नमस्कार मित्रो आज हम आपको ATS के बारे में जानकारी देने वाले है व हम आपको ATS Full Form in Hindi और इसके फायदे क्या होते है इसके बारे में बतायेगे और इसके कार्य आदि क्या क्या होते है इससे जुडी पूरी जानकारी देने वाले है ताकि कपको इससे जुडी पूरी जानकारी इस आर्टिकल में प्राप्त हो सके.

ATS Full Form in Hindi

आप सभी ने ATS का नाम तो कई बार कई अलग अलग स्थानों पर सुना होगा व अक्सर  खबरों और समाचार पत्रों में इसका जिक्र होता रहता है तब इसका नाम सुनने पर हमारे मन में कई प्रकार के सवाल आदि आते है की इसके काम क्या होते होंगे और ATS किसे कहते है व ATS Full Form क्या होता है तो इसके बारे में पूरी जानकारी हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बता रहे है.

ATS Full Form in Hindi

ATS क्या होता है व किसे कहते है इसके बारे में बताने से पहले हम आपको इसके पुरे नाम के बारे में बता देते है की इसका पूरा नाम क्या है.

ATS Full Form – Anti-Terrorism Squad

हिंदी में इसको आतंकवाद विरोधी दस्ता कहा जाता है इसका मुख्य कार्य आतंकवादी गतिविधियों को रोकना है और यह भारतीय पुलिस अधिकारियो का एक दल होता है एवं हाल में ATS का दल आपको हर राज्य में देखने को मिल जाता है.

ATS क्या है

अक्सर कई लोगो के मन में इस प्रकार के सवाल होते है की ATS क्या होता है तो बता दे की यह पुलिस अधिकारियो का एक दल होता है और यह आतंकवादी गतिविधियों को रोकने के लिए कार्य करता है एवं इसकी स्थापना 1990 में महाराष्ट्र में मुबंई शहर में की गयी थी एवं इसकी स्थापना का श्रेय मुंबई पुलिस अतिरिक्त आयुक्त आफताब अहमद खान को जाता है जिन्होंने इसकी स्थापना के लिए नीव रखी थी.

यह भारत के हर हिस्से में अपना कार्य कर सकते है व यह आईबी और रॉ आदि जैसी बड़ी बड़ी संस्थानों के साथ मिलकर कार्य करते है और इनके साथ सूचनाओं का आदान प्रदान करते है व आतंकवाद सम्बंधित गतिविधियों को रोकने के साथ ही यह नकली नोटों के रैकेट का पता लगाना और नशीले पदार्थ की तस्करी आदि को रोकना और माफिया आदि की गतिविधियों को ट्रैक कर के ख़त्म करना आदि इसके कई अलग अलग प्रकार के कार्य होते है.

ATS Join कैसे करें

अगर आपको ATS  को ज्वाइन करना है तो आपको इसके बारे में कुछ जानकारी होनी जरुरी है अगर आपको इसके बारे मे जानकारी होगी तो ही आप इसको ज्वाइन कर सकते है और इसमें नौकरी प्राप्त कर सकते है.

ATS को ज्वाइन करने के लिए सरकार हर साल पुलिस और पीसी के लिए आवेदनपत्र निकलते है उसमे आवेदन करने के बाद आप ATS को ज्वाइन कर सकते है व इसके बारे निम्न प्रोसेस को आपको पूरा करना होगा.

एटीएस join करने के लिए आपको सबसे पहले निम्न 3 प्रकार के एग्जाम पार करने होते हैं जो इस प्रकार है −

  • पहली परीक्षा में आपको फिजीकल कैपेसिटी, मेंटल एबिलिटी और टेक्निकल और जनरल नॉलेज आदि से सम्बंधित टेस्ट देना होता है.
  • जो लोग पहली परीक्षा को उत्तीर्ण कर लेते है उनको अब ट्रेनिंग के लिए भेजा जाता है इनकी ट्रेनिंग अलग अलग सेंटर पर होती है.
  • जवानो को एटीएस में शामिल होने के लिए देशभर के अलग अलग सेंटर में प्रशिक्षण दिया जाता है.

निम्न प्रकार से आप बहुत ही आसानी से ATS को ज्वाइन कर सकते है व यह एक जिम्मेदारी वाली पोस्ट होती है इस कारन से इस पोस्ट पर नौकरी पाने के लिए आपको काफी मेहनत करनी होगी.

ATS का वेतन

बहुत से लोगो को इसके बारे में पता नहीं होता की ATS को प्रतिमाह कितना वेतन दिया जाता है तो हम आपको बता दे की ATS में अलग अलग पोस्ट होती है व पोस्ट के अनुसार उनका वेतन भी अलग अलग होता है व इसमें सामान्यत 110000  रूपए से 135000 रूपए तक का वेतन दिया जाता है और इसके साथ ही अन्य कई प्रकार की सुविधाएं भी दी जाती है.

Calculation – इस आर्टिकल में हमने आपको ATS Full Form क्या होता है इसके बारे  में जानकारी दी है हमे उम्मीद है की आपको  हमारे द्वारा दी गयी जानकारी जरूर पसंद आयी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो अपने मित्रो के साथ शेयर जरूर करें और इससे जुड़ा आप किसी भी प्रकार का सवाल आदि पूछना चाहते है तो आप हमे कमेंट कर के बता सकते है.

पिछला लेखजन्मदिन ( Happy Birthday ) की शुभकामनाएँ शायरी व quotes के साथ
अगला लेखमोबाइल का अविष्कार किसने किया था व कब किया था

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें