commerce वाले उम्मीदवारों को अधिक मान्यता दी जाती हैं। क्युँकि commerce के उम्मीदवारों को बैकिंग का अनुभव होता हैं.
  • उम्मीदवार कोई कैदी नही होना चाहिए। व उस पर किसी तरह का पुलिस केस नही होना चाहिए.
  • English भाषा का अनुभव होना आवश्यक हैं। क्युँकि बैकिंग में ज्यादातर English भाषा का इस्तेमाल होता हैं.

बैंक मैनेजर के लिए आवेदन कैसे करें

बैक मैनेजर बनने के लिए आपको आने वाली बैंक की भर्ती पर ध्यान रखना होगा जब इसकी भर्ती आती हैं तब आपको आवेदन करना होगा हर बैंक के लिए अलग अलग भर्तीया आती हैं व प्राइवेट बैंक मे मैनेजर बनना आसान हैं इसमे आप सीधे document जमा करवा दे और आपको interview के लिए बुलाया जाये तब आप अपने सारे document ले कर interview देने जाये अगर आप  interview मे सफल होते हैं तो आपको सीधे नौकरी पर लगाया जाता हैं.

Bank Manager की चयन प्रक्रिया

बैंक मैनेजर की चयन प्रक्रिया चार अलग अलग चरणों में रखी जाती है इनमें सफल होने के बाद ही आपको बैंक मेनेजर की पोस्ट पर नौकरी प्राप्त हो सकती है.

  • प्रारम्भिक परीक्षा ( Preliminary Exam )
  • मुख्य परीक्षा (Main Exam )
  • साक्षात्कार ( Interview )
  • समुह विचार-विमर्श ( Group Discussion )

1. प्रारम्भिक परीक्षा

बैंक मैनेजर बनने के लिये ये पहला चरण होता है, ये परीक्षा उम्मीदवार की काबीलियत की परख करने के लिए किया जाता हैं। इस परीक्षा के माध्यम से काबिल उम्मीदवारों को छाटा जाता हैं व अन्य लोगो को मुख्य परीक्षा से बाहर कर दिया जाता हैं। ये परीक्षा बहुत महत्वपूर्ण होती हैं व इसके‌ लिए भी उम्मीदवारों को कडी मेहनत करनी पडती हैं.

2. मुख्य परीक्षा

ये परीक्षा बैक मैनेजर बनने का‌ दुसरा चरण होता‌ हैं ये प्रारंभिक परीक्षा से काफी कठिन होती हैं व जो उम्मीदवार प्रारम्भिक परीक्षा में सफल‌ घोषित होते हैं। उन्ही को इस परीक्षा में बुलाया जाता हैं.

3. साक्षात्कार

दोनो परीक्षा मे‌ सफल‌ होने वाले उम्मीदवारों को इस चरण मे‌ बुलाया जाता है। इस चरण मे‌ कुछ अधिकारी उम्मीदवारों को उनके बताये गये स्थान पर उनके document ले‌ के बुलाते हैं व अधिकारी उम्मीदवारों को कुछ सवाल जवाब करते हैं। उम्मीदवारों द्वारा उनके सवालो का जवाब किस तरह से दिया जाता हैं उसके आधार पर अधिकारी उम्मीदवारों को इस चरण मे उतीर्ण घोषित करते है.

4. समुह विचार – विमर्श

बैक मैनेजर बनने‌ का‌ ये अन्तिम चरण होता हैं जो की साक्षात्कार से काफी मिलता जुलता होता हैं। इसमे‌ कुछ अधिकारी व उम्मीदवार एक जगह पर‌ बैठ कर उम्मीदवार को कोई एक विषय देते हैं। और उम्मीदवार को उस विषय पर अपने‌ विचार व्यक्त कर के अपनी काबिलीयत दिखानी होती है.

जब  आप इन सभी चरणों को पूरा कर लेते हैं तो इसके बाद मेरिट जारी होती हैं व उसके माध्यम से Bank Manager का चयन किया जाता हैं इन सभी चरणों को उत्तीर्ण करने के लिए आपको कठिन मेहनत करनीं होती हैं तभी आप इसमें सफलता प्राप्त कर सकते हैं.

बैंक मेनेजर की सैलेरी

सरकारी और प्राइवेट दोनों बैंक में बैंक मेनेजर की सैलेरी अलग अलग होती है प्राइवेट बैंक की तुलना में सरकारी बैंक में सेलेरी अधिक दी जाती है एवं सामान्यत एक बैंक मैनेजर को 20,000/- रूपए से लेकर 60,000/- रूपए तक की सेलेरी दी जाती है इसके साथ ही महंगाई भत्ता, आवास सुविधा, यात्रा भत्ता, चिकित्सा भत्ता, इन्सुरांस आदि भी बैंक द्वारा प्रदान किये जाते है.

Calculation – इस आर्टिकल में हमने आपको Bank Manager Kaise Bane इसके बारे मे जानकारी दी है हमे उम्मीद है आपको हमारी बताई जानकारी उपयोगी लगी होगी अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगे तो इसको अपने मित्रो के साथ शेयर जरूर करें व इससे सम्बंधित किसी भी तरह का सवाल पूछना चाहते है तो आप हमे कमेंट कर के भी बता सकते है.

पिछला लेखBMW Full Form in Hindi : BMW क्या है व इससे जुड़े रोचक तथ्य
अगला लेखFASTag Recharge Kaise Kare? सिर्फ 2 मिनिट में

2 टिप्पणी

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें