नमस्कार मित्रो आज हम आपको ARMD क्या होता है और ARMD Full Form क्या होता है इन सब के बारे में बताने वाले है अक्सर कई लोग ARMD के बारे में सवाल पूछते रहते है तो यह आर्टिकल इसीलिए लिखा गया है ताकि हम आपको ARMD के बारे में पूरी जानकारी हिंदी में बता सके.

ARMD Full Form in Hindi

हम सब हर दिन कई प्रकार के शब्दों को सुनते है व उनका इस्तमाल करते है पर अधिकांश शब्दों के बारे में हमे जानकारी नहीं होती ARMD  भी इसी प्रकार का शब्द होता है जिसके बारे में बहुत से लोगो को पता नहीं होता व इससे सम्बन्ध्ति जानकारी के लिए आप हमारा पूरा आर्टिकल पढ़े ताकि आपको ARMD Full Form in Hindi एवं ARMD क्या होता है इसके बारे में पता चल सके.

ARMD Full Form in Hindi

ARMD क्या होता है  इसके बारे में बताने से पहले हम आपको इसका पुरा नाम क्या होता है इसके बारे में बता रहे है.

ARMD Full Form – Age-Related Macular Degeneration

हिंदी में इसको आयु से संबंधित मैक्यूलर डीजनरेशन भी कहा जाता है जो की उम्र के साथ होने वाला आँखों का एक रोग होता है.

ARMD क्या है

ARMD को कई लोग AMD के नाम से भी जानते है जिसका अर्थ धब्बेदार अध: पतन होता है व यह उम्र के साथ होने वाली एक बिमारी है जो की आँखों से संबधित होती है जैसे जैसे उम्र बढ़ती है वैसे वैसे इस बीमारी के होने का खतरा भी बढ़ जाता है व यह अक्सर अधिक उम्र के लोगो में  देखने को मिलती है.

अपने देखा होगा की जो व्यक्ति 60 वर्ष से अधिक उम्र के है उनको देखने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है व इस बीमारी का अर्थ यह नहीं है की व्यक्ति अंधा हो जाता है बल्कि उस व्यक्ति को इस बीमारी के कारण कई प्रकार के आखो से सम्बंधित गंभीर परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है.

ARMD कितने प्रकार का होता है

अक्सर बहुत से लोगो को इसके बारे में जानकारी नहीं होती की ARMD  कितने प्रकार का होता है तो हम बता दे की यह 2 प्रकार का होता है.

  1. DRY ARMD
  2. WET ARMD

DRY ARMD – आज जितने भी लोग ARMD  से ग्रसित है उसमे से अधिकांश लोगो को DRY ARMD है व यह रोग रेटिना में होता है व रेटिना के मध्य भाग को हम मैक्युला के रूप में जानते है एवं मैक्युला में सफ़ेद या पीला वसायुक्त निक्षेप होने लगता है उसको हम लोग ड्रुसेन कहते है एवं ड्रुसेन के धब्बे जैसे जैसे आकार में बड़े होते जाते है वैसे वैसे व्यक्ति को कम दिखाई देता है इसके साथ ही आँखों में विकृति दिखाई देती है.

WET ARMD – DRY ARMD की तुलना में यह काफी कम पाया जाता है पर यह काफी तेजी से  फैलने वाला रोग है इसके कारण यह व्यक्तियों की  दृस्टि में जल्दी व अचानक प्रभाव दिखने लगता है व जब रेटिना में स्थित मैक्युला के नीचे रक्त-वाहिकाएँ विकसित होना प्रारम्भ करती है तो उस वक्त रक्त-वाहिकाएँ रेटिना में रक्त के साथ एक अन्य तरल पदार्थ कर रिसाव करने लगती है.

इसके कारण से व्यक्ति की दृस्टि विकृत हो जाती है एवं ऐसी परिस्थिति में व्यक्ति को आँखों के सामने रेखाएं लहराती हुई प्रतीत होने लगती है यह एक गंभीर समस्या होती है इसके साथ ही यह नुक्सान भी स्थाई होते है.

ARMD के लक्षण 

कई लोगो को इसके बार में पता नहीं होता की इस प्रकार की समस्या होने पर हमे किस प्रकार के लक्षण दिखाई देते है तो इसके कुछ महत्वपूर्ण लक्षण होते है जिसके माध्यम से इस बिमारी के बारे में पता किया जा सकता है इसके लक्षण निम्न प्रकार के होते है.

  • कम दिखना – इस बीमारी का सबसे बड़ा लक्षण यही होता है की जो व्यक्ति इस बीमारी से ग्रसित होता है उसकी दृस्टि कमजोर हो जाती है व उसको कम दिखाई देने लगता है.
  • धुंधलापन – इस रोग के कारण व्यक्ति को धुंधलापन की परेशानी भी होती है व सभी चीजे साफ़ नहीं दिखाई देती.
  • चेहरा न पहचान पाना – कई लोगो को अपने देखा होगा की वो किसी व्यक्ति के चेहरे को सही से नहीं पहचान पाते तो इस रोग में भी इस प्रकार की परेशानी हो सकती है.
  • विकृति – इस रोग से ग्रसित व्यक्ति की दृस्टि में विकृति पायी जाती है जिसके कारण वो चीजों को सही तरीके से देख नहीं पाता.
  • रंग पहचानने में समस्या – इस रोग से ग्रसित व्यक्ति को रंगो की पहचान करने में भी काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है व व्यक्ति कई बार रंगो की सही पहचान नहीं कर पाते.
  • पढ़ने में परेशानी – इस रोग से जो लोग ग्रसित है उनकी दृस्टि कमजोर होने के कारण उनको किताब अखबार अदि पढ़ने में भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है.
  • शब्द लहराते दिखाई देना – ARMD से ग्रसित व्यक्ति को लिखे हुए शब्द लहराते नजर आते है जिसके कारन इस रोग की पहचान की जा सकती है.

यह आसान से उदहारण थे जिसके माध्यम से पता किया जा सकता है की व्यक्ति इस बीमारी से ग्रसित है या नहीं व इसके आलावा आपको डॉक्टर से सलाह भी जरूर ले लेनी चाहिए ताकि आपको सही और सटीक जानकारी प्राप्त हो सके.

ARMD होने के मुख्य कारण

यह रोग कई अलग अलग कारणों से हो सकता है इसमें से हम आपको कुछ मुख्य कारण बता रहे है जिसके कारण यह रोग होने की संभावना बनी रहती है.

  • बढ़ती उम्र के कारण – अक्सर यह रोग बढ़ती उम्र के कारण अधिक होता है व यह 60 से अधिक उम्र के लोगो में अधिक देखने को मिलता है.
  • आनुवंशिक – कई लोगो में यह रोग वंशगत  अर्थात आनुवंशिक कारणों से भी हो सकता है.
  • रक्तचाप – उच्च रक्तचाप के कारण भी यह  रोग होने की काफी संभावना होती है.
  • हृदय रोग – अगर किसी भी व्यक्ति को ह्रदय से सम्बंधित कोई समस्या है तो ऐसे व्यक्ति को इस प्रकार की बीमारी होने का खतरा बना रहता है.
  • हरी सब्जियों का कम सेवन करना – जो लोग हरी सब्जियों का सेवन नहीं करते या बहुत कम करते है उन लोगो में भी इस प्रकार की बीमारी होने का खतरा बना सकता है.
  • धूम्रपान – आज के समय में सबसे अधिक बीमारियों का कारण धूम्रपान ही है व इसके कारण लोगो को ARMD जैसे गंभीर बीमारी का सामना करना पड़ सकता है.

इसके अलावा भी कई सारे कारण होते है जिससे की इस प्रकार की समस्या होने का खतरा बना रहता है व अगर किसी व्यक्ति को इस प्रकार की समस्या है तो उसको इलाज के लिए किसी भी अच्छे अस्पताल में जाना चाहिए व अच्छे डॉक्टर से इसके बारे में सलाह जरूर लेनी चाहिए ताकि आपको अधिक फायदा मिल सके.

Calculation – इस आर्टिकल में हमने आपको ARMD Full Form in Hindi एवं ARMD क्या होता है इसके बारे में जानकारी देने का प्रयत्न किया है हमे उम्मीद है आपको हमारे द्वारा बताई गयी जानकारी जरूर पसंद आयी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसको अपने मित्रो के साथ शेयर जरूर करें व इससे सम्बंधित आप किसी भी प्रकार का सवाल पूछना चाहते है तो आप हमे कमेंट कर के बता सकते है.

पिछला लेखVitamin D क्या है और 1 दिन में Vitamin D की कमी कैसे पूरा करें
अगला लेखEmitra क्या हैं व E-mitra कैसे खोलते हैं [ खर्च, कमाई, लोकेशन ]

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें