एयर होस्टेस कैसे बनें? आवश्यक योग्यता, चयन प्रक्रिया और वेतन

आज हम आपको एयर होस्टेस कैसे बनें इसके बारे में बताने जा रहे है। अक्सर हर व्यक्ति का सपना होता है की वो अपने एक बेहतरीन करियर बनाये, वही बहुत से लोग एयर होस्टेस के रूप के अपना करियर बनना चाहते है लेकिन सही जानकारी पता न होने के कारण वो इस क्षेत्र में नौकरी प्राप्त नहीं कर पाते।

एयर होस्टेस कैसे बनें

एयर होस्टेस की नौकरी बहुत ही समानजनक नौकरी मानी जाती है। इस नौकरी में आपको वेतन भी बहुत ही आकर्षक दिया जाता है इसलिए अधिकांश लोग एयर होस्टेस बनने का सपना देखते है। अगर इस एयर होस्टेस से जुडी विस्तृत जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो  एयर होस्टेस कैसे बनें  यह लेख ध्यान से पढ़े।

एयर होस्टेस कैसे बनें

एयर होस्टेस का कार्य बहुत ही रोमांचक और चुनौतीपूर्ण कार्य माना जाता है। इस पोस्ट पर नौकरी प्राप्त करने के बाद आपको अलग अलग देशो में यात्रा करने का मौका मिल जाता है और आपको विभिन्न संस्कृति के लोगों से मिलने का अवसर मिलता है।

एयर होस्टेस बनने के लिए योग्यता

एयर होस्टेस बनने के लिए कई अलग अलग योग्यता रखी गयी है जिसे आपको पूरा करना अनिवार्य है। इस पद के लिए निम्न प्रकार से योग्यता रखी जाती है:

  • आवेदक कम से कम 12वीं उतीर्ण होना चाहिए।
  • आपकी उम्र 17 से 26 साल के बीच होनी चाहिए।
  • आपकी ऊंचाई कम से कम 157 सेंटीमीटर होनी चाहिए।
  • आपकी आंखों की रोशनी अच्छी होनी चाहिए।
  • आप शारीरिक रूप से स्वस्थ और फिट होनी चाहिए।
  • आप अविवाहित होनी चाहिए।

एयर होस्टेस बनने का तरीका

एयर होस्टेस बनने के लिए, आपको एक एयरलाइन कंपनी द्वारा आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम में भाग लेना होगा। यह प्रशिक्षण सामान्यत 6 सप्ताह से लेकर 12 सप्ताह तक चलता है। इसमें आपको सुरक्षा, सेवा और आपातकालीन प्रक्रिया के बारे में प्रशिक्षण दिया जाता है। एयर होस्टेस बनने के लिए आपको निम्न चरणों का पालन करना होगा।

एयर होस्टेस का कोर्स करें

जब आप बाहरवीं उतीर्ण कर लेते है तो इसके बाद आपको एयर होस्टेस बनने के लिए इससे जुडा कोर्स करना होता है। हाल में कई अलग अलग संस्थान एयर होस्टेस के लिए कोर्स करवाती है। इस कोर्स की अवधि 1 वर्ष से लेकर 3 वर्ष तक हो सकती है, जब आप इस को पूरा कर लेते है तो इसके बाद आप एयर होस्टेस के लिए आवेदन करने योग्य माने जायेगे।

आवेदन जमा करें

एयर होस्टेस बनने के लिए सबसे पहले तो आपको इसमें ऑनलाइन आवेदन करना होता है। इसके लिए समय समय पर एयरलाइन कंपनी के द्वारा आवेदन पत्र जारी किये जाते है जिसमे आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते है।

साक्षात्कार दें

जब आप इसमें आवेदन करते है तो इसके बाद आपको साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है। इसमें आपके व्यक्तित्व, कौशल, और अनुभव का मूल्यांकन किया जाएगा। ध्यान रखे की एयर होस्टेस बनने के लिए आपको साक्षात्कार में सफलता प्राप्त करनी आवश्यक है।

प्रशिक्षण प्राप्त करें

जब आप साक्षात्कार में सफलता प्राप्त कर लेते है तो इसके बाद आपको प्रशिक्षण के लिए बुलाया जाता है। इसमें आपको कुछ सप्ताह या महीने तक प्रशिक्षण दिया जाता है। जब आप इस प्रशिक्षण को पूरा कर लेते है तो इसके बाद आपको सम्बंधित पद पर नियुक्ति प्रदान की जाती है।

जब आपको एयर होस्टेस के पद पर नौकरी मिल जाती है तो इसके बाद आपको शुरुआत में ट्रेनिंग फ्लाइट पर अनुभवी एयर होस्टेस के साथ कार्य करना होता है और इस पद पर कार्य करने का पूरा अनुभव प्राप्त करना होता है।

एयर होस्टेस बनने के बाद जिम्मेदारियां

जब आप एयर होस्टेस बन जाते है तो इसके बाद आपके ऊपर कई तरह की जिम्मेदारियां होती है, जो की निम्न प्रकार से है:

  •  यात्रियों को सुरक्षा प्रदान करना।
  • यात्रियों को आरामदायक यात्रा करने में मदद करना।
  • यात्रियों के लिए पेय और भोजन की व्यवस्था करना।
  • यात्रियों को विमान के बारे में जानकारी प्रदान करना।
  • आपातकालीन स्थिति में यात्रियों की मदद करना।
  • यात्रियों की समस्या हल करने में मदद करना।

एयर होस्टेस बनने के फायदे

एयर होस्टेस बनने के कई अलग अलग प्रकार के फायदे होते है। हम आपको इसके कुछ मुख्य फायदे बता रहे है जो की निम्न प्रकार से है:

  • दुनियाभर में निशुल्क यात्रा करना।
  • विभिन्न संस्कृति के लोगो से मिलना।
  • सम्मानजनक और बेहतरीन रोजगार।
  • सामाजिक सुरक्षा प्राप्त होना।
  • कई प्रकार के बीमा लाभ मिलना।

इस प्रकार से एयर होस्टेस को कई तरह के अलग अलग लाभ दिए जाते है। इन्हें जो लाभ दिए जाते है वो सभी लाभ एयरलाइन कंपनी के द्वारा ही दिए जाते है।

एयर होस्टेस का वेतन

एयर होस्टेस बनने के बाद आपको कितना वेतन दिया जा सकता है यह उस एयरलाइन कंपनी के ऊपर निर्भर करता है जिसमे आप कार्य कर रहे है। सामान्यत एयर होस्टेस बनने के बाद आपको 20 हजार से लेकर 50 हजार रूपए प्रतिमाह तक का वेतन दिया जाता है एवं यह वेतन आपके अनुभव के आधार पर बढ़ता रहता है।