नमस्कार मित्रो इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको ASP Full Form क्या होता है एवं ASP क्या होता है इससे जुडी कई महत्वपूर्ण जानकारी देने वाले है जिसके बारे में बहुत से लोगो को पता नहीं होता की यह क्या होता है व यह किसलिए उपयोगी होता है.

ASP Full Form

अक्सर हम सब लोग ASP के बारे में सुनते है व देखते है व कई लोगो को पता भी होता है की ASP  क्या होता है एवं इसका निर्माण किसलिए किये गया था पर ASP Full Form के बारे में पता नहीं होता तो इसके बारे में जानने के लिए आप हमारा यह पूरा आर्टिकल पढ़े ताकि आपको इसके बारे में पूरी जानकारी  हिंदी में प्राप्त हो सके.

ASP Full Form in Hindi

ASP क्या है व इसका अर्थ क्या होता है इसके बारे में बताने से पहले हम आपको इसके पुरे नाम के बारे में बता रहे है.

ASP Full Form – Active Server Page

ASP को हिंदी में सक्रिय सर्वर पृष्ठ भी कहा जाता है जिसको microsoft के  द्वारा launch किया गया था.

ASP क्या है

ASP.NET वेब application फ्रेमवर्क है जिसको विपणन व विकास माइक्रोसॉफ्ट के द्वारा प्रोग्रामर डाइनेमिक वेबसाइट, application एवं वेब से सम्बंधित सभी सेवाओं को निर्मित करने के उद्देश्य से बनाया गया है एवं जनवरी 2002 में .NET फ्रेमवर्क के पहले संस्करण 1.0 को लांच किया गया था व हाल में माइक्रोसॉफ्ट ही इस एक्टिव सर्वर पेज का उत्तराधिकारी है.

ASP.NET का निर्माण कॉमन लेंग्वेज रनटाइम अर्थात CLR पर किये गया था जो की किसी भी प्रोग्रामर को कोई भी .NET भाषा का इस्तमाल करते हुए ASP.NET के कोड को लिखने की सुविधा प्रदान करते है.

ASP File का Extension

अक्सर लोगो को पता नहीं होता की ASP File का एक्सटेंशन क्या है जिससे की इस फ़ाइल के बारे में पता किया जा सके की कौनसी फ़ाइल किस प्रकार की होती है तो हम आपको बता दे की  ASP.NET का Extension .aspx के रूप में होता है व इसी Extension के माध्यम से ही आप इस फ़ाइल के बारे में पता कर सकते है एवं किसी भी यूजर  द्वारा सर्वर पर कोई भी ASP फ़ाइल को run करता है तो वह URL .asp अथवा .aspx Suffix के रूप में होते है.

ASP के फायदे

अक्सर लोगो को इसके बारे में जानने की चाहत रहती है की ASP के फायदे अथवा Advantage क्या होते है तो हम आपको बता दे की इससे आपको क्या क्या फायदे हो सकते है जिसके कारण लोग इसका इस्तमाल करते है.

  • ASP को  बहुत ही secure माना जाता है क्युकी इसमें Code Browser में hidden रहते है.
  • ASP वेबसाइट के content को प्रोग्रामर के request के हिसाब से change कर देते है.
  • ASP का इस्तमाल करना बहुत ही आसान होता है इसके साथ ही Perl और CGI की तुलना में यह बहुत ही अच्छी गति प्रदान करते है.
  • ASP किसी भी तरह के डाटा को access करने की अनुमति देता है और इसके साथ ही उसके result को भी ब्रौज़र में return करने की क्षमता रखता है.
  • ASP में किसी भी वेबसाइट का डाटा बहुत ही आसानी से बदला जा सकता है अथवा अपडेट किया जा सकता है.

इससे आपको इस प्रकार के कई सारे अलग अलग फायदे हो सकते है व अगर आप इसका इस्तमाल करते है तो इसमें आपको ऊपर बताये गए  सभी लाभ प्राप्त होंगे.

ASP.NET के संस्करण

समय समय पर इसके कई सारे अलग अलग संस्करण लांच किये गये है जो की निम्न प्रकार से है.

  • ASP.NET 1.0 – 16 जनवरी 2002 (सबसे पहला संस्करण)
  • ASP.NET 1.1 – 24 अप्रेल 2003
  • ASP.NET 2.0 – 7 नवम्बर 2005
  • ASP.NET 3.0 – 21 नवम्बर 2006
  • ASP.NET 3.5 – 19 नवम्बर 2007
  • ASP.NET 3.5 (SP1) – 11 अगस्त 2008

यह सभी ASP.NET के शुरुआत से लेकर अब तक के लांच किये गए अलग अलग संस्करण है व इसका हाल में अंतिम संस्करण 2008 में लांच किये गया था.

Calculation – इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको ASP Full Form in Hindi एवं ASP क्या होता है इसके बारे में जानकारी देने का प्रयत्न किया है हमे उम्मीद है की आपको हमारी बताई जानकारी उपयोगी लगी होगी अगर आपको ASP के बारे में दी गयी जानकारी अच्छी लगे तो इसको अपने मित्रो के साथ शेयर जरूर करें व इससे सम्बंधित आप किसी भी प्रकार का सवाल पूछना चाहते है तो आप हमे कमेंट कर के बता सकते है.

पिछला लेखKhoon Badhane Ke Upay : खून बढ़ाने के बेहद आसान तरीके
अगला लेख12th Ke Baad Kya Kare : 12th के बाद Career कैसे बनाये
मै रघुवीर चारण PMO Yojana का संस्थापक हूँ हमें लेख लिखना व किताब पढ़ना बेहद पसंद है है हम शिक्षा, कंप्यूटर, मोबाइल, सरकारी नौकरी, नई योजनाओं व इस प्रकार की अन्य कई जानकारी इस Website पर लिखते है

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें