नमस्कार मित्रो आज हम आपको ANM Full Form In Hindi के बारे में बताने वाले है आप सभी ने एएनएम के बारे में तो कई बार सुना ही होगा पर कई लोगो को इसके बारे में जानकारी नहीं होती की यह क्या होता है और एएनएम में अपना बेहतर भविष्य कैसे बना सकते है तो इसके बारे में जानने के लिए आप हमारे आर्टिकल को ध्यान से पढ़े.

ANM Full Form In Hindi

आज के समय में बेरोजगारी सभी के लिए एक बहुत ही बड़ी समस्या बनती जा रही है जिसके कारण कई लोगो को उनकी योग्यता के अनुसार कार्य नहीं मिल पाता ऐसे में युवाओ के लिए एएनएम एक बहुत ही अच्छा विकल्प हो सकता है बेहतर रोजगार प्राप्त करने का पर इसके लिए आपको ANM Full Form In Hindi और एएनएम कैसे बनते है इन सब के बारे में पता होना बहुत ही जरुरी है.

ANM Full Form In Hindi

ANM क्या होता है और कैसे  बनते है इसके बारे में बताने से पहले हम आपको इसके पुरे नाम के बारे में बता देते है.

ANM Full Form – Auxiliary Nurse Midwifery

हिंदी में इसे सहायक नर्स प्रसूति विद्या कोर्स भी कहा जाता है व यह एक डिप्लोमा कोर्स होता है जो की महिलाओ के लिए शुरू किया गया है इस कोर्स में आपको चिकित्सा से जुडी जानकारी दी जाती हैं.

ANM क्या है

जैसे आप सब जानते होंगे की यह एक चिकित्सा से जुड़ा बेहद पॉपुलर कोर्स है जो की महिलाओ के लिए होता है व इस कोर्स को करने पर आपको चिकित्सा से सम्बंधित जानकारी जैसे की मरीजों की देखभाल करना, डॉक्टर द्वारा मरीज को देखा जाता है तो उसमे सहयोग कैसे करना है इन सब के बारे में बताया जाता है.

जो भी व्यक्ति हेल्थ सेक्टर में रूचि रखते है और इसमें अपना बेहतरीन भविष्य बनाना चाहते है वो लोग इस कोर्स को कर सकते है व यह कोर्स 2 वर्ष का होता है इस कोर्स को करने के बाद आपको चिकित्सा से जुडी काफी जानकारी प्राप्त हो जाती है व यह कोर्स पूरा होने के बाद आपको चिकित्सा से जुड़े क्षेत्र में रोजगार प्राप्त हो जाता है.

ANM के कार्य

ANM को चिकित्सा से जुड़े कई कार्य करने होते है इसमें से कुछ कार्य के बारे में हम आपको बता रहे है जो की एक एएनएम को करने होते है.

  • नर्स का मुख्य कार्य होता है मरीज अथवा रोगी व्यक्ति की देखभाल करना.
  • डॉक्टर के निर्देशानुसार किसी भी मरीज को दवाई देना व उसकी देखभाल करना.
  • मरीजों के रिकार्ड को मेंटेन करना भी इनका कार्य है.
  • इलाज और ऑपरेशन आदि में उपयोग होने वाले उपकरण की देखभाल और रखरखाव करना.
  • मरीज को किसी भी तरह की समस्या होने पर डॉक्टर को सचेत करना.

निम्न प्रकार के कार्य एक नर्स को करने होते है व इसके साथ ही इन्हे अन्य कई कार्य भी करने होते है पर हमने आपको जो कार्य बताये है वो इनके मुख्य कार्य है.

ANM के लिए

अगर आप ANM का कोर्स करना चाहते है तो इसके लिए आपका बाहरवीं विज्ञान वर्ग के साथ उत्तीर्ण होना जरुरी है व आपके बाहरवीं में 45% अंक होने जरुरी है उसके बाद आप इस कोर्स को कर सकते है.

ANM के लिए उम्र सीमा

ANM का कोर्स करने के लिए अभ्यर्थी की उम्र न्यूनतम 17 वर्ष और अधिकतम 34 वर्ष तक होनी जरुरी है इसके साथ ही आरक्षित वर्ग को उम्र में नियमानुसार छूट देने का भी प्रावधान होता है.

ANM कैसे करें

जब आप बाहरवीं उत्तीर्ण कर लेते है तो इसके बाद आपको ANM  के लिए आवेदन करना होता है और इसके लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम उत्तीर्ण करना होता है हालांकि कुछ कॉलेज में बिना एंट्रेंस एग्जाम के भी आपको यह कोर्स करवाया जाता है पर उन कॉलेज की फीस बहुत ही ज्यादा होती है व जब आपको कॉलेज में प्रवेश मिल जाता है तो इसके बाद आपको 2 वर्ष का कोर्स पूरा करना होगा व इसके बाद आपको डिग्री मिलती है उसके बाद आप नर्स के तौर पर रोजगार प्राप्त कर सकते है.

ANM कोर्स की फीस

ANM कोर्स की फीस सभी कॉलेज में वहां के नियमानुसार अलग अलग होती है व सरकारी कॉलेज में इसकी फीस बहुत ही कम होती है जबकि प्राइवेट कॉलेज में इसकी फीस ज्यादा होती है इस कोर्स को करने के लिए 15 हजार से लेकर 5 लाख रूपए तक की फीस ली जा सकती है इसकी फीस की सटीक जानकारी आप सम्बंधित कॉलेज से संपर्क करके ही प्राप्त कर सकते है.

ANM के बाद रोजगार के अवसर

अगर आप ANM कोर्स को कर लेते है तो इसके बाद आपको रोजगार के कई अवसर प्राप्त हो सकते है कुछ रोजगार अवसर के बारे में हम आपको बता रहे है जो की निम्न प्रकार से है.

  • सरकारी और प्राइवेट अस्पताल में रोजगार
  • सामुदिक स्वास्थ्य केंद्र में रोजगार
  • एनजीओ में रोजगार
  • ग्रामीण स्वास्थ्यकेंद्र में रोजगार
  • नर्सिंग होम में रोजगार
  • मेडिकल लैब में रोजगार
  • खुद का क्लिनिक शुरू करना
  • मेडिकल कॉलेज और ग्रामीण स्वास्थ्य कर्मचारी

इस कोर्स को करने के बाद आप इन सभी क्षेत्र में रोजगार प्राप्त कर सकते है व इस कोर्स को करने के बाद आपको स्वास्थ्य विभाग से जुड़ा कार्य ही दिया जाता है जिसकी पूरी ट्रेनिंग आपको इस कोर्स के साथ दी जाती है जिससे की आपको बादमे काम करने में किसी प्रकार की समस्या न हो.

Calculation – इस आर्टिकल में हमने आपको ANM Full Form In Hindi के बारे में जानकारी दी है व ANM क्या होता है व कैसे करे इसके बारे में बताने का प्रयत्न किया है हमे उम्मीद है आपको हमारी बताई जानकारी उपयोगी लगी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसे अपने मित्रो के साथ शेयर जरूर करें और इससे जुड़ा कोई सवाल पूछना चाहे तो आप हमे कमेंट के द्वारा भी बता सकते है.

पिछला लेखSmart कैसे बने व 1 दिन में Smart बनने के आसान तरीके
अगला लेखLoco Pilot Kaise Bane? ट्रेन में ड्राइवर कैसे बने पूरी जानकारी
मै रघुवीर चारण PMO Yojana का संस्थापक हूँ हमें लेख लिखना व किताब पढ़ना बेहद पसंद है है हम शिक्षा, कंप्यूटर, मोबाइल, सरकारी नौकरी, नई योजनाओं व इस प्रकार की अन्य कई जानकारी इस Website पर लिखते है

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें