नमस्कार मित्रो आज हम आपको AML के बारे  में जानकारी देने वाले है कई लोगो को इसके बारे में अधिक जानकारी नहीं होती तो यह आर्टिकल हमने इसी लिए लिखा है ताकि हम आपको AML Full Form क्या होता है और AML किसे कहते है इसके बारे में हिंदी में बता सके.

AML Full Form in Hindi

अक्सर हम सब लोग कई बार अलग अलग शब्द सुनते रहते है जिनके बारे में हमे विशेष जानकारी नहीं होती AML भी कुछ इसी प्रकार का शब्द होता है व बेसिक नॉर्लेज के लिए आपको AML Full Form  क्या होता है एवं इससे सम्बंधित अन्य जानकारी होनी बहुत ही जरुरी है इसके बारे में  जानने के लिए आप हमारा यह पूरा आर्टिकल पढ़े.

AML Full Form in Hindi

AML क्या होता है इसके बारे में बताने से पहले हम आपको इसका पूरा नाम क्या होता है इसके बारे में बता रहे है ताकि आपको  इसके नाम के बारे में जानकारी प्राप्त हो सके.

AML Full Form – Anti Money Laundering

अवैध तरीके से लोग जो धन प्राप्त करते है Anti Money Laundering उसके स्रोतों को छुपाने की एक कला होती है.

AML क्या है

कई लोग अपने देखा होगा की अवैध रूप  से धन कमाते है व उनके स्रोतों को छुपाना ही इसकी एक कला होती है इसके माध्यम से किसी भी काले धन को या आपराधिक धन को वैध धन के रूप में  बदलकर दिखाया जाता है इस  प्रकार के काले धन को टेक्स की चोरी, भ्रस्टाचार, नशीले पदार्थ की सौदेबाजी व इस प्रकार के अन्य कई अलग  अलग कार्य के माध्यम से कमाया जाता है.

इस प्रकार के काले धन को वैध बनाने के लिए कई प्रकार के अलग अलग तरीके होते है जिसके माध्यम से किसी भी प्रकार के काले धन को वैध बनाया जाता है यह सरल और जटिल दोनों प्रकार की तकनीकी होती है अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने सन् 1996 में अनुमान लगाया था की विश्वभर में वैश्विक अर्थव्यवस्था के कुल 2 से 5 प्रतिशत हिस्सों में काले धन को वैध धन बनाने के मामले शामिल थे.

हाल में काला धन सभी देश की सरकारों के लिए एक बहुत ही बड़ी चुनौती बन चूका है व हर देश की सरकार इसके रोकथाम के लिए कई अलग अलग प्रकार के प्रयास भी करती है वही भारत में भी काले धन के कारण सरकार को कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है जिस वक्त एफएटीएफ का निर्माण हुआ था तब इसने भी यही माना था की काले धन को वैध धन बनाने की मात्रा का सही अनुमान लगाना नामुमकिन है व इसी कारन से एफएटीएफ ने इससे सम्बंधित किसी भी प्रकार के आंकड़े प्रकाशित नहीं किया थे.

मनी लॉन्ड्रिंग कैसे किस प्रकार की होती है

लांडरिंग हमेशा वो ही व्यक्ति करता है जो की पैसे की हेरफेर करता है व महानिवेश ऑयल्स एंड फूड्स प्राइवेट लिमिटेड बनाम प्रवर्तन निदेशालय के मामले में हाई कोर्ट दिल्ली द्वारा बताया गया था की मनी लॉन्ड्रिंग तीन प्रकार की होती है.

  • प्लेसमेंट (Placement)
  • लेयरिंग (layering)
  • एकीकरण (Integration)

Placement – इसमें मनी लॉन्ड्रिंग करने वाले लोग काले धन को किसी न किसी प्रकार से वित्तीय संस्थानों में नकद जमा करवाते है.

layering – इसमें मनी लॉन्ड्रिंग करने वाले व्यक्ति किसी न किसी प्रकार के बैंक खातों के साथ छेड़छाड़ कर के अपनी इनकम को छुपा लेते है.

Integration – इसमें अवैध धन को वैध बनाने के लिए लोग बड़ी कंपनी में निवेश कर के, प्रॉपर्टी खरीदकर या महंगे सामान आदि खरीदकर अपंने काले धन को वैध बनाने का प्रायस करते है.

मनी लॉन्ड्रिंग कैसे की जाती है

मनी लॉन्ड्रिंग करने के कई सारे अलग अलग तरीके होते है जिसके माध्यम से लोग मनी लॉन्ड्रिंग करते है हम आपको कुछ मुख्य कारण बता रहे है जिसके माध्यम से लोग मनी लॉन्ड्रिंग का कार्य करते है.

फर्जी कंपनिया – जो लोग मनी लॉन्ड्रिंग करते है वो फर्जी कंपनी बनाते है व उसमे लोग अवैध धन को वैध बनाने का कार्य करते है इसमें वे कंपनी की बैलेंस शीट में करोडो रूपए का लेनदेन दिखा देते है व इस प्रकार की फर्जी कम्पनिया केवल कागजो पर ही चलती है.

प्रॉपर्टी खरीदना – कई लोग अपने काले धन की वैध धन के रूप में दिखने के लिए महँगी प्रॉपर्टी  खरीदते है व घर आदि खरीदते है व टेक्स के बचने के लिए उनकी कीमत बहुत ही कम बताते है.

विदेशी खाते – अधिकांश लोग मनी लॉन्ड्रिंग के लिए विदेश में खाते खुलवाते है व ऐसे स्थान पर खाते खुलवाते है जहा पर जांच एजेंसी के पास उनकी सम्पति की जाँच करने का कोई भी अधिकार न हो वहां पर अधिकांश लोग अपने काले धन को जमा करवाते है उदहारण के लिए आप स्विट्जरलैंड  को देख सकते है.

Calculation – इस आर्टिकल में हमने आपको AML Full Form क्या होता है व AML क्या है इसके बारे में जानकारी देने का प्रयत्न किया है हमे उम्मीद है की आपको हमारी बताई जानकारी जरूर पसंद आयी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसको अपने मित्रो के साथ शेयर जरूर करें व इससे सम्बंधित आप किसी भी प्रकार का सवाल आदि पूछना चाहते है तो कमेंट के माध्यम से भी बता सकते है.

पिछला लेखबेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना क्या हैं और उसमे आवेदन कैसे करे
अगला लेखBajaj Card EMI क्या है व ये कैसे बनाये हिंदी में जानकारी

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें