नमस्कार मित्रो आज हम आपको Agriculture Officer Kaise Bane इसके बारे में बताने वाले है कई लोगो को इसके बारे में जानकारी नही होती की हम किस तरह से एग्रीकल्चर अधिकारी बन सकते है व इसके लिए हमे क्या करना होता है तो इसकी पूरी जानकारी हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताने वाले है ताकि आपको एग्रीकल्चर अधिकारी बनने की पूरी जानकारी प्राप्त हो सके.

 Agriculture Officer Kaise Bane

एग्रीकल्चर अधिकारी बनने के लिए आपको कई बातो को ध्यान में रखना होता है व यह बेहद ही जिम्मेदारी वाली पोस्ट होती है इस कारण से इस पद पर नौकरी पाने के लिए आपको कड़ी मेहनत करनी होगी क्युकी जब भी इसमें आवेदन आते है तो रिक्त पदों की तुलना में कई गुना अधिक लोग इसमें आवेदन करते है ऐसे में आपको एग्रीकल्चर अधिकारी बनने के लिए कड़ी मेहनत करने की जरूरत पडती है एवं इससे जुडी सम्पूर्ण जानकारी के लिए आप Agriculture Officer Kaise Bane यह आर्टिकल ध्यान से पढ़े.

Agriculture Officer Kaise Bane

भारत कृषि प्रधान देश है जहां पर अधिकांश लोग कृषि के द्वारा अपना जीवन यापन करते है एवं कृषि से जुड़े कार्य में विकास लाने और किसानो की सहायता के लिए भारत सरकार द्वारा अधिकारियो की नियुक्ति की जाती है जो कृषि से जुडी सही जानकारी किसानो तक पहुचता है और उपज में किस तरह से बढौतरी की जा सकती है इसके बारे में किसानो को समझाते है ताकि किसान ज्यादा से ज्यादा उपज प्राप्त कर सके.

एग्रीकल्चर अधिकरी बनने के लिए योग्यता

आप एग्रीकल्चर अधिकरी बनने के लिए आवेदन करना चाहते है तो सबसे पहले आपको मान्यताप्राप्त बोर्ड से बाहरवी उतीर्ण कर लेनी है इसके बाद आपको एग्रीकल्चर के विषय में किसी भी मान्यताप्राप्त विश्वविधालय से स्नातक उतीर्ण कर लेना है उसके बाद ही आप इसमें आवेदन कर सकते है अगर आपने एग्रीकल्चर में इंजीनियरिंग की हुई है तो भी आप एग्रीकल्चर अधिकारी बनने के लिए आवेदन कर सकते है.

एग्रीकल्चर अधिकारी बनने के लिए उम्र सीमा

इस पद पर आवेदन करने के लिए सभी वर्गों की अलग अलग उम्र सीमा निर्धारित की गयी है इसमें आवेदन करने के लिए आपकी न्युनतम उम्र 20 वर्ष एवं अधिकतम उम्र 30 वर्ष तक होनी चाहिए व आरक्षित वर्गों को उम्र में नियमानुसार छुट देने का भी प्रावधान होता है.

एग्रीकल्चर अधिकारी के लिए आवेदन करें

आपको एग्रीकल्चर अधिकारी बनने के लिए सबसे पहले इसमें आवेदन करना होता है इसमें आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते है व समय समय पर इस पद के लिए विज्ञाप्ति जारी होती रहती है इसकी जानकारी आप रोजगार समाचार या सोशल मीडिया आदि के माध्यम से प्राप्त कर सकते है जब भी इसकी विज्ञप्ति जारी होती है तो आप उसमें ऑनलाइन आवेदन करके इसकी परीक्षा में सम्मिलित हो सकते है और एक एग्रीकल्चर अधिकारी बन सकते है व इसमें आवेदन करने के बाद आपको 3 अलग अलग चयन प्रक्रिया से गुजरना होता है जो निम्न प्रकार से है.

  • लिखित परीक्षा  – आवेदन करने के बाद सभी आवेदनकर्ता को सबसे पहले लिखित परीक्षा के लिए बुलाया जाता है इसमें आपके दो पेपर होते है पहले पेपर 1 होगा इसके बाद पेपर 2 होगा एवं आपको दोनों परीक्षा में सफल होना जरुरी है दोनों परीक्षा में उतीर्ण होने के बाद ही आप अगले चरण में शामिल हो सकते है.
  • साक्षात्कार – जब आप लिखित परीक्षा में सफल हो जाते है तो इसके बाद आपको साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है इसमें एक पेनल के सामने आपका इंटरव्यू लिया जाता है व आपके प्रदर्शन के आधार पर आपको इसमें अंक प्रदान किये जाते है.

दोनों चयन प्रक्रिया में आपको जो अंक प्राप्त होते है उसके आधार पर एक मेरिट जारी की जाती है व उस मेरिट में आपको जो अंक प्राप्त होते है उसके आधार पर आपका चयन एग्रीकल्चर अधिकारी पद के लिए किया जाता है.

एग्रीकल्चर अधिकारी का वेतन

यह अधिकारी लेवल का पद होता है इस कारण से इस पद पर आपको वेतन भी काफी अच्छा दिया जाता है इस पद पर आपको शुरुआत में 25,000 रूपये से लेकर  80,000 रूपए तक का वेतन दिया जाता है व इसके साथ ही महगाई भत्ता, यात्रा भत्ता आदि इस तरह की कई सुविधाए भी प्रदान की जाती है.

एग्रीकल्चर अधिकारी के कार्य

एक एग्रीकल्चर अधिकारी को कई तरह के अलग अलग कार्य करने होते है इनके सभी कार्य के बारे में बताना काफी मुश्किल है पर हम आपको इनके कुछ मुख्य कार्य के बारे में बताने वाले है जिसके बारे में आपको जानकारी होनी आवश्यक है एवं यह कार्य निम्न प्रकार के है.

बेकिंग फिल्ड में कार्य करना – एग्रीकल्चर अधिकारी बनने के बाद आपको बैंकिंग से जुड़े कार्य भी करने होते है इसमें आपको बैंक कृषि क्षेत्र में क्या क्या कार्य कर रहा है, बैंक किसानो को कौनसी सुविधाए उपलब्ध करवा रहा है, किसानो के लोन की कौन कौनसी सुविधाए है इन सब के बारे में लोगो तक जानकारी पहुचने का कार्य एग्रीकल्चर अधिकारी के द्वारा किया जाता है.

लोन को डिस्ट्रीब्यूट करना  – अगर किसानो को खेती के लिए लोन चाहिए तो बैंक द्वारा उस लोन को किसानो के बिच डिस्ट्रीब्यूट करने का कार्य एग्रीकल्चर अधिकारी को करना होता है.

लोन रिव्यू करना – बैंक किसान को लोन देता है तो इससे पहले एग्रीकल्चर अधिकारी द्वारा लोन का रिव्यू किया जाता है की किसान लोन की राशि चुकाने में समर्थ है या नहीं एवं क्या लोन न चुकाने की स्थिति में किसान का लोन माफ़ हो सकता है या नहीं इस तरह की जाँच इनके द्वारा की जाती है.

अपने सीनियर को रिपोर्ट देना – एग्रीकल्चर अधिकारी कोई भी काम करता है एवं उस काम का जो भी रिजल्ट आता है उसकी पूरी रिपोर्ट अपने सीनियर अधिकारी को देनी होती है.

इस तरह से इन्हें कई अलग अलग कार्य करने होते है एवं इनका अधिकांश कार्य कृषि और किसानो से जुड़ा होता है इस पद पर आपको ऑफिस वर्क और फिल्ड वर्क दोनों तरह के कार्य करने होते है.

Calculation – इस आर्टिकल में हमने आपको Agriculture Officer Kaise Bane इसके बारे में जानकारी दी है हमे उम्मीद है आपको हमारी बताई जानकारी उपयोगी लगी होगी अगर आपको जानकारी अच्छी लगे तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर जरुर करें और इससे जुडा किसी भी तरह का सवाल पूछना चाहे तो आप हमे कमेंट करके बता सकते है.

पिछला लेखETC Full Form in Hindi : ETC क्या होता हैं पूरी जानकारी
अगला लेखEntrepreneur Kaise Bane : सफल Entrepreneur कैसे बनते है

अपना सवाल यहाँ पूछे

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें